कृषि एवं प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (APEDA) के बारे में जानें

RuchiraGovernanceLeave a Comment

APEDA (Agricultural and Processed Food Products Export Development Authority) द्वारा निर्मित पोर्टल – फार्मर कनेक्ट पोर्टल – से अब तक 800 कृषि उत्पादक संगठन (FPO) जुड़ चुके हैं. ज्ञातव्य है कि यह पोर्टल APEDA ने अपनी वेबसाइट पर इसलिए दिया है जिससे कि कृषि उत्पादक संगठन और कृषि उत्पादक कम्पनियाँ  निर्यातकों से सम्बन्ध बना सकें.

APEDA क्या है?

  1. APEDA का पूरा नाम है – कृषि एवं प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण / Agricultural and Processed Food Products Export Development Authority.
  2. APEDA वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय के तहत एक ऐसा निकाय है जिसका काम निर्यात को बढ़ावा देना है.
  3. इसकी स्थापना भारत सरकार द्वारा APEDA अधिनियम, 1985 के तहत की गई है.
  4. पहले इस निकाय का नाम प्रसंस्कृत खाद्य निर्यात प्रोत्साहन परिषद् (Processed Food Export Promotion Council – PFEPC) हुआ करता था.
  5. इस निकाय को यह उत्तरदायित्व सौंपा कि वह इन वस्तुओं के निर्यात पर विशेष ध्यान दें -फल, सब्जियाँ, मांस, मुर्गी, दूध उत्पाद, शहद, गुड़, चीनी, कोको, शराब और गैर-मादक पेय, आंचार, पापड, चटनी, अनाज, मूंगफली, अखरोट, फूल, ग्वार गम, जड़ी-बूटी और औषधीय पौधे.
  6. इसके अतिरिक्त APEDA को चीनी के आयात पर नजर रखने की जिम्मेदारी भी सौंपी गई है.
  7. इसे निर्यात उत्पादों के मानकों और विशिष्टताओं को निर्धारित करने और इनको डब्बाबंद करने और बाजार में लाने की भी जिम्मेवारी सौंपी गई है.
  8. नीति आयोग ने APEDA के द्वारा आर्गेनिक उत्पादों के लिए निर्धारित मानकों को लागू करने का निर्देश निर्गत किया है जिससे कि उनका विश्व के बाजार में अधिक से अधिक प्रवेश हो सके.

कृषि एवं प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण की प्रशासनिक बनावट

  1. अध्यक्ष – केंद्र सरकार द्वारा नियुक्त
  2. निदेशक – APEDA द्वारा नियुक्त
  3. सचिव – केंद्र सरकार द्वारा नियुक्त
  4. अन्य अधिकारी और कर्मचारी – APEDA द्वारा नियुक्त

कृषि उत्पादक संगठन (Farmer Producer Organisation – FPO) क्या है?

यह कृषि उत्पादकों का एक समूह है जिसके सदस्य इस संगठन में अंशधारकों (shareholders) के रूप में पंजीकृत होते हैं. यह समूह कृषि उत्पादक से जुड़ी व्यावसायिक गतिविधियों को देखता है और सदस्य उत्पादकों के लाभ के लिए काम करता है.

Books to buy

Leave a Reply

Your email address will not be published.