मुख्य परीक्षा लेखन अभ्यास – Modern History GS Paper 1/Part 16

Dr. SajivaGS Paper 1 2020-21, Sansar Manthan2 Comments

“पूर्व के अधिनियमों की तरह ही 1919 ई० का अधिनियम भी भारतीयों को संतुष्ट नहीं कर सका.” इस कथन की समीक्षा कीजिए. “Like the earlier acts the 1919 Act also could not satisfy Indians.” Review this statement. क्या न करें ❌सीधे 1919 अधिनियम के बारे में लिखना शुरू न कर दें. क्या करें ✅प्रारम्भ में कुछ पूर्व के अधिनियमों का … Read More

[संसार मंथन] मुख्य परीक्षा लेखन अभ्यास – Culture & Heritage GS Paper 1/Part 4

Dr. SajivaCulture, GS Paper 1, History, Sansar Manthan8 Comments

सामान्य अध्ययन पेपर – 1 कला को परिभाषित करते हुए उसके प्रकारों का उल्लेख करें. (250 words)  यह सवाल क्यों? यह सवाल UPSC GS Paper 1 के सिलेबस से प्रत्यक्ष रूप से लिया गया है – “भारतीय संस्कृति में प्राचीन काल से आधुनिक काल तक के कला के रूप, साहित्य और वास्तुकला के मुख्य पहलू शामिल होंगे”. सवाल का मूलतत्त्व … Read More

मुख्य परीक्षा लेखन अभ्यास – Modern History GS Paper 1/Part 15

Dr. SajivaGS Paper 1 2020-21Leave a Comment

“20वीं सदी के प्रारम्भ में औद्योगिक प्रगति के चलते जहाँ भारत के पूँजीपतियों के धन में वृद्धि हुई, वहीं श्रमिकों की दशा बिगड़ गयी.” विश्लेषण कीजिए. “Due to industrial progress during the beginning of 20th century there was growth in the wealth of Indian capitalists on one hand and a deterioration in the condition of the labour on the other … Read More

मुख्य परीक्षा लेखन अभ्यास – Modern History GS Paper 1/Part 14

Dr. SajivaGS Paper 1 2020-21Leave a Comment

“पूर्व के अधिनियमों की तरह ही भारत सरकार अधिनियम, 1919 भी भारतीयों को संतुष्ट नहीं कर सका.” टिप्पणी कीजिए. “Like the earlier ones the Indian Govt. Act, 1919 as well could not satisfy the Indians.” Comment. उत्तर :- कांग्रेस ने 1919 ई. के अधिनियम को निराशजनक और असंतोषप्रद (disappointing and unsatisfactory) कहा.  अधिनियम द्वारा किए गए सुधार देखने में बड़े … Read More

[संसार मंथन 2021] मुख्य परीक्षा लेखन अभ्यास – Governance | GS Paper 2/Part 01

Sansar LochanGS Paper 2 2021 GovernanceLeave a Comment

Based on the Daily Current Affairs of 02 Jan, 2021. From this link you can visit all questions of 2nd Jan, 2021 – SMA Assignment 52 Click here Q1.भारत में भ्रष्टाचार से लड़ने के लिए कुछ आवश्यक प्रणालीगत सुधारों का संक्षिप्त विश्लेषण कीजिए। (GS Paper 2) Briefly analyse some of systemic reforms needed to fight corruption in India. क्या न करें … Read More

[संसार मंथन 2021] मुख्य परीक्षा लेखन अभ्यास – Defense | Gs Paper 3/Part 01

Sansar LochanGS Paper 3 2021 DefenseLeave a Comment

Based on the Daily Current Affairs of 02 Jan, 2021. From this link you can visit all questions of 1st Jan, 2021 – SMA Assignment 51 Click here Q3. भारत का रक्षा उत्पादन डीआरडीओ की नियति से निकटता से जुड़ा हुआ है। डीआरडीओ के प्रदर्शन को संबल देने के लिए सरकार द्वारा उठाए गए हालिया कदमों पर चर्चा तथा समालोचनात्मक परीक्षण कीजिए। … Read More

[संसार मंथन 2021] मुख्य परीक्षा लेखन अभ्यास – Diplomacy | Gs Paper 2/Part 01

Sansar LochanGS Paper 2 2021 DiplomacyLeave a Comment

Based on the Daily Current Affairs of 02 Jan, 2021. From this link you can visit all questions of 1st Jan, 2021 – SMA Assignment 52 Click here Q5. हिंद महासागर भारत के लिए “आर्थिक अवसरों का महासागर” है। टिप्पणी कीजिए। (GS Paper 3) उत्तर: हिंद महासागर भारत के लिए “आर्थिक अवसरों का महासागर” है. टिप्पणी कीजिए. क्या न करें … Read More

[संसार मंथन 2021] मुख्य परीक्षा लेखन अभ्यास – Social | Gs Paper 1/Part 01

Sansar LochanGS Paper 1 2021 Social3 Comments

Based on the Daily Current Affairs of 01 Jan, 2021. From this link you can visit all questions of 1st Jan, 2021 – SMA Assignment 51 Click here Q1. समाज के साथ-साथ पुलिस नेतृत्व ने  भी स्वीकार कर लिया है कि पुलिस में महिलाओं की महत्त्वपूर्ण भूमिका है. भारत में वर्दीधारी महिलाओं को किन समस्याओं को आम तौर पर झेलना … Read More

मुख्य परीक्षा लेखन अभ्यास – Modern History GS Paper 1/Part 13

Sansar LochanGS Paper 1 2020-214 Comments

“हिन्दू समाज की सबसे बड़ी बुराई जाति-प्रथा एवं छुआछूत की भावना थी.” इस कथन की पुष्टि करें और साथ-साथ यह भी बताएँ कि 19वीं शताब्दी के दौरान अस्पृश्यता का अंत एवं हरिजनोद्धार के लिए क्या-क्या कदम उठाये गये? उत्तर :- जाति-प्रथा वर्ण-व्यवस्था का विकृत रूप था. इस व्यवस्था ने हिंदू समाज के एक वर्ग, अछूतों को समाज से लगभग अलग … Read More

मुख्य परीक्षा लेखन अभ्यास – Modern History Gs Paper 1/Part 12

Sansar LochanGS Paper 1 2020-21Leave a Comment

1885-1905 के बीच कांग्रेस के कार्यों की समीक्षा अपने शब्दों में विस्तारपूर्वक करें. उत्तर :- कांग्रेस के आरम्भिक 20 वर्षों के काल को “उदारवादी राष्ट्रीयता” की संज्ञा दी जाती है क्योंकि इस काल में कांग्रेस कीं नीतियाँ अत्यंत उदार थीं. इस युग में भारतीय राजनीति के प्रमुख नेतृत्वकर्ता दादाभाई नौरोजी, फ़िरोज़शाह मेहता, दिनशा वाचा और सुरेन्द्र नाथ बनर्जी आदि जैसे … Read More