मोटे अनाज से सम्बंधित प्रमुख तथ्य | APEDA FPO in Hindi

Sansar LochanGeography Current AffairsLeave a Comment

मोटे अनाज के निर्यात का निर्धारित लक्ष्य कृषि एवं प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (APEDA) ने वर्ष 2026 तक 2000 करोड़ रूपये के मोटे अनाज के निर्यात का लक्ष्य रखा है। मोटे अनाज से सम्बंधित प्रमुख तथ्य मोटे अनाज में ज्वार, बाजरा एवं रागी जैसी खाद्यान्न फसलों को शामिल किया जाता है।  इन फसलों को समशीतोष्ण, उपोष्णकटिबंधीय एवं उष्णकटिबंधीय … Read More

ड्वोरक तकनीक

Richa KishoreGeography Current AffairsLeave a Comment

अमेरिकी मौसम विज्ञानी वर्नोन ड्वोरक, जिन्हें ड्वोरक तकनीक (Dvorak Technique) विकसित करने का श्रेय दिया जाता है, का 100 वर्ष की आयु में निधन हो गया है। उन्नत Dvorak तकनीक (Advanced Dvorak Technique – ADT) क्या है? इसे पहली बार 1969 में विकसित किया गया था और उत्तर पश्चिमी प्रशांत महासागर में तूफानों को देखने के लिए इसका परीक्षण किया … Read More

मानव विकास सूचकांक 2022 | Information about HDI in Hindi

Sansar LochanGeography, विश्व का भूगोल14 Comments

undp_hindi

हाल ही में UNDP (United Nation Development Programme) द्वारा मानव विकास सूचकांक (Human Development Index, HDI) 2022 की रिपोर्ट जारी की गई. मानव विकास को मानव विकास सूचकांक (Human Development Index, HDI) के रूप में मापा जाता है. इसे मानव विकास की आधारभूत उपलब्धियों पर निर्धारित एक साधारण समिश्र सूचक (composite indicator) के रूप में मापा जाता है और विभिन्न … Read More

कोसी, गंडक और सोन परियोजना – संक्षिप्त परिचय

Sansar LochanBPSC Notes, भारत का भूगोलLeave a Comment

बिहार PCS परीक्षा जल्द ही आयोजित होने वाली है. क्यों न हम बिहार के प्रमुख बहु-उद्देशीय नदी घाटी परियोजनाओं के बारे में पढ़ लें.  बिहार में नाहर सिंचाई का प्रमुख साधन है. राज्य के कुल क्षेत्रफल के 28.41% पर नहरों से सिंचाई की जाती है. राज्य में दो प्रकार की नहरों से सिंचाई की जाती है – सदाबाही नहरें और … Read More

सूर्य के विषय में विस्तृत जानकारी

Sansar Lochanविश्व का भूगोल4 Comments

पृथ्वी पर जीवन को कायम रखने में अनेक तत्त्वों की महत्त्वपूर्ण भूमिका है. लेकिन इन सभी तत्त्वों का आधार ऊर्जा ही है और पृथ्वी पर ऊर्जा के अधिकांश भाग का मूल स्रोत सूर्य ही है. सूर्य एक विशाल गैसीय पिंड है. सूर्य का तापमान काफी अधिक होता है इसलिए इस पर कोई पदार्थ ठोस या तरल स्थिति में नहीं है. … Read More

प्रत्यक्ष धान बीजारोपण तकनीक – DSR Technique

Sansar LochanGeography Current Affairs1 Comment

कोविड-19 के कारण कृषि श्रमिकों के अपने-अपने प्रदेश में लौट जाने के कारण पंजाब सरकार ने यह निर्णय किया है कि इस बार धान का रोपण पारम्परिक ढंग से नहीं होगा, अपितु बीजों को सीधे रोप दिया जाएगा. रोपण की इस पद्धति को प्रत्यक्ष धान बीजारोपण (direct seeding of rice (DSR) technique)  कहते हैं. प्रत्यक्ष धान बीजारोपण (Direct Seeding of … Read More

न्यूनतम समर्थन मूल्य सूची में 23 अतिरिक्त लघु वन उपज शामिल

Sansar LochanGeography Current AffairsLeave a Comment

जनजातीय मामलों के मंत्रालय ने न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) सूची में 23 अतिरिक्त लघु वन उपजों (MFP) को सम्मिलित करने की घोषणा की है. विदित हो कि पहले इसके अन्दर 50 वस्तुएँ आती थीं जो अब बढ़कर 73 हो गई हैं. यह निर्णय कोविड–19 महामारी ओर बहुत ही कठिन परिस्थितियों में लिया गया है. पृष्ठभूमि सरकार ने वंचित वनवासियों को … Read More

वैश्विक पोषण रिपोर्ट – 2020

Sansar LochanGeography Current AffairsLeave a Comment

Global Nutrition Report 2020 2020 का वैश्विक पोषण प्रतिवेदन (Global Nutrition Report) निर्गत हो चुका है. ज्ञातव्य है कि इस प्रतिवेदन से विश्वभर में पोषण के प्रति सरकारों, सहायता प्रदान करने वालों, सिविल सोसाइटियों, संयुक्त राष्ट्र एवं व्यवसाय जगत के 100 हितधारकों की प्रतिबद्धता का अनुगमन किया जाता है. यह विडियो जरुर देखें > इसकी परिकल्पना 2013 में सम्पन्न प्रथम … Read More

नमूना पंजीकरण प्रणाली (2018 Data Updated)

Sansar LochanGeography Current AffairsLeave a Comment

भारत के महापंजीयक द्वारा नमूना पंजीकरण प्रणाली (Sample Registration System – SRS) बुलेटिन जारी किया गया है. यह 2018 के लिए एकत्र किए गए आंकड़ों पर आधारित है. मुख्य निष्कर्ष जन्म दर 2018 में राष्ट्रीय जन्म दर 20 थी. ज्ञातव्य है कि यह दर 1971 में 36.9 थी. जन्म दर की सूची में बिहार (26.2) इस बार भी सबसे ऊपर … Read More

BoBBLE – बे ऑफ बंगाल बाउंड्री लेयर एक्सपेरिमेंट

Sansar Lochanविश्व का भूगोल4 Comments

बोबल (Bay of Bengal Boundary Layer Experiment – BoBBLE) के अंतर्गत मानसून, उष्णकटिबंधीय चक्रवात और मौसम से जुड़ी सटीक भविष्यवाणी के लिए बेंगलुरु के भारतीय विज्ञान संस्थान और यूनाइटेड किंगडम के ईस्ट एंगलिया विश्वविद्यालय ने मिलकर एक कार्ययोजना बनाई है. BoBBLE क्या है? BoBBLE एक संयुक्त भारत-यूनाइटेड किंगडम परियोजना है जो मानसून प्रणाली पर बंगाल की खाड़ी में चलने वाली … Read More