[संसार मंथन] मुख्य परीक्षा लेखन अभ्यास – Eco-Bio-Tech GS Paper 3/Part 8

Sansar LochanEconomics Notes, Fiscal Policy and Taxation, GS Paper 3, Sansar Manthan2 Comments

सामान्य अध्ययन पेपर – 3 वित्तीय समावेशन क्या है? इसके उद्देश्य और महत्त्व की विस्तार से चर्चा करें. (250 words) अपने उत्तर में अंडर-लाइन करना है  = Green आपके उत्तर को दूसरों से अलग और यूनिक बनाएगा = Yellow यह सवाल क्यों? यह सवाल UPSC GS Paper 3 के सिलेबस से प्रत्यक्ष रूप में लिया गया है – समावेशी विकास … Read More

[Sansar Editorial] रुपये में गिरावट (Falling Rupee) के कारण, प्रभाव और उठाये जाने योग्य कदम

Sansar LochanEconomics Notes, Sansar Editorial 2018, Sector of EconomyLeave a Comment

हाल ही में भारतीय रुपये के मूल्य में गिरावट आई और यह पहली बार 71 रु./डॉलर के स्तर से भी नीचे चला गया. इस पोस्ट के जरिये हम रुपये के मूल्य में इस गिरावट के कारण को जानने की कोशिश करेंगे और इससे भारतीय अर्थव्यवस्था पर क्या प्रभाव पड़ सकता है, यह भी जानेंगे. साथ-साथ यह भी चर्चा करेंगे कि … Read More

[संसार मंथन] मुख्य परीक्षा लेखन अभ्यास – Eco-Bio-Tech GS Paper 3/Part 1

Sansar LochanEconomics Notes, GS Paper 34 Comments

सामान्य अध्ययन पेपर – 3 भारत में एंटी बैलिस्टिक मिसाइल प्रतिरक्षा प्रणाली की आवश्यकता क्यों है? एंटी बैलिस्टिक मिसाइल सिस्टम को लेकर भारत के समक्ष चुनौतियों को गिनाएँ. (250 words) अपने उत्तर में अंडर-लाइन करना है  = Green आपके उत्तर को दूसरों से अलग और यूनिक बनाएगा = Yellow यह सवाल क्यों? यह सवाल UPSC GS Paper 3 के सिलेबस … Read More

[Sansar Editorial] भारत में बैंक विलय और अधिग्रहण का इतिहास – History of Bank Mergers

Sansar LochanBanking, Economics Notes, Sansar Editorial 20186 Comments

four_bank_merger

आज हम इस आलेख में बैंक विलय के विषय में पढेंगे और जानेंगे कि भारत में बैंक विलय और अधिग्रहण का इतिहास (History of Indian Banks’ mergers) क्या रहा है. कोई भी अर्थव्यवस्था बैंक विलय के लिए कब बाध्य हो जाती है, यह भी जानने की कोशिश करेंगे. अभी Bank Merger का topic काफी चर्चा में है. PCA Framework क्या … Read More

[SES 01/2018] आर्थिक सर्वेक्षण क्या होता है और कौन बनाता है?

Sansar LochanEconomic Survey, Economics Notes6 Comments

आर्थिक सर्वेक्षण क्या है? यह एक वार्षिक दस्तावेज है जिसे केवल मुख्य आर्थिक सलाहकार (Chief Economic Advisor) द्वारा तैयार किया जाता है. आर्थिक सर्वेक्षण को बजट प्रस्तुत करने से पहले संसद में पेश किया जाता है. [हालाँकि संविधान में ऐसे नियमों का उल्लेख कहीं नहीं है] आर्थिक सर्वेक्षण: (1) अतीत की घटनाओं का वर्णन करता है, और (2) भविष्य के … Read More

बजट और आर्थिक सर्वेक्षण 2018 की Brief जानकारी

Sansar LochanBudget, Economics Notes2 Comments

बजट और आर्थिक सर्वेक्षण 2018 को लेकर काफी सारे comments आ रहे थे इसलिए मैंने सोचा कि इसके विषय में लिखना जरुरी हो गया है. दरअसल मैं इसलिए नहीं लिख रहा था क्योंकि बजट और आर्थिक सर्वेक्षण के आने से काफी सारी sites के बीच होड़ मच जाती है. फेसबुक पर, twitter पर, ब्लॉग पर हर जगह उम्दा brief highlights … Read More

केन्द्रीय बजट 2018 Highlights in Hindi

Sansar LochanBudget, Economics Notes2 Comments

budget2018_hindi

वित्तीय वर्ष 2018-19 के लिए 1 फरवरी, 2018 को लोकसभा में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने केन्द्रीय बजट (Union Budget 2018) पेश किया. इस बजट की मुख्य विशेषताएँ (highlights) हैं – नई स्वास्थ्य योजनाएँ, कृषि-आय को बढ़ाने के उपाय, रोजगार वृद्धि के लिए सरकारी ऋण की राशि में बढ़ोतरी, पेट्रोल-डीजल के excise में 2 रु. की कमी, राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और … Read More

[Sansar Editorial] सागरमाला परियोजना – जलमार्ग विकास Project

RuchiraEconomics Notes, Govt. Schemes (Hindi), Sansar Editorial 2018, Sector of Economy1 Comment

सदियों से नदियों का प्रयोग माल और जन-परिवहन के लिए किया जाता रहा है. आज भी नदियों के जरिये भारी सामानों की ढुलाई सड़क या रेल के मुकाबले सस्ती और कम प्रदूषण फैलाने वाली होती है. एक सदी पहले तक गंगा नदी भी एक व्यस्त जलमार्ग थी. रेलवे के विकास के साथ इसका प्रयोग लगभग ख़त्म ही हो गया है. … Read More

क्या है Electoral Bond Scheme? जानिये इसके Details in Hindi

Sansar LochanEconomics Notes, Finance, Sansar Editorial 20181 Comment

Electoral_Bond_Scheme

केंद्र सरकार ने चुनाव में राजनैतिक दलों के चंदों को लेकर बांड (electoral bond) की योजना का एलान किया है. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने 2 जनवरी, 2018 मंगलवार को बताया कि चुनावी बांड से राजनैतिक चंदे की वर्तमान प्रणाली में पारदर्शिता आयेगी. चलिए समझते हैं क्या है Electoral Bond Scheme? ये सब हम सरल हिंदी (Details in Hindi) भाषा में … Read More

Credit Rating Agencies क्या हैं और इनके क्या काम हैं?

Sansar LochanEconomics Notes, Finance1 Comment

credit rating agencies

नाम से ही स्पष्ट है कि Credit Rating का अर्थ कुछ इस तरह निकला जा सकता है – आपके क्रेडिट की रेटिंग. यानी कोई ऐसी संस्था है जो किसी बड़े कंपनी के मालिक के पॉकेट को check करेगी कि उसके पास कितने पैसे हैं? उसके पास पैसे की कितनी क्षमता है? पर सवाल यह उठता है कि आखिर ये संस्था … Read More