होप मिशन : संयुक्त अरब अमीरात का पहला मंगल मिशन

Sansar LochanScience TechLeave a Comment

संयुक्त अरब अमीरात (UAE) ने हाल ही में अपने होप  मिशन  (Hope Probe Mission) को सफलतापूर्वक लॉन्च किया. यह मिशन अरब देश का पहला इंटरप्लेनेटरी मिशन है. यह एक मंगल मिशन है. इस मिशन को पिछले सप्ताह ही लांच किया जाना था पर खराब मौसम के कारण इसका प्रक्षेपण नहीं हो सका था. रविवार को होप प्रोब ने जापान के … Read More

LiDAR क्या है और यह कैसे काम करता है?

Sansar LochanScience TechLeave a Comment

आजकल पुरातत्त्ववेत्ता अपने शोध के लिए LiDAR डाटा का प्रयोग कर रहे हैं. इस डाटा से वे लेजर प्रकाश का प्रयोग कर के उत्तम रेजोल्यूशन वाले मानचित्र तैयार करते हैं. आइये जानते हैं कि यह क्या है और कैसे काम करता है? LiDAR क्या है? LiDAR का पूरा नाम है – Light Detection and Ranging. LiDAR दूर से पृथ्वी पर … Read More

ओवर द टॉप – OTT मीडिया सेवा क्या है?

Richa KishoreScience TechLeave a Comment

COVID-19 के प्रकोप के कारण सिनेमाघर बंद होने की स्थिति में मलयालम फिल्मों को ऑनलाइन (over-the-top – OTT) दिखलाने की चर्चा इन दिनों हो रही है, परन्तु अधिकांश फिल्म निर्माता इस प्रस्ताव को पसंद नहीं कर रहे हैं. ज्ञातव्य है कि कई फ़िल्में सिनेमाघरों में आने वाली थीं, परन्तु तीन महीनों से कोई नई फिल्म प्रदर्शित नहीं हुई है. इस … Read More

बिग बैंग न्यूक्लियोसिंथेसिस – लिथियम-रिच नामक दैत्याकार तारे

Richa KishoreScience TechLeave a Comment

भारत सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग के अधीनस्थ भारतीय खगोल भौतिकी संस्थान (Indian Institute of Astrophysics – IIA) के शोधकर्ताओं ने पिछले दिनों लिथियम-रिच नामक सैकड़ों दैत्याकार तारों (Li-rich giant stars) की खोज की है. शोधकर्ताओं ने इन तारों को केन्द्रीय हीलियम-बर्निंग तारों (central He-burning stars) अर्थात् रेड क्लब दैत्याकार तारों (red clump giants) से जोड़ा है और इस … Read More

Tribo E मास्क – ट्राइबोइलेक्ट्रिक प्रभाव पर काम करने वाला कोरोना मास्क

Richa KishoreScience TechLeave a Comment

Tribo-E masks and triboelectricity बेंगलुरु में स्थित विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग के स्वायत्त संस्थान नैनो एवं मृदु पदार्थ विज्ञान केंद्र (Centre for Nano and Soft Matter Sciences – CeNS) के शोधकर्ताओं ने TriboE नामक मास्क बनाने की एक पद्धति निकाली है. ऐसे कोरोना मास्क में संक्रमण को रोकने के लिए विद्युत आवेश होते हैं. परन्तु इसके लिए किसी बाहरी ऊर्जा … Read More

GISAID – समस्त इन्फ्लुएंजा डाटा को साझा करने से सम्बंधित वैश्विक पहल

Richa KishoreScience TechLeave a Comment

Global Initiative on Sharing All Influenza Data (GISAID) पुणे में स्थित राष्ट्रीय विषाणु विज्ञान संस्थान (National Institute of Virology) ने GISAID अर्थात् समस्त इन्फ्लुएंजा डाटा को साझा करने से सम्बंधित वैश्विक पहल के साथ नए कोरोना वायरस (SARS-CoV-2) की 9 सम्पूर्ण जीनोम शृंखलाओं को साझा किया है. पृष्ठभूमि ज्ञातव्य है की मार्च के आरम्भ में ही भारत कोविड 19 की … Read More

साईटकिन स्टॉर्म – Cytokine Storm

Richa KishoreScience TechLeave a Comment

कोविड-19 एक नए प्रकार के कोरोना वायरस से उत्पन्न एक रोग है. इस रोग के कई संभव दुष्प्रभाव हो सकते हैं जिनमें एक साईटकिन स्टॉर्म (cytokine storm) है जिसकी चिंता वैज्ञानिकों को सता रही है. Cytokine Storm क्या है? साईटकिन स्टॉर्म का अर्थ है प्रतिरोधक कोषों और उनके सक्रिय यौगिकों (cytokine) का आवश्यकता से अधिक उत्पादन. जब किसी फ्लू का संक्रमण … Read More

टेक्नोलॉजी नवाचार हब (TIH) और NM-ICPS का कार्यान्वयन

Richa KishoreScience TechLeave a Comment

IIT मंडी को टेक्नोलॉजी इनोवेशन हब (Technology Innovation Hub – TIH) स्थापित करने के लिए विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (DST) ने 7.25 करोड़ रुपये की स्वीकृति दी है. यह धनराशि अंत:शाखीय साइबर-भौतिक प्रणालियों से सम्बंधित राष्ट्रीय मिशन (NM-ICPS) के अन्दर मुहैया की गई है. टेक्नोलॉजी नवाचार हब (TIH) के मुख्य कार्य यह विद्यालयों, महाविद्यालयों और उन्नत तकनीकी प्रशिक्षण संस्थानों के … Read More

क्रिप्टोकरेंसी पर रोक लगाने वाले RBI के सर्कुलर को SC ने निरस्त किया

Richa KishoreScience TechLeave a Comment

सर्वोच्च न्यायालय ने हाल ही में बैंकिंग लेनदेन में क्रिप्टोकरेंसी और बिटक्वाइन आदि पर पूर्णतः रोक लगाने वाले भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के सर्कुलर को निरस्त कर दिया है. इस प्रकार अब सर्वोच्च न्यायालय ने क्रिप्टोकरेंसी में ट्रेड की स्वीकृति प्रदान कर दी है.  पृष्ठभूमि RBI ने 6 अप्रैल, 2018 को एक सर्कुलर से निर्देश जारी किया था कि इसके … Read More

गूगल का स्टेशन वाई-फाई कार्यक्रम क्या है और यह क्यों बंद किया जा रहा है?

Sansar LochanGovernance, Science TechLeave a Comment

 Google’s Station WiFi Programme Explained in Hindi पाँच वर्ष पहले भारत के 400 व्यस्ततम रेलवे स्टेशनों पर निःशुल्क सार्वजनिक वाई-फाई लगाने का “स्टेशन” नामक एक कार्यक्रम गूगल ने चलाया था. अब उसने निश्चय किया है कि वह धीरे-धीरे पूरे विश्व में इस सेवा को समाप्त कर देगा. परन्तु इससे भारतीयों को हानि नहीं होगी क्योंकि गूगल का ही भागीदार RailTel … Read More