[Sansar Surgery Part 1, 2018] Left Topics of Sansar DCA

Print Friendly, PDF & Email

कई बार ऐसा होता है कि हमारी लाख मेहनत के बावजूद करंट अफेयर्स का कोई न कोई टॉपिक छूट ही जाता है. यह सिर्फ हमारे साथ ही नहीं, बड़े-बड़े कोचिंग संस्थाओं के साथ भी होता है. हम तो खैर छोटे लोग हैं और वैसे भी मानव की प्रकृति है कि कुछ भी परफेक्ट नहीं हो सकता.

खैर, जब हमने फिर से The Hindu और अन्य अखबारों पर अपनी पैनी नज़र दौड़ाई तो देखा कि कुछ important current affairs को हमने Sansar DCA में cover नहीं किया है.

फिर हमने सोचा जो लोग UPSC Prelims 2019 को टारगेट कर रहे हैं और संसार लोचन टीम पर आँख मूँद कर भरोसा कर रहे हैं, हमारी यह भूल उनके लिए नाइंसाफी होगी. इसलिए हमने Sansar DCA से हटकर “Sansar Surgery Series” शुरू की है जिसमें वर्ष 2018 और आगामी वर्ष 2019 के वही टॉपिक शामिल होंगे जो हमारे द्वारा भूल से Sansar DCA में कवर नहीं किये गए हों. यह Sansar Surgery Series का पार्ट 1 है.

Sansar Surgery Part 1, 2018

पंढरपुर आंदोलन

महाराष्ट्र के पंढरपुर क्षेत्र में शुरू हुआ और आंदोलनकारी भगवान विट्ठल अर्थात कृष्ण के भक्त थे. पंढरपुर आंदोलन वारकारी एवं धारकारी नामक दो समूहों में बंटा हुआ था- वारकारी संतों के उदाहरण नामदेव, तुकाराम थे तो वहीं रामदास धारकारी संत थे जोकि ‘शिवाजी’ के आध्यात्मिक गुरु थे. उन्होंने “दशबोध” नामक पुस्तक का मौखिक वर्णन किया.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

हाल ही में, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री को मराठा आरक्षण के मुद्दों के कारण पंढरपुर मंदिर की यात्रा रद्द करनी पड़ी.

नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल

(I) एनजीटी वन्यजीव संरक्षण अधिनियम, 1972 और भारतीय वन अधिनियम, 1927 से संबंधित मामलों पर सुनवाई नहीं कर सकता. (II) सर्वोच्च न्यायालय के हालिया फैसले में कहा गया है कि यह अपने आदेश को लागू कर सकता है. (III) एनजीटी 2010 में स्थापित एक वैधानिक निकाय है.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह प्रश्न इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

सर्वोच्च न्यायालय ने जंतर मंतर पर विरोध प्रदर्शन करने पर लगे प्रतिबंध को हटा लिया है. यह प्रतिबंध एनजीटी द्वारा लगाया गया था, इसलिए खबरों में था.

स्ट्रेट ऑफ़ होरमुज़

होरमुज़ स्ट्रेट के उत्तरी तट पर ईरान और दक्षिण तट पर संयुक्त अरब अमीरात एवं मुसंदम (ओमान का एक संलग्नक) स्थित है. यह एक ऐसी स्ट्रेट है जो ओमान की खाड़ी के साथ फारस की खाड़ी को जोड़ती है.

होमरुज स्ट्रैट

प्रारम्भिक परीक्षा के लिए यह प्रश्न इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

ईरान ने संयुक्त राज्य अमेरिका को धमकी दी है कि अगर वह प्रतिबंधों के साथ आगे बढ़ता है तो वह “स्ट्रेट ऑफ़ होरमुज़” की सुरक्षा को सुनिश्चित कर सकता है.

इंटर क्रेडिटर एग्रीमेंट (ICA)

आईसीए इंडियन बैंक एसोसिएशन के तहत तैयार किया गया सुनील मेहता समिति का परिणाम है. इसके तहत यह सहमति हुई है कि अगर (2/3) ऋणदाता संकल्प योजना से सहमत होते हैं, तो इसको स्वीकार किया जाएगा और यदि अन्य ऋणदाताओं को इस योजना के साथ कोई समस्या होती है, तो वे अपने अनावरण 15% छूट पर बेच सकते हैं या 25% प्रीमियम पर अनावरण खरीद सकते हैं. इसमें केवल 50 करोड़ रुपये से 2000 करोड़ रुपये की सीमा तक के माध्यमिक निगमों को शामिल किया गया है. इस प्रकार, यह दिवालियापन प्रक्रिया को सुगम बना देगा.

विशेषाधिकार प्रस्ताव

संसदीय विशेषाधिकार उन लोगों तक विस्तारित है जो संसदीय कार्यवाही में भाग ले सकते हैं और बोल सकते हैं. यह संसद सदस्यों और अटॉर्नी जनरल तक तो विस्तारित है लेकिन राष्ट्रपति इसमें शामिल नहीं है. विशेषाधिकारों के स्रोत संविधान से, संसद द्वारा बनाए गए कानून से, नियम पुस्तिका से, न्यायिक व्याख्याओं से और संसदीय सम्मेलनों से लिए जाते हैं.

इसके बारे में पूरे डिटेल में पढ़ें >> Vishesh Adhikar

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह प्रश्न आवश्यक क्यों है?

हाल ही में, विपक्षी और सत्तारूढ़ दल दोनों ने ही एक दूसरे के खिलाफ विशेषाधिकार प्रस्ताव को स्थानांतरित किया है, इसलिए प्रारंभिक परीक्षा के दृष्टिकोण से यह महत्वपूर्ण हो जाता है.

भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग

भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग एक अर्ध-न्यायिक निकाय है लेकिन संवैधानिक निकाय नहीं. इसकी स्थापना प्रतिस्पर्धा अधिनियम, 2002 के तहत की गई थी. यह एक क्रॉस सेक्टर नियामक है, जो मुख्य रूप से प्रतिस्पर्धा विरोधी गतिविधियों पर निगरानी रखता है. इस प्रकार यह निष्पक्षता को बढ़ावा देता है.

प्रारम्भिक परीक्षा के लिए यह प्रश्न इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

हाल ही में, भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग ने गूगल पर कुछ सर्च करने के दौरान पक्षपात करने और हेरफेर करने के लिए 136 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है. भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग ने पाया कि गूगल ने अपने सर्च डिजाइन के माध्यम से सर्च परिणाम पृष्ठ पर एक प्रमुख स्थिति में अपनी वाणिज्यिक उड़ान को सर्च करने का फ़ंक्शन रखा था.

जीरो रेटिंग प्लेटफ़ॉर्म

जीरो रेटिंग प्लेटफ़ॉर्म चुनिंदा दूरसंचार प्रदाताओं के माध्यम से सीमित संख्या में वेबसाइटों तक निःशुल्क पहुँच प्रदान करता है. फेसबुक फ्री बेसिक एक जीरो रेटिंग प्लेटफार्म था.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह प्रश्न इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

हाल ही में ट्राई ने नेट तटस्थता के पक्ष में अपनी राय प्रदान की है.

अविश्वास प्रस्ताव

अविश्वास प्रस्ताव केवल लोकसभा में ही लाया जा सकता है. अविश्वास प्रस्ताव लाने के लिए लोकसभा के कम से कम 50 सदस्यों के समर्थन की आवश्यकता होती है. इसे केवल उस मंत्रिपरिषद के खिलाफ लाया जा सकता है जो लोकसभा के लिए सामूहिक रूप से जिम्मेदार होती है. इसके पारित होने पर सरकार गिर जाती है.

प्रारम्भिक परीक्षा के लिए यह प्रश्न इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

हाल ही में, संसद में विपक्ष द्वारा सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया गया है, इसलिए यह प्रस्ताव महत्वपूर्ण हो गया है.

उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई)

सीपीआई को सीएसओ द्वारा मासिक रूप जारी किया जाता है और इसे हेडलाइन मुद्रास्फीति भी कहा जाता है. सीपीआई में सेवाएं भी शामिल हैं लेकिन डब्ल्यूपीआई केवल वस्तु के साथ ही सौदा करती है, इसलिए सीपीआई डब्ल्यूपीआई के लिए बेहतर है.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह प्रश्न इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

हाल के आंकड़ों से पता चलता है कि मूल रूप से तेल की कीमतों में उतार-चढ़ाव के चलते जून में डब्ल्यूपीआई में 5.77 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. यह 4.5 वर्षों में सबसे ज्यादा है, इसलिए मुद्रास्फीति के मुद्दे पर ध्यान देने की आवश्यकता है.

ब्रू शरणार्थी

ब्रू आदिवासी विशेष रूप से मिजोरम में हैं, ब्रू जनजातियों और मिजोरम के “मिजोस” के बीच होने वाली जातीय हिंसा के कारण अंततः ब्रू जनजातियों को पड़ोसी राज्य त्रिपुरा में पलायन करना पड़ा.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह प्रश्न इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

हाल ही में, गृहमंत्रालय ने एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं जिससे ब्रू समुदाय के लोगों को उनके मूल स्थान पर वापस जाने में मदद मिलेगी, लेकिन यह समझौता पूर्ण नहीं हो पा रहा क्योंकि वे प्रति परिवार के लिए 4 लाख अग्रिम जमा करने की मांग कर रहे हैं और गृहमंत्रालय का कहना है कि एक बार जब वे वापस आ जाते हैं, तो उन्हें 1 महीने के डेडलॉक(deadlock) में पैसे भेज दिये जायेंगे. इसी में आगे गृहमंत्रालय ने बताया कि गांव समूह आदि बनाने के लिए बात की जा रही है.

2 + 2 वार्ता

2 + 2 वार्ता का उद्देश्य भारत और अमेरिका के बीच सामरिक समन्वय को बढ़ाना है. जिसका परिणाम अंततः इंडो-पैसिफिक बेल्ट में शांति और स्थिरता स्वरूप दिखेगा.

नैनो बबल्स

यह कैंसर उपचार में गेम चेंजर साबित हो सकता है क्योंकि कैंसर के उपचार के साथ समस्या यह है कि इसकी दवा स्वस्थ कोशिकाओं को भी नुकसान पहुंचाती है लेकिन ‘नैनो बबल्स’ के आने से दवा का पूर्व निर्धारित वितरण किया जा सकता है,इसे मानक एक्स-रे के माध्यम से सक्रिय किया जा सकता है.

P5 + 1

ईरान और यूएनएससी के पांच स्थायी सदस्यों (P5 +1 एक अन्य सदस्य जर्मनी) के बीच ईरान परमाणु समझौते पर हस्ताक्षर किए गए थे, इसलिए ओबामा के नेतृत्व वाली सरकार ने इस परमाणु समझौते के तहत ईरान पर प्रतिबंधों को लगाने की शुरुआत की.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह प्रश्न इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

हाल ही में, अमेरिका ने ईरान से अपने आयात को रोकने के लिए भारत पर दबाव बनाया है, जिससे ईरान पर संयुक्त राज्य अमेरिका का दबाव बनेगा. भारत ने अपनी स्थिति को स्पष्ट कर दिया है कि यह किसी भी दबाव में नहीं आयेगा क्योंकि ईरान में ‘चाबहार बंदरगाह’ हमारे लिए चीन द्वारा की जाने वाली घेराबंदी का जवाब है.

भारतीय जंगली कुत्ता या ‘Dhole’

धोले या भारतीय जंगली कुत्तों को आईयूसीएन के अनुसार लुप्तप्राय के रूप में सूचीबद्ध किया गया है (क्योंकि इसकी संख्या <2500 तक गिर गई है) और ये वन्यजीव संरक्षण अधिनियम की अनुसूची 2 में संरक्षित हैं.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह प्रश्न इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

भारतीय वन्यजीव संस्थान से, हाल ही में वन्यजीव वैज्ञानिकों ने धोले के गले में पट्टा डाला है जिससे वे उसके व्यवहार, आवास, इत्यादि को समझ सकें और उन्हें बचाने के लिए उचित कदम उठाए जा सकें.

बेदीनखलम महोत्सव

यह मेघालय में जयंतिया जनजातियों का एक त्यौहार है जो अच्छे स्वास्थ्य, समृद्धि और अच्छी फसल के लिए मनाया जाता है. गैर-ईसाई ‘पनर’ लोग जो ‘नियामर’ या हिंदू धर्म के पारंपरिक रिवाज़ में विश्वास करते हैं, इस त्योहार का पालन करते हैं.

आर्कटिक काउंसिल

आर्कटिक काउंसिल एक अंतर सरकारी मंच है जो 1996 में ओटावा घोषणा के बाद अस्तित्व में है. कनाडा, अमेरिका, रूस, फिनलैंड, आइसलैंड, डेनमार्क और नॉर्वे आर्कटिक काउंसिल के सदस्य हैं. आर्कटिक काउंसिल जैव-विविधता के पहलुओं, महासागर, पर्यावरण, जलवायु परिवर्तन और स्वदेशी आर्कटिक लोगों को पर निगरानी रखता है. भारत 2013 से इसका पर्यवेक्षक सदस्य है और उसने नॉर्वे और उत्तरी ध्रुव के लगभग बीच में कोंग्सफजॉर्डन में इंडआर्क नामक पहली मल्टी-सेंसर मूरेड वेधशाला स्थापित की है.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह प्रश्न इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

भारत आर्कटिक बेल्ट में एक नई वेधशाला स्थापित करने के लिए रूस और कनाडा के साथ बातचीत कर रहा है क्योंकि आर्कटिक तेजी से पिघल रहा है. इसका तात्पर्य है कि, हाइड्रोकार्बन रिजर्व में समृद्ध कई स्थानों का पता लगाकर उन्हें ट्रैक किया जा सकता है.

क्रिप्टोजैकिंग (CRYPTOJACKING)

क्रिप्टोजैकिंग पीड़ितों को परेशान करने के लिए एक तकनीक है जिसमें उनके कंप्यूटरों को क्रिप्टोकरंसी रखने के लिए उपयोग किया जाता है, जिससे पीड़ित अनभिज्ञ होते हैं. फरवरी 2018 में, क्रिप्टोजैकिंग स्क्रिप्ट “वानामाइन”(WannaMine) पूरी दुनिया के कंप्यूटरों में फैल गई थी.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह प्रश्न इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

हाल ही में, आरबीआई ने फिर से एक परिपत्र जारी किया कि क्रिप्टोकरंसी अवैध लेनदेन को बढ़ावा देगी और इसलिए लोगों को इसका उपयोग करने से बचना चाहिए.

किराये पर एक प्रयोगशाला

विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग शोधकर्ताओं के उन सभी प्रयोगशाला उपकरणों को किराए पर लेने की सोच रहा है, जिनकी लागत 10 लाख रुपए से अधिक है. इससे आय उत्पन्न होगी और इस तरह के महंगे उपकरणों के निष्क्रिय होने का समय भी कम हो जायेगा.

अविश्वास प्रस्ताव

इसे केवल लोकसभा में प्रस्तुत किया जा सकता है राज्यसभा में नहीं. इसे केवल लोकसभा में 50 सदस्यों के समर्थन की आवश्यकता है. इसे “मंत्रियों की परिषद” के खिलाफ लाया जाता है, किसी मंत्री के खिलाफ व्यक्तिगत रूप से नहीं. अविश्वास प्रस्ताव के पारित होने से सरकार गिर जाती है.

प्रारम्भिक परीक्षा के लिए यह प्रश्न इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

हाल ही में, विपक्ष सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया है.

नवकलेवर महोत्सव

नवकलेवर महोत्सव जगन्नाथ मंदिर, पुरी की प्रतिमा के प्रतिस्थापन के साथ जुड़ा हुआ है, जिसमें प्रतिमा को विशेष प्रकार की नीम लकड़ी से बनी प्रतिमा के साथ प्रतिस्थापित किया जाता है जो “दारू ब्रह्मा” कहलाती है. जगन्नाथ मंदिर को ‘व्हाइट पगोडा’ कहा जाता है जबकि कोणार्क मंदिर को ‘ब्लैक पगोडा’ कहा जाता है. यह महोत्सव आम तौर पर 12 से 19 वर्ष बाद मनाया जाता है.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह प्रश्न इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

हाल ही में, भगवान जगन्नाथ की प्रसिद्ध रथ यात्रा महोत्स्व मनाया गया है.

Keep visiting Sansar DCA for Daily Current Affairs >> Sansar DCA

11 Responses to "[Sansar Surgery Part 1, 2018] Left Topics of Sansar DCA"

  1. rashmidurga thakur   August 15, 2018 at 11:06 am

    thnku so much Sir. ….

    Reply
  2. Anonymous   August 9, 2018 at 6:01 pm

    sir thanku for this initiative

    Reply
  3. Anonymous   August 9, 2018 at 5:59 pm

    thanku very much sir for this initiative…maine b sari sites padh k dekh li..bt no site satisfied me …only sansar did it…

    Reply
  4. Anonymous   August 8, 2018 at 3:33 am

    Osammm sir jiii

    Thanks a lot

    Reply
  5. RANBAHADUR SINGH   August 7, 2018 at 1:06 pm

    बहुत बहुत धन्यवाद सर जी ..

    मेँ आप पर और केवल आप पर आँख मूँद के भरोसे बैठ कर केवल आपका ब्लॉग फॉलो कर रहा हू ..

    Reply
  6. Mohan   August 7, 2018 at 12:30 pm

    Good morning sir
    Main current affirs ke liye sab site pad chuka hu ek bhi nahi choda
    English ki site bhi pad chuka hu
    Lekin sir apke is pryas ka koi jwab nahi hai
    Hindi medium ke liye bahut helpful sabit ho rhi hai
    Sir isse jari rkhe hai

    Reply
  7. Syrus   August 6, 2018 at 9:51 pm

    This transformed column is awesome and very informative. Unparalleled.

    Reply
  8. Rajesh kumar   August 6, 2018 at 9:23 pm

    Sir aapka bahut bahut dhanyavad , lekin sir aap isme kuch aese bhi topic cover kiye hai jo aap pahle kara chuke hai like 2+2, avishwas prastav etc

    Reply
    • Sansar Lochan   August 6, 2018 at 11:23 pm

      इससे पता चलता है कि आप एक अच्छे पाठक हैं और गंभीरता से पढ़ते हैं.

      Reply
  9. Anonymous   August 6, 2018 at 8:16 pm

    Thank u sir..

    Reply
  10. Anonymous   August 6, 2018 at 7:55 pm

    very very thanku sir

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.