[Sansar Editorial] शीतलीकरण ने बढ़ा दिया है ग्लोबल वार्मिंग – जानिये कैसे?

Sansar LochanClimate Change, Sansar Editorial 20191 Comment

पूरे संसार के लिए चौथा सबसे गरम वर्ष था. बढ़ती गर्मी के कारण अधिक से अधिक एयर कंडीशनर खरीदे जा रहे हैं. लोगों की आय भी बढ़ रही है और शहरीकरण भी तेजी से हो रहा है. इसलिए आशा की जाती है कि 2050 तक बाजार में 1.2 बिलियन से लेकर 4.5 एयर कंडीशनरों की माँग होगी. अकेले भारत में … Read More

ऊर्जा के स्रोत – नवीकरणीय और अनवीकरणीय (परंपरागत या गैर-पारम्परिक)

Sansar LochanEnergyLeave a Comment

आज हम ऊर्जा के स्रोत (sources of energy) के बारे में पढेंगे जिन्हें दो भागों में NCERT किताब ने बाँटा है – नवीकरणीय (परम्परागत) और अनवीकरणीय (गैर-पारम्परिक). चूंकि आप लोग NCERT के पुजारी हैं इसलिए मैं NCERT में दिए गये विवरण के अनुसार ही आपको समझाऊंगा. मेरी मानें तो ऊर्जा के स्रोत को कुछ इस तरह विभाजित करना चाहिए था –  पर … Read More

भारत की संकटग्रस्त पादप प्रजातियाँ और उनके आवास की स्थिति

Sansar LochanBiodiversity3 Comments

हालाँकि देश में महत्त्वपूर्ण प्रयासों से आरक्षित और संरक्षित क्षेत्र का एक मजबूत और विस्तृत संजाल तैयार किया गया है, तथापि अभी भी संरक्षित स्थलों के बाहर बहुत-सी ऐसी अद्वितीय वनस्पतियाँ और पौधे हैं जो मानवीय क्रियाओं के भारी दबाव का सामना कर रहे हैं. उच्च संकटग्रस्त पादप और उनके स्थलों को संरक्षण और पुनर्जीवन प्रदान करने के लिए कई … Read More

[Sansar Editorial] कुसुम योजना – “सोलर” कृषि से किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य

Sansar LochanEnergy, Sansar Editorial 2019Leave a Comment

भारत में किसानों को सिंचाई में कई दिक्कतों का सामना करना पड़ता है और अल्प वर्षा के कारण किसानों की फसलें नष्ट हो जाती हैं. जैसा कि हम सब जानते हैं कि सिंचाई पम्प को डीजल से चलाया जाता है जो किसानों के लिए एक बहुत बड़ा खर्चा का घर है. किसानों को सिंचाई की दिशा में आत्मनिर्भर बनाने व … Read More

बालू के अति-खनन की समस्या और इसका समाधान

Sansar LochanClimate ChangeLeave a Comment

संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (UNEP) ने हाल ही में बालू से सम्बंधित विश्व-भर के संसाधनों के पर्यावरण की दृष्टि से प्रशासन के लिए नए-नए समाधान खोजने के विषय में एक प्रतिवेदन निर्गत किया है. प्रतिवेदन के मुख्य निष्कर्ष विश्व-भर में बालू की खपत बढ़ती जा रही है. जितनी तेजी से हम बालू निकाल रहे हैं, उतनी तेजी से प्रकृति उसकी … Read More

जलवायु परिवर्तन से बंगाल टाइगर के अस्तित्व पर खतरा

Sansar LochanClimate Change1 Comment

Bengal tigers may not survive climate change संयुक्त राष्ट्र के एक प्रतिवेदन के अनुसार विश्व में लगभग पाँच लाख स्थलीय प्रजातियों के प्राकृतिक आवास पर खतरा होने के कारण उनका बच पाना प्रश्न के घेरे में आ गया है. प्रतिवेदन के मुख्य निष्कर्ष प्रमुख कारण : जलवायु परिवर्तन और समुद्र का उठता हुआ स्तर कई प्रजातियों के जीवन पर खतरा … Read More

[Sansar Editorial] भारत में नवीकरणीय ऊर्जा का वर्तमान परिदृश्य

Sansar LochanEnergy, Sansar Editorial 20192 Comments

2018: Was renewable energy in power? The Hindu –  January 02 भले ही वैश्विक रिपोर्टों में नवीकरणीय ऊर्जा निवेशों के सम्बन्ध में भारत की प्रगति की प्रशंसा की गई है, पर देखा जाए तो भारत के लिए ऊर्जा के हरित स्रोतों के मामले में वर्ष 2018 बहुत अच्छा नहीं रहा है. निवेशकों ने पाया कि नवीकरणीय ऊर्जा से उतनी बिजली … Read More

[Sansar Editorial] भारत के लिए निर्धारित 12 राष्ट्रीय जैव-विविधता लक्ष्य – Aichi Biodiversity Targets

Sansar LochanBiodiversity, Sansar Editorial 20181 Comment

Convention on Biological Diversity (CBD) The Hindu –  DECEMBER 30 हाल ही में भारत ने जैव-विविधता संधि (Convention on Biological Diversity – CBD) के लिए अपना छठा राष्ट्रीय प्रतिवेदन प्रस्तुत कर दिया है. ऐसा करके भारत विश्व के पहले पाँच देशों में से एक, एशियाई देशों में पहला और जैव-विविधता से समृद्ध अत्यंत विविधता वाले देशों में प्रथम देश बन … Read More

[संसार मंथन] मुख्य परीक्षा लेखन अभ्यास – Eco-Bio-Tech GS Paper 3/Part 13

Sansar LochanEnvironment and Biodiversity, GS Paper 3, Pollution, Sansar Manthan1 Comment

Topics – Black Carbon 1st Question – What is Black Carbon / Impact सामान्य अध्ययन पेपर – 3 ब्लैक कार्बन क्या होता है? ब्लैक कार्बन के प्रभावों की चर्चा करें. (250 words) यह सवाल क्यों? यह सवाल UPSC GS Paper 3 के सिलेबस से प्रत्यक्ष रूप में लिया गया है – संरक्षण, पर्यावरण प्रदूषण और क्षरण, पर्यावरण प्रभाव का आकलन. … Read More

भारत में जल प्रदूषण से संबंधित मुद्दे, प्रभाव और प्रमुख स्रोत

Sansar LochanEnvironment and Biodiversity, Pollution2 Comments

आज इस पोस्ट के जरिये हम भारत में जल प्रदूषण (water pollution) से संबंधितमुद्दों पर चर्चा करेंगे. साथ ही दूषित जल का हमारे दैनिक जीवन पर क्या प्रभाव (impact) पड़ता है, इसकी भी चर्चा करेंगे. भारत में जल प्रदूषण के कई स्रोत (sources) हैं. नदियों में विषाक्तता के चलते हमारे स्वास्थ्य पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है. आइये इन्हीं सभी … Read More