आयुष्मान भारत योजना 2018 के बारे में जानें in Hindi

RuchiraGovt. Schemes (Hindi)17 Comments

ayushman_bharat_prog
Print Friendly, PDF & Email

आज इस पोस्ट में हम आयुष्मान भारत कार्यक्रम के विषय में बात करने वाले हैं in Hindi. 2018-19 के केन्द्रीय बजट में सरकार ने दो बड़ी योजनाएँ घोषित की हैं जो आयुष्मान भारत कार्यक्रम (Ayushman Bharat Programme) के अन्दर आयेंगे. इस कार्यक्रम का उद्देश्य प्राथमिक, द्वितीयक और तृतीयक स्वास्थ्य देखभाल की व्यवस्था को उत्तम बनाना है. आयुष्मान भारत कार्यक्रम की ये दो योजनाएँ निम्नवत् हैं –

आयुष्मान भारत योजना 2018

स्वास्थ्य एवं आरोग्य केंद्र

केंद्र ने अपनी राष्ट्रीय स्वास्थ्य नीति, 2017 ( National Health Policy, 2017) में यह परिकल्पना की थी कि भारत में लोगों के घरों के नजदीक 1.5 लाख स्वास्थ्य एवं आरोग्य केंद्र खोले जायेंगे जहाँ असंक्रामक रोगों, मातृ-स्वास्थ्य और बाल-स्वास्थ्य सेवाओं के साथ-साथ व्यापक स्वास्थ्य देखभाल की सुविधाएं दी जायेंगी. परिकल्पना यह भी है कि ये केंद्र आवश्यक दवाएँ और जाँच की सुविधा मुफ्त में देंगे. इस बार के बजट में इस योजना को मूर्त रूप दिया गया है और इसके लिए 1200 करोड़ रुपये निर्धारित किये गए हैं. सरकार ने यह व्यवस्था भी की है कि निजी क्षेत्र और मानव कल्याण से सम्बन्धित संस्थाएँ इन केन्द्रों को अपना सकती हैं.

राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना

“National Health Protection Scheme” आयुष्मान भारत के अंतर्गत दूसरी योजना है. इसके अन्दर 10 करोड़ निर्धन और असुरक्षित परिवार आयेंगे जिनके सदस्यों की संख्या लगभग 50 crore हो सकती है. बजट 2018 में यह प्रावधान किया गया है कि इस योजना के तहत प्रत्येक परिवार को 5 लाख रुपयों तक के अस्पताल खर्च का वहन होगा. इस प्रकार यह कार्यक्रम विश्व की सबसे बड़ी सरकारी स्वास्थ्य होगा.

आयुष्मान भारत कार्यक्रम 2022 के न्यू इंडिया को बनाने में सहायक सिद्ध होगा और लाखों रोजगार, विशेषकर महिलाओं के लिए, सृजित कर सकेगा. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने यह भी घोषणा की है कि 24 नए सरकारी मेडिकल कॉलेज और हॉस्पिटल बनाए जायेंगे. यह सुनिश्चित किया जाएगा कि प्रत्येक तीन लोक सभा क्षेत्रों पर एक मेडिकल कॉलेज हो और देश के हर राज्य में कम-से-कम एक सरकारी मेडिकल कॉलेज हो.

इस योजना के तहत, प्रीमियम भुगतान में किए गए व्यय को केंद्रीय और राज्य सरकारों के बीच 60:40 के निर्दिष्ट अनुपात में साझा किया जाएगा.

योजना के लिए अर्हता

आयुष्मान भारत योजना एक अर्हता पर आधारित योजना है जिसके लिए निम्नलिखित श्रेणी के लोग योग्य होंगे –

  • गाँवों में रहने वाले ऐसे परिवार जिनके पास केवल 1 कोठरी है जिसकी दीवार कच्ची है और छत भी कच्ची है.
  • ऐसा परिवार जिसमें 16 वर्ष से 59 वर्ष के बीच का कोई वयस्क सदस्य नहीं हो.
  • ऐसा परिवार जिसकी मुखिया स्त्री हो और जिसमें 16 वर्ष वर्ष से 59 वर्ष का कोई व्यस्क पुरुष सदस्य न हो.
  • जिस परिवार में दिव्यांग सदस्य और कोई शारीरिक रूप से समर्थ व्यस्क असमर्थ सदस्य हो.
  • सभी अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति
  • भूमिहीन परिवार जिसकी मुख्य आय दिहाड़ी मजदूरी से होती हो.
  • ग्रामीण क्षेत्रों के ये परिवार स्वतः ही इस योजना के लिए योग्य माने जाएँगे – बिना आश्रय के परिवार, अति निर्धन परिवार, भीख पर निर्भर परिवार, हाथ से सफाई करने वाले परिवार, आदिम जनजाति परिवार, बंधुआ मजदूरी से छुड़ाए गये परिवार.
  • इस योजना में शहरी क्षेत्र के उन परिवारों को लिया जाएगा जो 11 विशेष पेशों में कार्यरत हैं.

सभी सरकारी योजनाएँ इस पेज पर जोड़े जा रहे हैं >> Govt Schemes in Hindi

Books to buy

17 Comments on “आयुष्मान भारत योजना 2018 के बारे में जानें in Hindi”

  1. मैं अल्प दृष्टि दिव्यांग ३४ वर्षीय अविवाहित युवक हूँ । मैं संबल योजना में पंजीकृत श्रमिक हूँ। मेरे अभिभावक मुझ पर ही आश्रित हैं । कृपया बताये के संबल योजना में पँजीकृत विकलांग युवक को आयुष्मान भारत योजना में लाभार्थी के रूप में पात्र हैं ?

  2. मुझे.इस.योजना। का. लाभ. मिलना.चाहीये

  3. Prelims को ध्यान में रखते हुए कुछ महत्वपूर्ण तथ्य बताने चाहिए..

  4. Ye yojna deshhit me bada acha kam karegi main 10_11 sale health care, hospital’s mai Pro ka job karta hu bahot khushi hui ye yojna ke bare me jankar muje isme kam karna hi.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.