नगर वन योजना क्या है और इसकी आवश्यकता क्यों?

Sansar LochanBiodiversity, Govt. Schemes (Hindi)Leave a Comment

इस वर्ष पाँच जून को विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने नगर वन नामक एक योजना (Nagar Scheme) का सूत्रपात किया है.

नगर वन योजना क्या है?

  • नगर वन योजना शहरों में जंगल लगाने पर बल देती है.
  • इस योजना के अंतर्गत अगले पाँच वर्षों तक पूरे देश में 200 के लगभग शहरी जंगल विकसित किये जायेंगे.
  • इस योजना से राज्यों को शहरी पारिस्थितिकी का प्रबंधन करने का अवसर मिलेगा.

नगर वानिकी की आवश्यकता क्यों?

पारम्परिक रूप से जैव-विवधता के संरक्षण के लिए दूरस्थ जंगली क्षेत्रों पर ही ध्यान दिया जाता है. किन्तु बढ़ते हुए नगरीकरण को देखते हुए आज आवश्यकता है कि शहरी क्षेत्रों में भी जैव विवधता का संरक्षण किया जाए. इसलिए शहरों में वन लगाने का विचार आया है.

जैव विविधता का संरक्षण आवश्यक क्यों?

वैसे तो भारत जैव विविधता के मामले में समृद्ध है. यहाँ पशुओं और पौधों की अनेक प्रजातियाँ मिलती हैं. विश्व के 35 जैव विविधता के गढ़ों में से 4 गढ़ भारत में ही हैं, परन्तु जैसे-जैसे जनसंख्या बढ़ रही है और वन काटे जा रहे हैं तथा साथ ही शहरों का विस्तार और औद्योगिकीकरण में वृद्धि हो रही है, वैसे-वैसे जंगलों का नाश हो रहा है जिस कारण जैव विवधिता को क्षति पहुँच रही है. कहना न होगा कि पृथ्वी में रहने वाले सभी प्रकार के जीवों के बचने के लिए जैव विविधता अत्यंत ही महत्त्वपूर्ण होती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.