चैतन्य महाप्रभु के विषय में जानकारी – Chaitanya Prabhu

Dr. SajivaBiography, History, Medieval History2 Comments

चैतन्य महाप्रभु

चैतन्य महाप्रभु (Chaitanya Prabhu) के विषय में आज संक्षिप्त जानकारी (Brief Information), उनकी जीवनी (biography in Hindi) के विषय में हम चर्चा करेंगे. महाप्रभु वैष्णव सम्प्रदाय संतों में सर्वाधिक महान और लोकप्रिय संत थे. चैतन्य महाप्रभु की जीवनी Biography उनका जन्म 18 फरवरी, 1486 ई. को हुआ था. उनके पिता का नाम जगन्नाथ मिश्र और माता का नाम शची देवी था. … Read More

SSC CHSL 2017 Questions : जनसंख्या और नगरीकरण

Sansar LochanQuiz, SSC8 Comments

SSC CHSL (10+2) 2017 के लिए कुछ सवाल (questions/model test paper) आपको practice के लिए दे रहा हूँ. ये model test आपके परीक्षा की तैयारी में काम आयेंगे. ये प्रश्न जनसंख्या, जनगणना 2011 और नगरीकरण से सम्बंधित हैं. सवालों का level आसान (easy) है. अपने मार्क्स को कमेंट सेक्शन में जरुर शेयर करें. Summary of Quiz First General Election in … Read More

SSC CHSL 2017 Questions – भारतीय ऐतिहासिक और दर्शनीय स्थल

Sansar LochanQuiz, SSC7 Comments

SSC CHSL (10+2) 2017 के लिए कुछ सवाल (questions) आपको practice के लिए दे रहा हूँ. ये model test आपके परीक्षा की तैयारी में काम आयेंगे. ये प्रश्न भारत के प्रसिद्ध ऐतिहासिक और दर्शनीय स्थल से सम्बंधित हैं. सवालों का level आसान है. अपने मार्क्स को कमेंट सेक्शन में जरुर शेयर करें. Summary of Quiz सालरजंग संग्राहलय (Salar Jung Museum) … Read More

अमीर खुसरो की रचनाएँ – Amir Khusro Books in Hindi

Dr. SajivaHistory, Medieval History2 Comments

Amir_Khusro

दिल्ली सल्तनतकालीन अन्य लेखकों में अमीर खुसरो का नाम सर्वाधिक उल्लेखनीय है. जबकि सही अर्थों में वह इतिहासकार नहीं था. उनका जन्म 1253 ई. में हुआ था. वह एक ऐसे परिवार में पैदा हुए थे जिसका कई पीढ़ियों से राजदरबार से घनिष्ठ सम्बन्ध था. वह कैकूबाद, जलालुद्दीन खिलजी, अलाउद्दीन खिलजी, मुबारकशाह व गयासुद्दीन तुगलक के अंतर्गत शाही सेवा में रहे. … Read More

मराठों का उत्थान – Rise of Marathas and its Causes

Dr. SajivaHistory, Medieval History1 Comment

महाराष्ट्र में रहने वाले और मराठी बोलने वाले भारतवासी मराठा कहलाते हैं. महाराष्ट्र प्रदेश एक त्रिभुजाकार पठार और चारों ओर पहाड़ों से घिरा हुआ है. यह प्रदेश पहाड़ों, वनों और अनेक स्थानों पर ऊबड़-खाबड़ होने के कारण बड़ा दुर्गम है. महाराष्ट्र की भौगोलिक परिस्थितियों ने ही मराठों की वीर, परिश्रमी, सुदृढ़ और शक्तिशाली बना दिया. यहाँ की पथरीली, कम उपजाऊ … Read More

[Answerkey] UPSC Pre 2017 का History Portion Analysis

Sansar LochanAnswer Keys, Culture, History4 Comments

आप यदि हमारे ब्लॉग के रेगुलर विजिटर हैं तो आप जानते ही होंगे कि सजीव सर, जो खुद एक सेवानिवृत प्रशासनिक ऑफिसर हैं, इतिहास और कल्चर (History and Culture) पर रोज़ एक आर्टिकल आपके सामने परोसते रहते हैं जो छात्रों के बीच बहुत ही popular हो रहा है. हम दोनों ने मिलकर यह कुछ दिनों पहले यह decide किया कि … Read More

शेल और शेल गैस का निर्माण : Shale Gas and its Formation

Sansar LochanGeography, विश्व का भूगोल5 Comments

शेल और शेल गैस क्या हैं? शेल बारीक कण वाली तलछटी चट्टाने हैं जो पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस के समृद्ध स्रोत होती हैं. शेल गैस वह प्राकृतिक गैस (natural gas) है जो शेल चट्टानों के बीच फंसी होती है. सामान्य प्राकृतिक गैस और शेल गैस के निर्माण में अंतर पृथ्वी के अन्दर जमा सामान्य प्राकृतिक गैस (conventional natural gas) धीरे-धीरे … Read More

Basava Vachana Deepthi केस – Free Expression पर प्रतिबंध

Sansar LochanEthics2 Comments

सरकार ने माते महादेवी (Mate Mahadevi) नामक लेखिका द्वारा रचित एक पुस्तक पर प्रतिबंध लगाया था जिसका नाम “Basava Vachana Deepthi” था. यह मामला सर्वोच्च न्यायलय तक गया जहाँ हाल ही में इस प्रतिबंध की पुष्टि की गई. Basava Vachana Deepthi घटनाक्रम Basava Vachana Deepthi पर कर्नाटक सरकार ने 1998 में प्रतिबंध लगाया था. इसका कारण यह दिया गया था … Read More

भारत में वर्षा का वितरण और दक्षिण-पश्चिमी मानसून

Sansar LochanGeography, भारत का भूगोल2 Comments

मध्य जून (आषाढ़) से मौसम एकाएक बदलने लगता है. आकाश बादलों से घिरने लगता है और दक्षिण-पश्चिमी पवन चलने लगते हैं. ये पवन “दक्षिण-पश्चिमी मानसून” के नाम से प्रसिद्ध हैं क्योंकि मूलतः ये दक्षिण-पश्चिम से शुरू होते हैं. इस मानसून के आते ही तापक्रम में काफी गिरावट आ जाती है, अर्थात् तापक्रम घटने लगता है. मगर वायु में नामी बढ़ … Read More

तलानोआ संवाद – Talanoa Dialogue 2017 (COP23)

RuchiraClimate Change, Environment and Biodiversity2 Comments

16 नवम्बर, 2017 को जर्मनी के बॉन (Bonn) में अंतर्राष्ट्रीय जलवायु परिवर्तन सम्मलेन (UNFCCC) का आयोजन किया गया था. अंतर्राष्ट्रीय जलवायु परिवर्तन (Climate Change Conference) या COP23 की अध्यक्षता फिजी सरकार (Fiji Government) ने की थी. इस सम्मलेन के अंत में तालानोआ संवाद (Talanoa Dialogue) के लिए एक कार्ययोजना प्रस्तुत की गई. यह कार्ययोजना वर्ष भर चलेगी जिसमें जलवायु से सम्बन्धित … Read More