हिंदी माध्यम के छात्रों के लिए The Economic Times के विकल्प

Sansar LochanSuccess Mantra3 Comments

economic times
Print Friendly, PDF & Email

The Economic Times जिसे प्यार से हम ET कहते हैं, से आप अवश्य अवगत होंगे.  The Economic Times भी The Hindu की तरह अखबार एक अच्छा अंग्रेजी समाचारपत्र है और छात्रों का चहेता भी. इस newspaper को  प्रकाशित The Times Group करती है जो अन्य अखबार जैसे The Times of IndiaNavbharat TimesMaharashtra TimesEi Samay aur Vijaya Karnataka को भी प्रकाशित करती है. The Economic Times का readership 8 लाख से अधिक है और वर्ष 1961 में यह पहली बार प्रकाशित हुआ था. सिविल सर्विसेज परीक्षार्थियों के लिए, खासकर जो इंग्लिश मध्यम में तैयारी कर रहे हैं….उनके बीच यह अखबार popular  है. पर दुःख के साथ कहना पड़ रहा है कि हिंदी माध्यम के छात्र The Economic Times (ET) जैसे उत्कृष्ट अखबार को पढ़ने से अछूते रह जाते हैं क्योंकि यह Hindi में प्रकाशित नहीं होता. इसलिए आज मेरे इस पोस्ट लिखने का उद्देश्य यही है कि मैं हिंदी माध्यम छात्रों को कुछ ऐसा उपाय बताऊँ जिससे उन्हें इस अखबार का कोई विकल्प मिल सके.

The Economic Times की खूबियाँ—Advantages of reading The Economic Times

१. यह अखबार अधिकांशतः भारतीय अर्थव्यवस्था और वर्ल्ड इकॉनमी न्यूज़ को कवर करती है. इसलिए मेरा view यदि आप जानना चाहते हैं तो मैं यही कहूँगा कि The Economic Times से Civil Services Exam में शायद ही कोई सवाल डायरेक्ट रूप से आता है. The Hindu के comparison में ET बहुत पीछे है. मगर मैं यह बात  exam point of view से कह रहा हूँ, नाकि content को लेकर कोई comment कर रहा हूँ.

२. Joint-Ventures, Corporate Deals के बारे में भी इसमें अच्छा-खासा न्यूज़ कवर किया जाता है जो शायद हमारे लिए important हो सकता है.

३. अन्य अखबारों की तुलना में इस अखबार में Political News कम रहते हैं…इसलिए इसमें केवल काम की बात होती है. वैसे 3 पेज political news रहते जरुर हैं पर important political news को ही कवर किया जाता है. जिसे आप चाहें तो पढ़ सकते हैं.

४. The Economic Times कोई भी न्यूज़ को depth और सिलसिलेवार ढंग से बताता है. जैसे पहले news का थोड़ा बैकग्राउंड –अभी मामला क्या चल रहा है—आगे क्या हो सकता है…यही approach आपके UPSC Mains के पेपर में भी दिखना चाहिए.

५. शुरू के 2-3 pages Startup & entrepreneurship के होते हैं जिसे जरुर पढ़ना चाहिए.

६.  हर अखबार की तरह इसमें भी Editorial Page होता है जो worth reading है.

७. Ads & Campaigns कम होते हैं तो दिल को सुकून मिलता है.

८. भले ही इस अखबार की विशेषता है कि इसमें अधिकांश समाचार Business, Economy, Brand, Market, Finance से related होते हैं जो परीक्षा में अधिक स्थान नहीं रखते पर CSAT Paper 1 में कभी-कभी joint ventures से सवाल आ जाते हैं…कभी-कभी match of the following में ऐसे सवाल भी आते हैं जिसमें एक तरफ कंपनी के owner का नाम और दूसरी तरफ कंपनी का नाम होता है.

९. इसमें Government Schemes को काफी डिटेल में बताया जाता है.

१०. इसमें काफी Graphs and Figures होते हैं, जिन्हें आपको समझने की practice करनी चाहिए. Pie chart reading, graph reading आपको CSAT Paper 2 के reasoning सवाल को समझने में काम देगी.

अख़बार को कैसे पढ़ें- How to read newspaper?

  • अक्सर हिंदी-माध्यम छात्रों के मन में एक बड़ा प्रश्न रहता है कि उनके लिए इंग्लिश अखबार The Economic Times (ET) का विकल्प क्या हो सकता है? एक तो हिंदी माध्यम छात्रों को इंग्लिश पढ़ने में थोड़ी दिक्कत आती है और ऊपर से The Economic Times का इंग्लिश थोड़ी-बहुत tough होती है क्योंकि इसमें कई economics jargon घुसेड़ दिए जाते हैं.
  • वैसे एक बात और कहना चाहूँगा कि इंग्लिश से भाग कर आप भले ही Civil Services जैसी कठिन परीक्षा पार कर लें…मगर एक  सिविल सेवक बन कर आप इंग्लिश से भाग नहीं सकते, कभी न कभी, कहीं न कहीं आपको इंग्लिश से पंगा लेना ही पड़ेगा और लज्जास्पद परिस्थिति उत्पन्न हो सकती है.
  • इसलिए सबसे अच्छा है कि The Economic Times, TOI अखबार जरुर पढ़ें मगर अधिक देर तक नहीं. 10-15 मिनट आपके लिए काफी है. अपना मनपसंद column उठा लें और उसे पढ़ डालें, चाहे समझ आये या नहीं. अपने आँखों से महत्त्वपूर्ण न्यूज़ को स्कैन कर लें…और डायरी में नोट कर लें. यह सब करने में आपको मात्र आधा घंटा लगेगा.
  • जैसे यदि कुछ नीति आयोग के बारे में दिया हो, चाहे नेशनल फ़ूड सिक्यूरिटी एक्ट के बारे में जिक्र हो….अटल पेंशन योजना, इंडियन-फ्रेंच नेवल एक्सरसाइज VARUNA के बारे में दिया हो….उसे नोट कर लें….Event के सामने महिना और डेट लिख लें…ताकि बाद में अपनी डायरी पढ़ते वक़्त आपको पता हो कि वह किस महीने का न्यूज़ है.
  • आपको आँखों से न्यूज़पेपर को स्कैन करने की कला जल्द से जल्द अपना लेनी चाहिए क्योंकि इसी कला की जरुरत आपको तब पड़ेगी जब आप एक सिविल सेवक होंगे और डेस्क पर पड़ी ढेर सारी फाइल को आप जल्द से जल्द निपटा लेंगे.
  • किसी भी माध्यम से पढ़ रहे छात्रों के लिए अपडेटेड होना जरुरी है इसलिए हमें कम से कम इस अखबार को 10 से 15 मिनट देना चाहिए.

The Economic Times के विकल्प/Alternatives of The Economic Times

  1. Business Standard अखबार The Economic Times (ET) का एक अच्छा विकल्प है. पर वह भी English में ही आता है.
  2. पर Business Standard का E-Paper आप इस लिंक से हिंदी में पढ़ सकते हो >> Business Standard in Hindi
  3. विशेषतः Business Standard का अर्थव्यवस्था वाला पेज और मुद्रा पेज आपके काम आ सकता है. मगर यहाँ भी same theory apply होगी. आपको स्वयं जानना होगा कि कौन सी न्यूज़ आपके लिए फायदेमंद है.
  4. Economic Times का भी हिंदी और गुजराती में E-paper उपलब्ध है…. Click here to read Economic Times in Hindi
  5. आप ABP news का Business cum Economy Section इस लिंक से पढ़ सकते हो >> ABP
  6. PIB के द्वारा आर्थिक समीक्षा (Economic Survey) 2016-17 को आप PDF के रूप में इस लिंक से download कर सकते हैं >>> PDF HERE
  7. मेरे पेज के करंट अफेयर्स सेक्शन से आप मासिक करंट अफेयर्स  पीडीऍफ़ के रूप में डाउनलोड कर सकते हैं. वहाँ सारे हिंदी के PDF  ssgcp.com से एकत्रित किए गए हैं.
  8. प्रसार भारती के डेली Hindi ऑडियो नोट्स/न्यूज़ जरुर सुनें जो हमारे App पर Classes by Sansar Lochan पर उपलब्ध है.
  9. मेरा प्रयास तो रहता ही है कि Economics को आपके लिए इतना सरल बना दूँ कि Economics आपको एक बोझ के रूप में न लगे…इसलिए मैंने यह पेज आपके लिए खोला है, क्लिक करें >> www.sansarlochan.in/economy 
  10. Important Economics Glossary के लिए मैंने Sansar Ka Eco Series भी शुरुआत की है, यह भी आपके लिए फायदेमंद साबित होगा, क्लिक करें >> Sansar Ka Eco Series 
Books to buy

3 Comments on “हिंदी माध्यम के छात्रों के लिए The Economic Times के विकल्प”

  1. Sir i want to preare for ias.
    Now i passed 12 class exam from up board.
    Sir ab me ias ki tyyari ke liye graduation BA se kar rha hu
    M eng. Aur hindi dono m achha hu lakin up board se hone ke kaaran hindi jyada achhi h

    Ab m BA m konsa sa medium choose kru
    ye bat mujhe bahut confuse kar rhi h.
    Please help me sir please .

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.