[Sansar Editorial] IPCC प्रतिवेदन में कार्बन उत्सर्जन के विषय में व्यक्त चिंताएँ

Sansar LochanClimate Change, Sansar Editorial 20191 Comment

पिछले दिनों जलवायु परिवर्तन से सम्बंधित अंतर्राष्ट्रीय पैनल (Intergovernmental Panel on Climate Change – IPCC) ने अपना प्रतिवेदन प्रस्तुत किया जिसमें कार्बन उत्सर्जन के विषय में कई चिन्ताएँ व्यक्त की गईं. IPCC प्रतिवेदन में व्यक्त चिंताएँ 2030 तक पूरे विश्व में कार्बन उत्सर्जन को 2010 वर्ष के स्तर से 45% नीचे लाना अनिवार्य होगा जिससे कि 2050 तक उत्सर्जन को … Read More

[Sansar Editorial] प्लास्टिक के बढ़ते उपयोग से प्रदूषित हो रहा पर्यावरण

Sansar LochanPollution, Sansar Editorial 2018Leave a Comment

विश्व पर्यावरण दिवस की वैश्विक मेजबानी इस बार भारत को मिली है और हमारे कन्धों पर अब दुनिया को प्लास्टिक से मुक्त बनाने की जिम्मेदारी है. आज हम प्लास्टिक के जानलेवा असर की बात करेंगे. प्लास्टिक हमारी जिंदगी का आवश्यक हिस्सा बन चुका है. प्लास्टिक ने हमारा जीवन जितना आसान किया है उतना ही इसकी वजह से हमें कई मुश्किलों … Read More

CAMPA अधिनियम एवं कोष के बारे में विस्तृत जानकारी

Sansar LochanBiodiversityLeave a Comment

भारत सरकार ने विभिन्न राज्यों को वनीकरण के लिए CAMPA कोष से 47,436 करोड़ रु. निर्गत किये हैं. CAMPA क्या है? यह एक कोष है जिसकी स्थापना 2006 में क्षतिपूरक वनीकरण के प्रबंधन के लिए की गई थी. CAMPA का पूरा नाम है –  Compensatory Afforestation Fund Management and Planning Authority (क्षतिपूरक वनीकरण कोष प्रबंधन एवं योजना प्राधिकरण). पृष्ठभूमि 2002 में … Read More

राष्ट्रीय संसाधन कार्यक्षमता नीति – National Resource Efficiency Policy

Sansar LochanPollutionLeave a Comment

राष्ट्रीय संसाधन कार्यक्षमता नीति (Draft National Resource Efficiency Policy – NREP) प्रारूप को लागू करने में हुई प्रगति को ध्यान में रखते हुए पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने इस पर मन्तव्य मानने की समयसीमा को एक महीना बढ़ा दिया है. इस नीति का उद्देश्य संसाधनों के उपयोग को इस प्रकार कार्यक्षम बनाना है कि पर्यावरण पर न्यूनतम दुष्प्रभाव … Read More

सामुद्रिक ऊर्जा और उसके प्रकार एवं संभावनाएँ

Sansar LochanEnergy2 Comments

रत सरकार ने सामुद्रिक ऊर्जा (ocean energy) को नवीकरणीय ऊर्जा (renewable energy) के रूप में घोषित करने से सम्बंधित एक प्रस्ताव को अनुमोदित कर दिया है. नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय ने इस निर्णय के आलोक में सभी हितधारकों को स्पष्ट कर दिया है कि सामुद्रिक ऊर्जा के विभिन्न रूपों, जैसे – ज्वारीय, तरंगीय, समुद्री ताप ऊर्जा परिवर्तन आदि का … Read More

[Sansar Editorial] शीतलीकरण ने बढ़ा दिया है ग्लोबल वार्मिंग – जानिये कैसे?

Sansar LochanClimate Change, Sansar Editorial 20192 Comments

पूरे संसार के लिए चौथा सबसे गरम वर्ष था. बढ़ती गर्मी के कारण अधिक से अधिक एयर कंडीशनर खरीदे जा रहे हैं. लोगों की आय भी बढ़ रही है और शहरीकरण भी तेजी से हो रहा है. इसलिए आशा की जाती है कि 2050 तक बाजार में 1.2 बिलियन से लेकर 4.5 एयर कंडीशनरों की माँग होगी. अकेले भारत में … Read More

ऊर्जा के स्रोत – नवीकरणीय और अनवीकरणीय (परंपरागत या गैर-पारम्परिक)

Sansar LochanEnergyLeave a Comment

आज हम ऊर्जा के स्रोत (sources of energy) के बारे में पढेंगे जिन्हें दो भागों में NCERT किताब ने बाँटा है – नवीकरणीय (परम्परागत) और अनवीकरणीय (गैर-पारम्परिक). चूंकि आप लोग NCERT के पुजारी हैं इसलिए मैं NCERT में दिए गये विवरण के अनुसार ही आपको समझाऊंगा. मेरी मानें तो ऊर्जा के स्रोत को कुछ इस तरह विभाजित करना चाहिए था –  पर … Read More

भारत की संकटग्रस्त पादप प्रजातियाँ और उनके आवास की स्थिति

Sansar LochanBiodiversity3 Comments

हालाँकि देश में महत्त्वपूर्ण प्रयासों से आरक्षित और संरक्षित क्षेत्र का एक मजबूत और विस्तृत संजाल तैयार किया गया है, तथापि अभी भी संरक्षित स्थलों के बाहर बहुत-सी ऐसी अद्वितीय वनस्पतियाँ और पौधे हैं जो मानवीय क्रियाओं के भारी दबाव का सामना कर रहे हैं. उच्च संकटग्रस्त पादप और उनके स्थलों को संरक्षण और पुनर्जीवन प्रदान करने के लिए कई … Read More

[Sansar Editorial] कुसुम योजना – “सोलर” कृषि से किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य

Sansar LochanEnergy, Sansar Editorial 2019Leave a Comment

भारत में किसानों को सिंचाई में कई दिक्कतों का सामना करना पड़ता है और अल्प वर्षा के कारण किसानों की फसलें नष्ट हो जाती हैं. जैसा कि हम सब जानते हैं कि सिंचाई पम्प को डीजल से चलाया जाता है जो किसानों के लिए एक बहुत बड़ा खर्चा का घर है. किसानों को सिंचाई की दिशा में आत्मनिर्भर बनाने व … Read More

बालू के अति-खनन की समस्या और इसका समाधान

Sansar LochanClimate ChangeLeave a Comment

संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (UNEP) ने हाल ही में बालू से सम्बंधित विश्व-भर के संसाधनों के पर्यावरण की दृष्टि से प्रशासन के लिए नए-नए समाधान खोजने के विषय में एक प्रतिवेदन निर्गत किया है. प्रतिवेदन के मुख्य निष्कर्ष विश्व-भर में बालू की खपत बढ़ती जा रही है. जितनी तेजी से हम बालू निकाल रहे हैं, उतनी तेजी से प्रकृति उसकी … Read More