[Sansar Surgery Part 4, 2018] Left Topics of Sansar DCA

Sansar LochanSansar Surgery2 Comments

कई बार ऐसा होता है कि हमारी लाख मेहनत के बावजूद करंट अफेयर्स का कोई न कोई टॉपिक छूट ही जाता है. यह सिर्फ हमारे साथ ही नहीं, बड़ी-बड़ी कोचिंग संस्थाओं के साथ भी होता है. हम तो खैर छोटे लोग हैं और वैसे भी मानव की प्रकृति है कि कुछ भी परफेक्ट नहीं हो सकता.

खैर, जब हमने फिर से The Hindu और अन्य अखबारों पर अपनी पैनी नज़र दौड़ाई तो देखा कि कुछ important current affairs को हमने Sansar DCA में cover नहीं किया है.

फिर हमने सोचा जो लोग UPSC Prelims 2019 को टारगेट कर रहे हैं और संसार लोचन टीम पर आँख मूँद कर भरोसा कर रहे हैं, हमारी यह भूल उनके लिए नाइंसाफी होगी. इसलिए हमने Sansar DCA से हटकर “Sansar Surgery Series” शुरू की है जिसमें वर्ष 2018 और आगामी वर्ष 2019 के वही टॉपिक शामिल होंगे जो हमारे द्वारा भूल से Sansar DCA में कवर नहीं किये गए हों. यह Sansar Surgery Series का पार्ट 4 है.

Sansar Surgery Part 4, 2018

दूरसंचार अनुसंधान और विकास कोष (Telecom Research and Development Fund -TRDF)

भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (TRAI) ने इस क्षेत्र में अनुसंधान और नवाचार को बढ़ावा देने के लिए 1000 करोड़ रुपये के एक फंड की व्यवस्था की सिफारिश की है जिसमें भारत में 2022 तक दूरसंचार उपकरणों के शुद्ध शून्य आयात का लक्ष्य तय किया गया है.

मटाला हवाई अड्डा, त्रिंकोमाली, हंबनटोटा, सितवे

हंबनटोटा और त्रिंकोमाली श्रीलंका में मौजूद बंदरगाह हैं; जबकि, मटाला श्रीलंका का एक हवाई अड्डा है. सितवे म्यांमार में एक बंदरगाह है. भारत मटाला के हवाई अड्डे को विकसित करना चाहता है, क्योंकि यह हंबनटोटा के सबसे नज़दीक है, जिसे चीनी संघ द्वारा विकसित किया जा रहा है. इसलिए, रणनीतिक रूप से यह भारत के लिए महत्वपूर्ण है.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

इस topic का मुख्य उद्देश्य छात्रों को मटाला के रणनीतिक स्थान और इसमें भारत की भूमिका के बारे में सूचित करना है. यह प्रारंभिक और मुख्य दोनों ही परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण है.

खरीद प्रबंधकों का सूचकांक (PMI)

खरीद प्रबंधकों के सूचकांक (पीएमआई), विनिर्माण और सेवा दोनों क्षेत्रों में व्यापारिक गतिविधियों का संकेतक है. यह एक सर्वेक्षण-आधारित माप है जो उत्तरदाताओं से पहले महीने से कुछ महत्वपूर्ण व्यावसायिक चरों की अपनी धारणा में बदलावों के बारे में पूछता है. इसकी विनिर्माण और सेवा क्षेत्रों के लिए अलग से गणना की जाती है और फिर एक समग्र सूचकांक का निर्माण होता है. इसकी शुरुआत 1948 में यूएस आधारित एक थिंक टैंक – इंस्टीट्यूट ऑफ सप्लाई मैनेजमेंट द्वारा की गई.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

हमेशा खबरों में रहने वाली विभिन्न एजेंसियों द्वारा जारी महत्वपूर्ण सूचकांक को हमेशा कवर करने की सलाह दी जाती है. चूंकि पीएमआई महत्वपूर्ण सूचकांकों में से एक है, इसलिए हमने इसे कवर करने की कोशिश की है.

राष्ट्रीय निवेश इंफ्रा फंड (NIIF)

भारत सरकार ने अपने पास 49% हिस्सेदारी और निजी निवेशकों के पास 51% हिस्सेदारी रखने के साथ निवेश की एक अलग शैली बनाने के लिए एनआईआईएफ की स्थापना की है. शुरुआती कॉर्पस 40,000 करोड़ रुपये था. जिसकी 3 उप श्रेणियाँ हैं, अर्थात् मास्टर फंड, फंड ऑफ फंड्स और स्ट्रैटेजिक फंड. मास्टर फंड आमतौर पर सड़क, बंदरगाह, आदि के परिचालन वाले क्षेत्रों में निवेश के लिए होता है. फंड निवेशकों के साथ इस क्षेत्र में अच्छा ट्रैक रिकॉर्ड रखने और फिर निवेश करने के लिए है, लेकिन सामरिक निधि इक्विटी और इक्विटी से जुड़े उपकरणों के लिए है.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

एनआईआईएफ निवेश तंत्र की एक अनूठी शैली है और इसका दायरा बढ़ता ही जा रहा है. 2016 में, इस पर सवाल पूछा गया था और यह फिर से खबरों में भी है इसलिए इस पर ध्यान देने की सलाह दी जा रही है.

शल्कदार चींटीख़ोर

शल्कदार चींटीखोर (scaly anteater) के रूप में वर्णित, पैंगोलिन छोटे स्तनपान कराने वाले स्तनधारी हैं, जो इसकी असामान्य उपस्थिति, अविश्वसनीय रूप से लंबी जीभ और पूरी तरह से एक गेंद के रूप में रोल करने की क्षमता के लिए जाने जाते हैं. चीन और मलेशिया में इसके औषधीय गुणों के कारण बढ़ती मांग एवं मांस के स्वादिष्टता के कारण यह दुनिया का सबसे अधिक तस्करी किया जाने वाला जानवर है.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

यूपीएससी द्वारा हाल में पूछने कि प्रवृति काफी कठिन हो चुकी है (यूपीएससी 2017 में चांदीपुर तट से सम्बंधित ), इसलिए हमने इस बात को ध्यान में रखते हुए इस का चयन किया है.

न्यू साउथ पॉलिसी

दक्षिण कोरिया के श्री मून ने चीन की शक्ति का सामना करने और अन्य वैश्विक शक्तियों के साथ मैत्रीपूर्ण संबंध रखने के लिए भारत और आसियान के साथ अपने समझौतों को बढ़ाने के लिए इस नीति की शुरुआत की है.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

हाल ही में दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति ने भारत का दौरा किया है, इसलिए भारत से संबंधित किसी भी नीति को विशेष रूप से देखा जाएगा.

दारा, कुनित्रा, इदलिब

सीरियाई विद्रोह की शुरुआत दारा से हुई. वर्तमान में, विद्रोहियों का कुछ प्रभाव कुनित्रा पर भी पड़ता है और सीरिया के इदलिब प्रांत पर जिहादियों का अभी भी कब्ज़ा है.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

वर्ष 2017 – 2018 में, यूपीएससी ने लगातार समाचारों में रहने वाले महत्वपूर्ण स्थानों से संबधित सुमेलित पूछे थे, इसलिए हमने इसे कवर किया है क्योंकि यह क्षेत्र लगातार समाचार में रहा है.

जैव ईंधन

पेड़ – पौधों, मरे हुए जानवरों से प्राप्त पदार्थों को जैव ईंधन के रूप में बदला जा सकता है. जैव ईंधन एक नवीकरणीय संसाधन हैं. चौथी पीढ़ी के जैव ईंधन न केवल जैव ईंधन उत्पन्न करते हैं बल्कि, उनसे CO2 को अवशोषित करने की उम्मीद की जाती है, इसलिए वे कार्बन नकारात्मक हैं, लेकिन तीसरी पीढ़ी के जैव ईंधन कार्बन तटस्थ हैं. जैव ईंधन नीति वाला पहला राज्य राजस्थान है.

माइक्रोसेफली (MICROCEPHALY)

माइक्रोसेफली (MICROCEPHALY) का कारण ज़िका वायरस है जो शिशुओं के मस्तिष्क के असामान्य आकार का कारण होता है. यह एडीज एग्प्टी मच्छर द्वारा फैलता है और इसका गेस्टशन पीरियड 3 से 12 दिनों का होता है. एजिप्टी हाल ही में एनबीआरसी के वैज्ञानिकों को मिले ई-प्रोटीन ने माइक्रोसेफली के कारणों की पुष्टि की है.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

यूपीएससी ने वर्ष 2017 – 2018 में, ज़िका वायरस से सम्बंधित पूछे थे. चूंकि इसके कारण और प्रभाव में लगातार बढ़ोतरी जारी है, जिस कारण यह लगातार समाचारों में है, इसलिए इसे पूरी तरह से कवर किया जाना आवश्यक है.

बांदीपुर टाइगर रिजर्व

बांदीपुर टाइगर रिजर्व को 1974 में ‘प्रोजेक्ट टाइगर’ के तहत स्थापित किया गया था. यह भारत में बाघों की सबसे ज्यादा आबादी वाला रिज़र्व है, जोकि कर्नाटक में स्थित है. मुदुमुलाई, नागहरोल और वायनाड वन्यजीव अभयारण्य के साथ, यह ‘नीलगिरी बायोस्फीयर रिजर्व’ का हिस्सा है.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

बांदीपुर टाइगर रिजर्व अक्सर समाचारों में रहता है इसलिए इससे संबंधित जानकारी को ध्यान में रखना आवश्यक है.

ब्रिक्स-पार्टनर

ब्रिक्स-पार्टनर एक ऐसा मंच है जो डिजिटलीकरण, औद्योगिकीकरण, समावेशिता और अवसरों को अधिकतम करने एवं चौथी औद्योगिक क्रांति की चुनौतियों का समाधान करने के लिए विज्ञान पार्क और प्रौद्योगिकी इनक्यूबेटर बनाकर मजबूत करने में मदद करेगा, एमएसएमई क्षेत्रों को उनकी तकनीक को बढ़ाने में सहायता करेगा.

केंद्रीय सड़क एवं बुनियादी ढांचा कोष (सीआरआईएफ)

बजट 2018 ने केन्द्रीय सड़क निधि अधिनियम, 2000 में संशोधन कर, इसे केंद्रीय सड़क एवं बुनियादी ढांचा कोष (सीआरआईएफ) के रूप में नामित किया. इस संशोधन का उद्देश्य सीआरआईएफ के तहत सड़क उपकर से प्राप्त कोष का इस्तेमाल अन्य बुनियादी ढांचा परियोजनाओं मसलन जलमार्ग, रेल ढांचे के कुछ हिस्से और सामाजिक ढांचे (शिक्षा संस्थान और मेडिकल कॉलेज आदि) के वित्तपोषण के लिए करना है. इसलिए, इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए इसे सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय से वित्त मंत्रालय को स्थानांतरित कर दिया गया है. हाल ही में, सरकार ने सीआरआईएफ से बुनियादी ढांचा परियोजनाओं के लिए कोष आवंटन पर फैसला करने के लिए वित्त मंत्री की अध्यक्षता में एक समिति का गठन किया है.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

एक उल्लेखनीय निधि (केन्द्रीय सड़क निधि) को एक मंत्रालय से दूसरे मंत्रालय में स्थानांतरित किया गया है, इसके कारण होने वाले बदलावों को देखना आवश्यक है, इसलिए, हमने इसे छात्रों के ध्यान में लाने की कोशिश की है.

भारत का ‘विदेशी मुद्रा भंडार’

भारत के विदेशी मुद्रा भंडार में हार्ड करेंसी (जैसे : डॉलर, पाउंड, येन इत्यादि) शामिल हैं, गोल्ड और एसडीआर IMF द्वारा जारी किए जाते हैं. इन 4 महीनों में भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 424 अरब डॉलर से घटकर 405 अरब डॉलर हो गया है, क्योंकि आरबीआई को मुद्रा में हो रही गिरावट से रोकना है, जिससे भारतीय अर्थव्यवस्था पर हानिकारक प्रभाव पड़ता है. इसलिए, विदेशी मुद्रा में यह कमी मुख्य रूप से आरबीआई द्वारा किए गए हस्तक्षेप के कारण है.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

यूपीएससी (2016, 2017 और 2018) का हालिया पैटर्न यह स्पष्ट करता है कि अर्थव्यवस्था खंड में कुछ महत्वपूर्ण रुझानों को ध्यान में रखना आवश्यक है इसलिए, इस को इस तरह से तैयार किया गया है.

सिकुड़ता डल झील

डल झील ताजे पानी की झील है और इसे अक्सर कश्मीर का मुकुट कहा जाता है. इसके सिकुड़ने का कारण सांस्कृतिक यूट्रोफिकेशन है, न कि प्राकृतिक यूट्रोफिकेशन. सांस्कृतिक यूट्रोफिकेशन एक मानव निर्मित प्रक्रिया है अर्थात उर्वरकों का उपयोग, आदि जो प्राकृतिक यूट्रोफिकेशन में तेजी लाता है. प्राकृतिक यूट्रोफिकेशन हानिकारक नहीं है क्योंकि यह बहुत लंबा समय लेता है, लेकिन सांस्कृतिक यूट्रोफिकेशन एक बहुत तेज़ प्रक्रिया है.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

हमने पर्यावरण से सम्बंधित विषय को समसामयिकी से जोड़ने की कोशिश करते हुए सांस्कृतिक और प्राकृतिक यूट्रोफिकेशन के बीच अंतर को समझाने की कोशिश की है.

इस्रोसेने (ISROSENE)

इसरो ने सफलतापूर्वक इस्रोसेने (ISROSENE) विकसित किया है, जो पारंपरिक हाइड्राज़िन रॉकेट ईंधन के विकल्प के रूप में केरोसिन का रॉकेट ग्रेड संस्करण है.

उत्तर पूर्वी परिषद (एनईसी)

प्रारंभ में, उत्तर पूर्वी परिषद (एनईसी) उत्तर पूर्वी क्षेत्र (एनईआर) के लिए ‘सलाहकार बोर्ड’ था. अब, एनईसी का उत्तर-पूर्वी क्षेत्र के लिए ‘क्षेत्रीय योजना निकाय’ के रूप में कार्य करना अनिवार्य हो गया है. परिषद में संघ राज्यों के गवर्नर और मुख्यमंत्रियों के अलावा राष्ट्रपति द्वारा नामित तीन सदस्य भी शामिल हैं. यह एक वैधानिक निकाय है, संवैधानिक नहीं.

Sansar Surgery Part 1 यहाँ पढ़ें >> Sansar Surgery Part 1

Sansar Surgery Part 2 यहाँ पढ़ें >> Sansar Surgery Part 2

Sansar Surgery Part 3 यहाँ पढ़ें >> Sansar Surgery Part 3

Books to buy

2 Comments on “[Sansar Surgery Part 4, 2018] Left Topics of Sansar DCA”

  1. Respected Sir,

    Agar daily 100 ya 50 mcq history, geography,polity, economy ka aata to subject ko revision krna aasan ho jaega.

  2. good efforts sir……………..a little progress everyday and get up a big result…………

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.