Sansar डेली करंट अफेयर्स, 20 September 2021

Sansar LochanSansar DCALeave a Comment


GS Paper 3 Source : The Hindu

the_hindu_sansar

 

UPSC Syllabus : Environment and Biodiversity.

Topic : Black Tiger

संदर्भ 

नेशनल सेंटर फॉर बायोलॉजिकल साइंसेज (NCBS), बैंगलार की वैज्ञानिक उमा रामकृष्णन और उनके छात्र विनय सागर के नेतृत्व में अध्ययन में पाया गया कि ओडिशा के सिमलीपाल में मिलन वाले ब्लैक टाइगर या काले बाघों में एक आनुवंशिक उत्परिवर्तन के कारण काली धारियाँ चौड़ी हो गई या फिर फैल गई हैं. इसे छद्म मेलानिज्म (pseudo-melanism) का नाम दिया गया है. इसमें ट्रांसमेम्ब्रेन एमिनोपेप्टाइड्स क्यू (टैक्पेप) नामक जीन में परिवर्तन से बाघ काला दिखाई देता है. यह संपूर्ण मेलानिज्म से भिन्‍न है जिसमें पूरी तरह ही मेलानिन वर्णक के कारण रंग काला हो जाता है. अभी तक ऐसे बाघ नहीं देखे गये हैं.

black tiger

सिमलीपाल में पहली बार वर्ष 1993 में काले बाघ की उपस्थिति दर्ज की गई थी. जब एक आदिवासी युवक ने आत्मरक्षा में एक छद्म-मेलेनिस्टिक बाघिन को मार डाला. वर्ष 2018 में, सिमलीपाल के आठ बाघों में से तीन काले हो गए थे.

छद्म-मेलनिस्टिक बाघ भारत में तीन चिड़ियाघरों – नंदनकानन (भुवनेश्वर), अरिग्नार अन्ना जूलॉजिकल पार्क (चन्नई) और भगवान बिर्सा जैविक पार्क (रांची) में भी मौजूद हैं – जहां वे पिंजरे में ही पैदा हुए थ. लेकिन इन सभी का सिमलीपाल के किसी बाघ से पुश्तैनी संबंध है.

इस टॉपिक से UPSC में बिना सिर-पैर के टॉपिक क्या निकल सकते हैं?

व्याघ्र संरक्षण के लिए किये गये प्रयास

  • राष्ट्रीय व्याघ्र संरक्षण प्राधिकरण (NTCA) ने वन संरक्षकों के लिए एक मोबाइल अनुश्रवण प्रणाली विकसित की है जिसका नाम M-STrIPES (Monitoring System for Tigers – Intensive Protection and Ecological Status) दिया गया है.
  • 2010 में St. Petersburg व्याघ्र शिखर सम्मलेन में बाघों की आबादी वाले 13 देशों के नेताओं ने यह संकल्प लिया था कि बाधों की संख्या की दुगुनी कर दी जायेगी और इसके लिए एक नारा दिया था – ‘T X 2’
  • भारत में 1973 में ही बाघों के संरक्षण के लिए Project Tiger आरम्भ किया गया था. इस परियोजना के तहत अभी तक देश में 50 अभ्यारण्य बनाए जा चुके हैं जिनका भौगोलिक क्षेत्रफल देश का 2.2% है.
  • विश्व बैंक के वैश्विक व्याघ्र पहल (Global Tiger Initiative – GTI) कार्यक्रम ने बाघों से सम्बंधित एजेंडा को सबल बनाने के लिए वैश्विक प्रतिभागियों को प्रेरित किया है. कालांतर में यह कार्यक्रम वैश्विक व्याघ्र पहल परिषद् (Global Tiger Initiative Council – GTIC) का रूप ले चुकी है. इस परिषद् के अन्दर दो अलग-अलग उप कार्यक्रम चलाये जा रहे हैं जो हैं – वैश्विक व्याघ्र मंच कार्यक्रम (Global Tiger Forum) और वैश्विक हिम तेंदुआ पारिस्थितिकी सुरक्षा कार्यक्रम (Global Snow Leopard Ecosystem Protection Program).

कुछ विवादास्पद परियोजनाएँ

  • कान्हा और पेंच बाघ रिजर्व को जोड़ने वाले गलियारे में राजमार्ग और रेलवे लाइनों का विस्तार किया जा रहा है.
  • महाराष्ट्र के मेलघाट बाघ रिजर्व से होकर एक रेलवे लाइन का निर्माण किया जा रहा है.
  • मध्य प्रदेश के पन्ना टाइगर रिजर्व का लगभग 100 वर्ग किलोमीटर केन-बेतवा नदी लिंकिंग परियोजना में चला जाएगा.

 


Prelims Vishesh

Planetarium Innovation Challenge :-

  • इसे माईगोव (MyGov) इंडिया (इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के तहत) द्वारा भारतीय स्टार्टअप्स तथा तकनीकी
    उद्यमियों के लिए आरंभ किया गया है.
  • इस प्रतियोगिता का उद्देश्य एक स्वदेशी प्लैनेटेरियम सिस्टम सॉफ्टवेयर निर्मित करने की क्षमता रखने वाली प्रौद्योगिकी
    कंपनियों तथा स्टार्टअप्स (भारत से बाहर स्थित) को एक साथ लाना है.
  • इस सॉफ्टवेयर को ऑगमेंटेड रियलिटी (AR), वर्चुअल रियलिटी (VR) और मर्ज्ड रियलिटी (MR) सहित नवीनतम तकनीकों का उपयोग करके निर्मित किया जाएगा.

Abhyas Surya Kiran :-

यह भारतीय सेना और नेपाली सेना के मध्य एक संयुक्त सैन्य प्रशिक्षण अभ्यास है.

Print Friendly, PDF & Email
Read them too :
[related_posts_by_tax]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.