कठोरता सूचकांक (Stringency Index) से संबंधित मुख्य तथ्य

Sansar LochanIndian ExpressLeave a Comment

ऑक्सफ़ोर्ड विश्वविद्यालय ने एक कठोरता सूचकांक (Stringency Index) तैयार किया है जिसमें बताया गया है कि कोविड-19 महामारी के प्रसार के विभिन्न स्तरों पर किस देश ने कितने कठोर कदम उठाये. इस सूचकांक के अनुसार, भारत वह देश था जिसने अन्य देशों की तुलना में बहुत पहले ही कड़े-कड़े उपाय लागू किये. सूचकांक में विभिन्न देशों में हुई मौतों का … Read More

टीके से होने वाला पोलियो वायरस क्या है? – Vaccine-derived poliovirus

Sansar LochanIndian ExpressLeave a Comment

What is a vaccine-derived poliovirus? पिछले एक वर्ष से पोलियो कुछ देशों में फिर से प्रकट हुआ है, जैसे – फ़िलीपीन्स, मलेशिया, घाना, म्यांमार, चीन, कैमरून, इंडोनेशिया और ईरान. इनमें से अधिकांश मामले पोलियो के टीके से हुए संक्रमण के कारण हुए हैं. उल्लेखनीय है कि ये देश पहले पोलियो के वायरस को अपने यहाँ से मिटा चुके थे. टीके … Read More

अमेरिका में सिख समुदाय को अलग जातीय समूह का दर्जा

RuchiraIndian ExpressLeave a Comment

2020 में अमेरिका में जनगणना होने वाली है. इस जनगणना के लिए पहली बार उस देश में रहने वाले सिखों को एक अलग जातीय समूह के रूप में (Sikhs in US to be counted as separate ethnic group) गिना जाएगा. अमेरिका में सिखों की संख्या लगभग 10 लाख है. पिछले कुछ वर्षों से सिखों को परेशान करने, उन्हें धमकाने और … Read More

‘Golden Card’ Permanent Residency Scheme – Features, Need and Significance

Sansar LochanHindi News Site, Indian ExpressLeave a Comment

संयुक्त अरब अमीरात ने गोल्डन कार्ड नामक स्थायी निवास योजना (Golden Card Permanent Residency Scheme) आरम्भ की है जिसका उद्देश्य पूरे संसार से धनाढ्य और असाधारण प्रतिभा से सम्पन्न लोगों को आकर्षित करना है. गोल्डन कार्ड किसको दिया जाएगा? सामान्य निवेशक जिनको दस वर्ष के स्थायी निवास का वीजा दिया जाएगा भूमि सम्पदा निवेशक जिनको पाँच वर्ष का वीजा दिया … Read More

WTO Dispute Settlement Mechanism – Objectives, How it operates?

Sansar LochanIndian ExpressLeave a Comment

विश्व व्यापार संगठन (WTO) के अंतर्गत अपीलीय निकाय (Appellate Body) में नए सदस्यों की नियुक्ति लम्बे समय से नहीं होने के कारण विवाद निपटारे की प्रणाली ध्वस्त होती हुई-सी प्रतीत हो रही है. इसी परिप्रेक्ष्य में पिछले सप्ताह नई दिल्ली में 20 विकासशील देशों की एक बैठक हुई जिसमें इस संकट के निवारण पर विचार-विमर्श किया गया. उल्लेखनीय है कि … Read More

जम्मू-कश्मीर में प्रधानमंत्री और सदर-ए-रियासत कब हुआ करते थे?

Sansar LochanIndian ExpressLeave a Comment

Source : The Indian Express हाल ही में कश्मीर के कुछ नेताओं ने यह बात उठाई कि कश्मीर में पहले की भाँति एक प्रधानमंत्री अलग से होना चाहिए और सदर-ए-रियासत का पद फिर से स्थापित होना चाहिए. इसी माँग के संदर्भ में एक नया विमर्श आरम्भ हो गया है जिसमें प्रधानमंत्री के साथ-साथ सदर-ए-रियासत का पद फिर से लाने के … Read More