[संसार मंथन] मुख्य परीक्षा लेखन अभ्यास – Eco-Bio-Tech GS Paper 3/Part 13

Sansar LochanEnvironment and Biodiversity, GS Paper 3, Pollution, Sansar Manthan1 Comment

Print Friendly, PDF & Email

Topics – Black Carbon

1st Question – What is Black Carbon / Impact

सामान्य अध्ययन पेपर – 3

ब्लैक कार्बन क्या होता है? ब्लैक कार्बन के प्रभावों की चर्चा करें. (250 words)

यह सवाल क्यों?

यह सवाल UPSC GS Paper 3 के सिलेबस से प्रत्यक्ष रूप में लिया गया है –

संरक्षण, पर्यावरण प्रदूषण और क्षरण, पर्यावरण प्रभाव का आकलन.

उत्तर :-

ब्लैक कार्बन जीवाश्म ईंधन, लकड़ी और अन्य ईंधन के अपूर्ण दहन द्वारा उत्सर्जित कणिकीय पदार्थ (Particulate Matter : PM) है जो वायुमंडल के ताप को बढ़ाता है. यह वायुमंडल में उत्सर्जन के कुछ दिनों से सप्ताहों तक स्थिर रहने वाला एक अल्पकालिक जलवायु प्रदूषक है. इस छोटी अवधि के दौरान ब्लैक कार्बन जलवायु, हिमनद क्षेत्रों, कृषि और मानव स्वास्थ्य पर महत्त्वपूर्ण प्रत्यक्ष और परोक्ष प्रभाव डाल सकता है.

ब्लैक कार्बन के प्रभाव

जलवायु पर प्रभाव

ब्लैक कार्बन तापवृद्धि में सहायक है क्योंकि यह प्रकाश को अवशोषित करने और निकटवर्ती वातावरण की ऊष्मा की वृद्धि में अत्यधिक प्रभावी है. यह बादल निर्माण के साथ-साथ क्षेत्रीय परिसंचरण और वर्षा को भी प्रभावित करता है. बर्फ तथा हिम पर निक्षेपित होने पर, ब्लैक कार्बन और सह-उत्सर्जित कण एल्बिडो प्रभाव (सूर्य के प्रकाश को परावर्तित करने की क्षमता) को कम करते हैं तथा सतह के तापमान में वृद्धि करते हैं. इसके परिणामस्वरूप आर्कटिक और हिमालय जैसे ग्लेशियर क्षेत्रों में बर्फ पिघलने लगती है.

स्वास्थ्य पर प्रभाव

  1. ब्लैक कार्बन और इसके सह-प्रदूषक सूक्ष्म कणिकीय पदार्थ (PM2.5) वायु प्रदूषण के प्रमुख घटक हैं.
  2. इनसे होने वाले रोग हैं – हृदय और फेफड़ों के रोग, स्ट्रोक, हार्ट अटैक, चिरकालिक श्वसन रोग जैसे ब्रोंकइटिस, गंभीर अस्थमा तथा अन्य कार्डियो-रेस्पिरेटरी लक्षणों सहित वयस्कों में समयपूर्व मृत्यु.

वनस्पति और पारिस्थितिकी तन्त्र पर प्रभाव

  1. ब्लैक कार्बन अनेक प्रकार से पारिस्थितिकी तन्त्र के स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकता है. यह पौधों पर जमा हो जाता है तथा उनके तापमान में वृद्धि कर देता है. यह पृथ्वी पर आपतित सूर्यताप में कमी लाता है तथा वर्षा प्रतिरूप को भी परिवर्तित कर देता है.
  2. वर्षा प्रतिरूप में परिवर्तन के पारिस्थितिकी तन्त्र और मानव आजीविका दोनों के लिए दूरगामी परिणाम हो सकते हैं, उदाहरण के लिए यह मानसून में अवरोध उत्पन्न करता है, जो एशिया और अफ्रीका के बृहद् क्षेत्रों में कृषि के लिए महत्त्वपूर्ण है.
  3. ब्लैक कार्बन में वृद्धि के कारण हिमरेखा के समीप हिम-आच्छादित क्षेत्र के विस्तार में कमी के साथ-साथ मूल्यवान् औषधीय जड़ी बूटियों के विलुप्त होने जैसे प्रभाव दृष्टिगत होते हैं.

2nd Question – Brown Carbon vs Blue Carbon / How to control it

सामान्य अध्ययन पेपर – 3

ब्राउन कार्बन और ब्लू कार्बन को परिभाषित करें. ब्लैक कार्बन को नियंत्रित करने संबंधी उपाय बताएँ. (250 words)

यह सवाल क्यों?

यह सवाल UPSC GS Paper 3 के सिलेबस से प्रत्यक्ष रूप में लिया गया है –

संरक्षण, पर्यावरण प्रदूषण और क्षरण, पर्यावरण प्रभाव का आकलन.

उत्तर :-

ब्राउन कार्बन (Brown Carbon) :- यह मुख्य रूप से कार्बनिक बायोमास के दहन के दौरान उत्पन्न होता है और ब्लैक कार्बन के साथ पाया जाता है. प्रकाश अवशोषण के गुण के कारण इसके जलवायविक प्रभाव ब्लैक कार्बन के समान ही होते हैं.

ब्लू कार्बन (Blue Carbon) :- यह मैंग्रोव वन, समुद्री घास भूमि अथवा अन्त: ज्वारीय लवणीय दलदल जैसे तटीय पारिस्थतिकी तन्त्र में संगृहीत और प्रच्छादित कार्बन है.

ब्लैक कार्बन को नियंत्रित करने संबंधी उपाय

  1. पारम्परिक खाना पकाने वाले ईंधन के स्थान पर खाना पकाने हेतु बायोमास स्टोव, LPG इत्यादि जैसे आधुनिक स्वच्छ ईंधन का उपयोग किया जाना चाहिए.
  2. उद्योगों में पारम्परिक ईंट भट्ठों के स्थान पर लम्बवत् शाफ्ट ईंट भट्ठों का प्रयोग किया जाना चाहिए.
  3. भारत स्टेज VI वाहनों और कार्बन-उत्सर्जन मुक्त बसों और ट्रकों को जल्द से जल्द अपनाया जाना चाहिए तथा उच्च मात्रा में प्रदूषण उत्सर्जन करने वाले डीजल वाहनों को हटाया जाना चाहिए.
  4. खेतों में कृषि अपशिष्टों (पराली) को जलाए जाने पर प्रतिबन्ध लगाना चाहिए.
  5. तेल के अतिज्वलन (oil flaring) और गैस उत्पादन को नियंत्रित करना चाहिए.
  6. नगरपालिका द्वारा अवशिष्ट को खुले में जलाए जाने पर प्रतिबंध लगाना चाहिए.

Reminder : Last date to submit your assignment 15/11/2018. To download your assignment, click > SMA 02 Part 2new_gif_blinking

“संसार मंथन” कॉलम का ध्येय है आपको सिविल सेवा मुख्य परीक्षा में सवालों के उत्तर किस प्रकार लिखे जाएँ, उससे अवगत कराना. इस कॉलम के सारे आर्टिकल को इस पेज में संकलित किया जा रहा है >> Sansar Manthan

Tags : What do you understand by Black Carbon? Blue carbon kya hota hai? Examine its impact on ecosystem. How to control it in Hindi.

ये सभी सवाल क्यों?

देहरादून स्थित वाडिया इंस्टिट्यूट ऑफ़ हिमालयन जियोलॉजी (WIHG) द्वारा किये गये एक हाल के अध्ययन में यह पाया गया है कि पश्चिमी विक्षोभों और पवन प्रवाह के जरिये भूमध्यसागरीय देशों से प्रवाहित होने वाला ब्लैक कार्बन, प्रदूषण और हिमालयी क्षेत्र में हिम के पिघलने की दर में वृद्धि करने वाले कारकों में से एक हो सकता है..
Books to buy

One Comment on “[संसार मंथन] मुख्य परीक्षा लेखन अभ्यास – Eco-Bio-Tech GS Paper 3/Part 13”

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.