चेक के प्रकार: Types of Cheques कितने हैं?

चेक के प्रकार: Types of Cheques कितने हैं?
Print Friendly, PDF & Email

चेक क्या है- What is Cheque?

चेक एक कागज़ है. है न? कागज़ ही तो है. भले ही उसकी वैल्यू लाखों की हो सकती है….पर चेक एक कागज़ ही है…ठीक नोट की तरह….पर परीक्षा में ऐसे लिखिएगा तो आपको जीरो मार्क्स मिलेंगे. परीक्षा में ऐसे लिखना होगा:—- चेक बैंक द्वारा अकाउंट होल्डर को दिया जाने वाला वह भुगतान का साधन है जिससे ग्राहक किसी अगले व्यक्ति को अपने अकाउंट से डायरेक्ट कैश न देकर भुगतान कर सकता है. यह हुई न बात! अब मिलेंगे आपको १० में से १०. भले ही शिक्षक को समझ न आये!

चेक में आप किसे पैसे दे रहे हैं, उनका नाम लिखना होता है…वह किसी व्यक्ति का नाम भी हो सकता है या किसी फर्म का. चेक में आपको यह भी भरना होता है कि आप कितने पैसे उस व्यक्ति को दे रहे हैं (शब्द और संख्या में), कब दे रहे हैं (Date)…और अंत में आपको सिग्नेचर करना पड़ता है. आपका चेक लेकर बन्दा अपने अकाउंट में डाल देता है और आपने जितना अमाउंट उसे दिया था वो उसके अकाउंट में ट्रान्सफर हो जाता है.

संक्षेप में कह सकते हैं कि चेक बिना कैश का भुगतान है, जैसे इलेक्ट्रॉनिक ट्रान्सफर.

cheque_axis

चेकों का वर्गीकरण: स्थान के आधार पर 

१. स्थानीय चेक – Local Cheque

यदि City A का चेक City A में ही clear हो तो इसे स्थानीय चेक कहते हैं. जैसे आपको यदि मैंने आपके नाम पर चेक दिया, तो आपको उस चेक को लेकर शहर के ही सम्बंधित ब्रांच में जाना पड़ेगा, आप शहर से बाहर ले कर उसे  clear करवाओगे तो आपको अलग से पैसे लगेंगे (fixed banking charges).

२. आउटस्टेशन चेक -Outstation Cheque

यदि स्थानीय चेक को शहर से बाहर ले जाकर clear कराया जाए तो वह चेक आउटस्टेशन चेक कहलायेगा जिसके लिए बैंक फिक्स्ड चार्जेज लेती है.

३. एट पार चेक  – At par Cheque

यह ऐसा चेक है जो पूरे देश में सबंधित बैंक के सभी ब्रांचों में स्वीकार्य है. और ख़ास बात यह है कि बाहर के ब्रांचों में इसे clear करने के दौरान अतिरिक्त प्रभार नहीं लगता (no additional charges).

चेकों का वर्गीकरण: मूल्य के आधार पर

१. साधारण मूल्य वाले चेक -Normal Value Cheques

1 लाख से कम मूल्य वाले चेक नॉर्मल वैल्यू चेक कहलाते हैं.

२. ऊँचे मूल्य वाले चेक -High Value Cheques

1 लाख से ऊपर वाले चेक हाई वैल्यू चेक कहलाते हैं.

३. उपहार चेक – Gift Cheques

अपने प्रिय जनों को उपहारस्वरूप दिए जाने वाले चेक गिफ्ट चेक कहलाते हैं. उपहार चेकों की राशि 100 रु. से लेकर 10,000 रु. तक हो सकती है.

चेक मुख्यतः तीन प्रकार के होते हैं –

1. खुला चेक – Open Cheque

खुला चेक वह चेक होता है जिसे बैंक में प्रस्तुत कर काउंटर पर ही नकद प्राप्त किया जा सकता है. Clarence के लिए आपको इंतज़ार करने की जरुरत नहीं है. गीव एंड टेक…..ओपन चेक को धारण करने वाला व्यक्ति काउंटर में जा कर, चेक दिखाकर….पैसे ले सकता है और या तो अपने अकाउंट में पैसे को ट्रान्सफर कर सकता है या चेक के पीछे हस्ताक्षर कर के किसी अन्य व्यक्ति को प्राधिकृत (authorize) कर सकता है.

2. बेयरर चेक – Bearer Cheque

बेयरर चेक वह चेक है जो खाताधारी (account holder) का कोई भी प्रतिनिधि बैंक में जाकर भुना सकता है. प्रतिनिधि को चेक देते समय चेक के पीछे हस्ताक्षर करने की आवश्यकता नहीं होती एवं मात्र चेक दे देने से निकासी हो जाती है. ये चेक risky भी हो सकते हैं क्योंकि अगर यह चेक अगर भुला गया तो कोई भी बैंक जा कर इसे भुना सकता है.

3. क्रॉस्ड चेक – Crossed Cheque

क्रॉस्ड चेक किसी विशेष व्यक्ति या संस्था के नाम से लिखा जाता है और ऊपर बायीं ओर दो समानांतर लाइनें खींच दी जाती हैं  जिनके बीच “& CO.” or “Account Payee” or “Not Negotiable” लिखा या नहीं भी लिखा जा सकता है. इस चेक से नकद निकासी नहीं होती और सम्बंधित राशि केवल नामित व्यक्ति/संस्था के खाते में हो सकती है.

4. आदेश चेक – Order Cheque

इस चेक में “bearer” शब्द को काट दिया जाता है और उसके स्थान पर “order” लिख दिया जाता है. इसमें खुले चेक की तरह चेक से अपने अकाउंट में पैसे को ट्रान्सफर कर सकता है या चेक के पीछे हस्ताक्षर कर के किसी अन्य व्यक्ति को प्राधिकृत (authorize) कर सकता है.

चेक का वर्गीकरण: गारंटी भुगतान के आधार पर

1. सेल्फ चेक – Self Cheque

सेल्फ चेक वह होता है जिसे खाताधारी बैंक में प्रत्यक्ष भुगतान के लिए स्वयं प्रस्तुत करता है.  इसमें भुगतान पाने वाले के नाम की जगह पर “Self” लिखा जाता है.

2. आगे की तारीख वाला चेक – Post-dated Cheque (PDC)

आगे की तिथि में भुगतान वाला चेक एक ऐसा क्रॉस किया हुआ बेयरर चेक होता जिसमें आगे की तिथि अंकित की जाती है. इसका अर्थ यह हुआ है कि इस चेक का भुगतान अंकित तिथि या उसके बाद हो सकता है.

3. पीछे की तारीख वाला चेक – Ante-dated Cheque (ADC)

इस चेक में बैंक में प्रस्तुत करने के पहले की तिथि होती है. यह चेक अंतिम तिथि से तीन महिना के पूरा होने के तक भुनाया जा सकता है.

4. काल बाधित चेक – Stale Cheque

हर चेक को उसमें अंकित तिथि के तीन महीने के अन्दर-अन्दर भुनाने का नियम है. यदि यह तिथि पार हो जाती है काल बाधित चेक कहलाता है जो बैंक के द्वारा स्वीकार नहीं किया जाता है.

बैंक अकाउंट कितने प्रकार के होते हैं? यहाँ क्लिक करें.

49 Responses to "चेक के प्रकार: Types of Cheques कितने हैं?"

  1. pavan sharma   March 22, 2017 at 10:21 pm

    So gud sir……thanks a lot.

    Reply
  2. pavan sharma   March 22, 2017 at 10:22 pm

    So gud sir……thanks a lot.

    Reply
  3. Abinash   April 9, 2017 at 7:51 pm

    Thank you sir for sharing this, realy i loved it

    Reply
  4. kanta kumari meena   April 15, 2017 at 7:02 am

    Good morning sar me m.a pre. ,,Me subject select kar ne me problem aa rhi h plz mere halp kare

    Reply
  5. swapnil mane   April 15, 2017 at 5:37 pm

    Thnx sir…

    Reply
  6. sonu   April 27, 2017 at 5:29 pm

    Thanks

    Reply
  7. Anonymous   May 5, 2017 at 1:18 pm

    sir saving m cheque se 1 din me kitni payment saving m le sakte h blood relation m

    Reply
  8. pàwan r. manekar   May 7, 2017 at 5:35 pm

    Thank sir for cheque information

    Reply
  9. Gorav kumar   May 11, 2017 at 11:51 am

    Thank sir this artical

    Reply
  10. Anonymous   May 25, 2017 at 5:38 pm

    thanks sir banking jankari ke liye
    thanks

    Reply
  11. suresh   May 27, 2017 at 4:53 pm

    dear thanks sir

    Reply
  12. Rani   May 30, 2017 at 10:36 pm

    Sir cheque ko negotiable instrument kyo kahate hai Hindi me sir

    Reply
  13. Harshali   June 8, 2017 at 8:31 am

    Commendable effort ,,praisw worthy
    Really in simplw words thanks

    Reply
  14. madhu Sudan soni   June 20, 2017 at 10:46 pm

    Thank you sir for this article.

    Reply
  15. Rahul maan   August 5, 2017 at 1:16 pm

    Pls sir cTc and non Ctc check kya h isme kya difrence h ckear btao

    Reply
  16. mahir saiyed   August 5, 2017 at 4:32 pm

    What is multi city cheque….?

    Reply
    • Sansar Lochan   August 5, 2017 at 7:35 pm

      Multi city cheque किसी भी शहर में चलेगा.

      Reply
  17. Naim vadgama   August 7, 2017 at 11:55 am

    What is multi city cheque…? Andi want to full information about that.. So give me information. …..

    Reply
  18. Avinash   August 24, 2017 at 6:25 am

    As a security blank cheque rakhne se kya aasay hai?plz explain sir

    Reply
  19. Anonymous   October 12, 2017 at 7:29 pm

    sir kya hum ek hi check me changes kr check ko alag alg name de sakte hai ya phir kuchh alag design kiye hote hai

    Reply
  20. Anonymous   October 25, 2017 at 11:53 am

    Sir jo signature nhi kr pata hai wo Apne a/c se cheque book le skta hai kya ?

    Reply
  21. ajay   November 7, 2017 at 2:59 pm

    CBS का मतलब क्या होता है
    और BLG का क्या मतलब होता है कृपया बताइए

    Reply
  22. Anonymous   November 7, 2017 at 3:01 pm

    भारत की सभी साखाओ पर में सममूल्य पर देय इसका मतलब बताएं

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.