[संसार मंथन] मुख्य परीक्षा लेखन अभ्यास – Polity GS Paper 2/Part 3

सामान्य अध्ययन पेपर – 2 भारतीय राजनीति के परिप्रेक्ष्य में गठबंधन सरकार के सकारात्मक पहलुओं की चर्चा करते हुए साथ-साथ ऐसी सरकार की कमजोरियों के विषय में भी तर्क प्रस्तुत करें. (250 words)  यह सवाल क्यों? यह सवाल UPSC GS Paper 2 के सिलेबस से अप्रत्यक्ष रूप से लिया गया है – “कार्यपालिका और न्यायपालिका […]

संयुक्त राष्ट्र संघ के विषय में जानें – United Nations in Hindi

आज हम संयुक्त राष्ट्र संघ के विषय में व्यापक चर्चा करेंगे. जानेंगे इसका इतिहास, इसके उद्देश्य, इसके सिद्धांत और इसके अंगों के बारे में. ज्ञातव्य है कि संयुक्त राष्ट्र संघ (United Nations – UN) के 6 अंग हैं – महासभा, आर्थिक एवं सामाजिक परिषद्, अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय, सचिवालय एवं विशिष्ट एजेंसियाँ . वर्तमान में इसमें कुल सदस्य […]

[संसार मंथन] मुख्य परीक्षा लेखन अभ्यास – Polity GS Paper 2/Part 1

सामान्य अध्ययन पेपर – 2 “भारतीय संविधान का स्वरूप संघात्मक है, परन्तु उसकी आत्मा एकात्मक है.” स्पष्ट करें. (250 शब्द) यह सवाल क्यों? यह सवाल UPSC GS Paper 2 के सिलेबस से प्रत्यक्ष रूप से लिया गया है – “भारतीय संविधान – ऐतिहासिक अधिकार, विकास, विशेषताएँ, संशोधन, महत्त्वपूर्ण प्रावधान और बुनियादी संरचना”. सवाल का मूलतत्त्व […]

[Sansar Editorial] विशेष राज्य का दर्जा क्या होता है और यह किसे दिया जाता है?

[Sansar Editorial] विशेष राज्य का दर्जा क्या होता है और यह किसे दिया जाता है?

विशेष राज्य का दर्जा देने की प्रथा 5th pay commission के recommendation पर 1969 में प्रारम्भ की गई थी. शुरुआत में विशेष राज्य का दर्जा तीन राज्यों को दिया गया – असम, नागालैंड और जम्मू कश्मीर. आज कुल 11 राज्यों के पास विशेष राज्य का दर्जा प्राप्त है. आज हम जानेंगे कि विशेष राज्य का […]

[Sansar Editorial] Bommai Case : कर्नाटक के संदर्भ में राज्यपाल की शक्तियों की समीक्षा

[Sansar Editorial] Bommai Case : कर्नाटक के संदर्भ में राज्यपाल की शक्तियों की समीक्षा

देश के संविधान में कुछ ऐसे महत्त्वपूर्ण पद हैं जो सीधे तौर पर सरकार तो नहीं चलाते लेकिन संवैधानिक तौर पर उनकी भूमिका किसी भी पद या जिम्मेदारी से बड़ी होती है. इनमें से एक पद है है – राज्यपाल. 1960 के दशक में जब राज्यों में गठबंधन की राजनीति का उदय नहीं हुआ था […]

संसद् में विधि-निर्माण की प्रक्रिया (Law-Making Procedure)

आज हम जानेंगे कि संसद् में कानून कैसे बनता है? साधारण विधेयक मंत्रियों अथवा संसद् के निजी सदस्यों द्वारा संसद् के किसी भी सदन में रखे जा सकते हैं. इंग्लैंड की भांति भारत में भी विधेयक के तीन वाचन होते हैं, जो निम्न प्रकार हैं – प्रथम वाचन – विधेयक को प्रस्तावित करना  कुछ विषयों […]

आयुष्मान भारत योजना 2018 के बारे में जानें in Hindi

आयुष्मान भारत योजना 2018 के बारे में जानें in Hindi

आज इस पोस्ट में हम आयुष्मान भारत कार्यक्रम के विषय में बात करने वाले हैं in Hindi. 2018-19 के केन्द्रीय बजट में सरकार ने दो बड़ी योजनाएँ घोषित की हैं जो आयुष्मान भारत कार्यक्रम (Ayushman Bharat Programme) के अन्दर आयेंगे. इस कार्यक्रम का उद्देश्य प्राथमिक, द्वितीयक और तृतीयक स्वास्थ्य देखभाल की व्यवस्था को उत्तम बनाना […]

[Sansar Editorial] E-Way Bill क्या है? यह कैसे Generate किया जा सकता है?

[Sansar Editorial] E-Way Bill क्या है? यह कैसे Generate किया जा सकता है?

GST परिषद् ने 16 दिसम्बर को अपनी बैठक में 1 जून, 2018 तक E-way bill को देश भर में लागू करने का फैसला किया था. अब इसका trial शुरू हो गया है. देश के तमाम राज्यों के भीतर वस्तुओं के आवागमन के लिए E-way bill को 1 फरवरी, 2018 को लागू कर दिया जायेगा. वहीं […]

[Sansar Editorial] सागरमाला परियोजना – जलमार्ग विकास Project

[Sansar Editorial] सागरमाला परियोजना – जलमार्ग विकास Project

सदियों से नदियों का प्रयोग माल और जन-परिवहन के लिए किया जाता रहा है. आज भी नदियों के जरिये भारी सामानों की ढुलाई सड़क या रेल के मुकाबले सस्ती और कम प्रदूषण फैलाने वाली होती है. एक सदी पहले तक गंगा नदी भी एक व्यस्त जलमार्ग थी. रेलवे के विकास के साथ इसका प्रयोग लगभग […]

[Sansar Editorial] प्रवासी सांसद सम्मेलन 2018 के विषय में जानकारी

भारत सरकार ने 9 जनवरी, 2018 को प्रवासी भारतीय दिवस (Pravasi Bhartiya Diwas) का आयोजन किया. दरअसल महात्मा गाँधी 9 जनवरी के दिन ही दक्षिण अफ्रीका से 1915 में स्वदेश वापस लौटे थे. आजादी के बाद से ही बनारसी दास चतुर्वेदी ने तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरु को प्रवासी भारतीय केंद्र बनाने का सुझाव दिया था. […]

1 2 3 8