उजाला योजना और राष्ट्रीय सड़क प्रकाश कार्यक्रम (SLNP)

Sansar LochanGovt. Schemes (Hindi)Leave a Comment

भारत सरकार की योजना उजाला अर्थात् Unnat Jyoti by Affordable LEDs for All तथा राष्ट्रीय सड़क प्रकाश कार्यक्रम (LED Street Lighting National Programme – SLNP) के शुरू हुए पाँच वर्ष बीत चुके हैं.

अब तक उजाला में हुई प्रगति

इस योजना के अंतर्गत 36.13 करोड़ LED बल्ब बाँटे जा चुके हैं और इसके कारण प्रत्येक वर्ष 38 मिलियन टन ग्रीन हाउस गैस का उत्सर्जन घटा है.

SLNP का प्रदर्शन

विगत पाँच वर्षों में इस योजना के अंतर्गत 1.03 करोड़ सड़कों पर स्मार्ट LED बत्तियाँ लगाई जा चुकी हैं. इस पहल से न केवल 4.8 मिलियन टन ग्रीन हाउस गैस का उत्सर्जन कम हुआ है, अपितु 13,000 नौकरियों का भी सृजन हुआ है.

उजाला योजना क्या है?

  • यह कम दाम पर LED के बल्ब वितरित करने की योजना है जो केन्द्रीय ऊर्जा मंत्रालय के अधीनस्थ लोक उपक्रमों के संयुक्त वेंचर एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड (EESL) के द्वारा चलाई जा रही है.
  • इसका उद्देश्य प्रकाश की कारगर व्यवस्था करना, कम खर्च वाले LED बल्बों के बारे में लोगों की जानकारी को बढ़ाना और पर्यावरण की रक्षा करना है.
  • उजाला भारत सरकार की एक मूर्धन्य योजना ही जो प्रयास करती है कि भारत के हर घर में लोग LED बल्ब लगायें जिससे बिजली का खर्च घटे और कार्बन उत्सर्जन की दरों पर लगाम लगाया जा सके.

राष्ट्रीय सड़क प्रकाश कार्यक्रम क्या है?

  • SLNP सरकार का एक कार्यक्रम है जिसका उद्देश्य सड़कों पर लगाईं जाने वाली साढ़े तीन करोड़ पारम्परिक बत्तियों को हटा कर वहाँ पर कम बिजली खपत वाली LED बत्तियां लगाना है.
  • यह परियोजना देश के 28 राज्यों एवं संघीय क्षेत्रों में लागू की गई है. इस परियोजना को लागू करने के लिए एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड (EESL) नामक एक लोक ऊर्जा सेवा कम्पनी को चुना गया है जो भारत सरकार के ऊर्जा मंत्रालय के प्रशासनाधीन है.
  • परियोजना की समाप्ति पर EESL सभी राज्यों में किये गये काम का सामाजिक अंकेक्षण भी कराएगी.

SLNP के उद्देश्य

  • सड़कों पर कम बिजली खपत करने वाले LED बत्तियाँ लगा कर जलवायु परिवर्तन को धीमा करना.
  • ऊर्जा खपत को घटाना जिससे DISCOM कम्पनियों को उस समय बिजली की आपूर्ति करने में सुविधा हो जब इसकी सबसे अधिक माँग होती है.
  • LED बत्तियों की खरीद के भुगतान के लिए आर्थिक संसाधन के जुगाड़ की एक टिकाऊ व्यवस्था तैयार करना.
  • सड़कों को प्रकाशित करने में नगरपालिकाओं पर कोई अतिरिक्त आर्थिक बोझ न हो ऐसी व्यवस्था करना.

EESL क्या है?

  • एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड (EESL) भारत सरकार के NTPC लिमिटेड, ऊर्जा वित्त निगम, ग्रामीण विद्युतीकरण निगम और पॉवर ग्रिड का एक संयुक्त उपक्रम है.
  • इसकी स्थापना भारत सरकार के ऊर्जा मंत्रालय के अधीन ऐसी परियोजनाओं के कार्यान्वयन में सहयोग करने के लिए किया गया था जिनसे ऊर्जा की खपत कम-से-कम हो.

Tags : Key features and significance of UJALA scheme and Street Light National Programme (SNLP) in Hindi.

Books to buy

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.