MSF क्या होता है? Marginal Standing Facility in Hindi

Sansar LochanBanking, Economics Notes36 Comments

payment_bank

इस आर्टिकल को पढ़ने से पहले आशा है कि आपने रेपो रेट, एस.एल.आर. आदि के बारे में पढ़ लिया होगा, यदि नहीं पढ़ा है तो यहाँ क्लिक करें>> Repo rate, SLR, Reverse repo rate, CRR. आज हम MSF की बात करेंगे जिसका फुल फॉर्म है – Marginal Standing Facility. MSF भी बैंकिंग से सम्बंधित टर्म है. भारतीय रिजर्व बैंक ने अपनी मौद्रिक … Read More

M0 M1 M2 M3 M4 मुद्रा की पूर्ति (Money Supply) के मापक

Sansar LochanBanking, Economics Notes21 Comments

cheque_filling

RBI (Reserve Bank of India) को कभी-कभी यह मूल्यांकन करना पड़ता है कि अर्थव्यवस्था में मुद्रा की आपूर्ति कहाँ-कहाँ व्याप्त है? अर्थव्यवस्था में विस्तृत मुद्रा का जो स्टॉक है, वह कैसे और कहाँ circulate हो रहा है?  इस मूल्यांकन के बाद ही RBI मुद्रा आपूर्ति (money supply) को घटाने-बढ़ाने पर पॉलिसी बनाती है जिससे  उसे अर्थव्यवस्था को overall monitor करने … Read More

BASEL 3 Norms Tier 1 Tier 2 Meaning in Hindi

Sansar LochanBanking, Economics Notes9 Comments

basel_1_2_3

इस आर्टिकल में हम Basel Norms III और Tier 1 और Tier 2 के विषय में जानेंगे. शायद आपने पिछले आर्टिकल जो CRAR से सम्बंधित था, वह पढ़ लिया होगा. नहीं पढ़ा तो क्लिक करें. BASEL क्या है? What is BASEL? BASEL Switzerland के एक शहर का नाम है. BASEL norms की शुरुआत 1988 में की गयी. 2004 और 2011 में … Read More

CRAR CAR Capital to Risky Asset Ratio or Capital Adequacy Ratio in Hindi

Sansar LochanBanking, Economics Notes4 Comments

car_crar

CRAR और CAR दोनों एक ही चीज है. (Full form) Capital to Risky Asset Ratio को Capital Adequacy Ratio भी कहा जाता है.  विश्व में जब भी आर्थिक मंदी आई है उसकी बहुत बड़ी वजह बैंक का अपने औकात से अधिक लोन बाँटना मुख्य कारण रहा है. शायद आपको  September 15, 2008 में फाइनेंसियल सर्विस फर्म लेमैन ब्रदर्स  का bankrupt हो जाना … Read More

भारत में लोन के प्रकार

Sansar LochanBanking, Economics Notes204 Comments

types_of_loans_hindi

आज हम भारतीय बैंकों द्वारा दिए जाने विभिन्न लोन की चर्चा करेंगे. इंसान को लोन की जरुरत तब पड़ती है जब उसकी आवश्यकता स्वयं के द्वारा कमाए हुए पैसे से पूरी नहीं हो पाती. विभिन्न बैंक जैसे SBI, PNB, HDFC, Bank of India, Axis bank etc. आपको आपके जरुरत के हिसाब से लोन मुहैया कराती है. आज हम लोन लेने … Read More

चेक के प्रकार: Types of Cheques कितने हैं?

Sansar LochanBanking, Economics Notes65 Comments

cheque_filling

चेक क्या है- What is Cheque? चेक एक कागज़ है. है न? कागज़ ही तो है. भले ही उसकी वैल्यू लाखों की हो सकती है….पर चेक एक कागज़ ही है…ठीक नोट की तरह….पर परीक्षा में ऐसे लिखिएगा तो आपको जीरो मार्क्स मिलेंगे. परीक्षा में ऐसे लिखना होगा:—- चेक बैंक द्वारा अकाउंट होल्डर को दिया जाने वाला वह भुगतान का साधन … Read More

Types of Bank Accounts in Hindi

Sansar LochanBanking, Economics Notes36 Comments

banks_hindi

आज हम बैंक में खातों के कितने प्रकार (types of accounts in bank) होते हैं, उसके विषय में चर्चा करेंगे. बैंक के खाते चार प्रकार (four types) के होते हैं:- 1) चालू खाता – Current Account 2) बचत खाता- Savings Account 3) आवर्ती जमा खाता- Recurring Deposit Account 4) सावधि जमा खाता- Fixed Deposit Account 1. चालू खाता – Current Account … Read More

Payment Bank से सम्बंधित सभी जानकारियाँ Concept and Features

Sansar LochanBanking, Economics Notes19 Comments

payment_bank

2015 वर्ष के अगस्त महीने में RBI ने 11 संस्थाओं को पेमेंट बैंक (Payment Bank) के लिए सैधांतिक मंजूरी दी थी जिसमें बड़े-बड़े नाम थे- रिलायंस इंडस्ट्रीज, आदित्य बिड़ला, टेक महिंद्रा इत्यादि. आज हम पेमेंट बैंक है क्या उसके विषय में चर्चा करेंगे. 2013 में नचिकेत मोर (Nachiket Mor) जो स्वयं RBI के बोर्ड मेम्बर थे, उन्होंने small business और low income … Read More

Repo rate, SLR, Reverse repo rate, CRR, Deflation in Hindi

Sansar LochanBanking, Economics Notes201 Comments

rbi_sbi

फेसबुक पर मुझे चार-पाँच मैसेज मिले जिसमें लोगों ने Repo Rate, SLR, Reverse Repo Rate, CRR, Deflation के बारे में पूछा, उन्हें तो मैंने रिप्लाई किया ही पर सोचा यहाँ भी वह चिपका डालूं…. रेपो रेट, बैंक रेट, रिवर्स रेपो रेट (repo rate, bank rate and reverse repo rate) की शब्दावलियाँ (economics glossary) एक दूसरे से बहुत मिलती जुलती हैं। और किताबों, इन्टरनेट … Read More