IAS की परीक्षा हिंदी माध्यम से दूँ या इंग्लिश माध्यम से?

Sansar LochanCivil Services Exam, Success Mantra136 Comments

hindi_vs_english
Print Friendly, PDF & Email

यह एक कड़वा सच है कि इंग्लिश माध्यम (English medium) के छात्रों के पास किताबों के लिए बहुत सारे विकल्प हैं. अनुभवी लेखकों के द्वारा इतिहास, भूगोल, अर्थशास्त्र आदि विषयों की कई किताबें इंग्लिश भाषा में लिखी गयी हैं और बाजार में भरी पड़ी हैं. इंग्लिश माध्यम वाले छात्रों के लिए किताबों की अपार संख्या तो उपलब्ध हैं ही, इसके अलावा इन्टरनेट की सम्पूर्ण दुनिया इंग्लिश में ही परोसी गयी हैं. विकिपीडिया, गूगल….सभी जगह इंग्लिश की प्रभुता है. इंग्लिश माध्यम वाले छात्र आसानी से हर टॉपिक को गूगल में सर्च कर के कई किताबों को access करते हैं और विकिपीडिया से नोट्स बना लेते हैं. The Hindu, Times  of India, Hindustan Times आदि कई अखबार भी इंग्लिश माध्यम वाले छात्रों के लिए उपलब्ध हैं जहाँ से डायरेक्टली सवाल पूछे जाते हैं. दूसरी तरह हिंदी माध्यम (Hindi medium) इन सुविधाओं से भी अछूते रह जाते हैं. इन्टरनेट पर Hindi contents बहुत कम उपलब्ध हैं. सच कहा जाए तो इसी कमी को पूरी करने के लिए मैंने यह ब्लॉग बनाया था पर एक अकेला इंसान सभी छात्रों की विभिन्न मांगों को पूरा कैसे करे? पर्फंतु फिर भी मेरा प्रयास जारी है और जारी रहेगा. हिंदी माध्यम की कुछ उत्कृष्ट किताबों के नाम मैंने इस पोस्ट में लिखा है, आप भी देखें:– IAS Books in Hindi

यह सच है कि इंग्लिश माध्यम के छात्र इन्टरनेट का इस्तेमाल कर के और कई किताबों को पढ़कर अच्छे नोट्स तैयार कर सकते हैं और यह भी सच है कि हिंदी माध्यम के छात्रों के लिए उत्कृष्ट किताबों की लिस्ट बहुत छोटी है और इन्टरनेट वर्ल्ड उनके लिए काफी सूना है  पर इसका मतलब यह बिल्कुल नहीं है कि हिंदी माध्यम वाले छात्र निराश हो कर बैठ जाएँ. उनकी दुनिया यहीं समाप्त नहीं होती. कुछ उत्कृष्ट किताबें हिंदी माध्यम में भी उपलब्ध हैं जिन्हें पढ़कर आपकी राह आसान हो सकती है. ऊपर की लिंक में कुछ किताबों के नाम हैं जिनपर आप आँख मूँद कर विश्वास कर सकते हैं.

एक महत्त्वपूर्ण बात मैं यहाँ पर कहना चाहूँगा कि यदि आपका इंग्लिश वीक है पर फिर भी आप इंग्लिश माध्यम में exam लिखने की सोच रहे हो तो आप अपने पैर पर कुल्हाड़ी मारने का काम रहे हो . आप जिस लैंग्वेज में भी अच्छा लिख पाते हो, उसी लैंग्वेज में परीक्षा लिखो. कई बार नॉन-इंग्लिश बैकग्राउंड वाले छात्र इंग्लिश माध्यम में परीक्षा लिखने का गलत निर्णय ले लेते हैं और बीच भँवर में फंस जाते हैं. न इधर के रहते हैं और न उधर के. न ही उन्हें ठीक से इंग्लिश समझ आ पाती है और न ही वह खुद का नोट्स बना पाते हैं. उनका अधिकांश समय इंग्लिश सीखने या समझने में ही लग जाता है और उनके लिए सिलेबस कवर करना सपना ही रह जाता है.

ऐसा अक्सर अफवाह उड़ाया जाता है कि इंग्लिश माध्यम के छात्र ही सिविल सेवा परीक्षा में सफल होते हैं और हिंदी माध्यम के छात्रों को मुंह की खानी पड़ती है. झोलाछाप कोचिंग ऐसी अफवाहें फैलाने में अग्रणी होते हैं क्योंकि उनके पास हिंदी ट्यूटर की कमी होती है. Previous results का हवाला देकर वे कहते हैं कि — “देखो! टॉप 50 में सिर्फ इंग्लिश माध्यम के छात्र ही हैं, हिंदी माध्यम के छात्र Top 100 में भी नहीं आ पाते”. पर यह आँकड़ा बिल्कुल गलत और ध्यान भटकाने वाला है. Top 100 में हिंदी माध्यम के छात्र हर वर्ष आते हैं. दूसरी तरफ सच्चाई यह है कि आजकल अधिकांश छात्र English medium schools में पढ़ते हैं. हिंदी माध्यम वाले स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों की संख्या लगातार घटती जा रही है और लोग प्राइवेट स्कूल की तरफ झुक रहे हैं जो English medium schools होते हैं. अब आप ही सोचिये, English medium students आगे जा कर हिंदी माध्यम का चुनाव क्यूँ करेंगे? मेडिकल, इंजीनियरिंग आदि के छात्र इंग्लिश माध्यम से ही सिविल सर्विसेज परीक्षा देते हैं. यही कारण है कि सिविल सर्विसेज में English medium VS Hindi medium छात्रों की संख्या में आसमान-जमीन का अंतर है और यही अंतर रिजल्ट में भी दिखता है.

हिंदी माध्यम के छात्र दैनिक जागरण, दैनिक भास्कर के editorials पढ़ सकते हैं. वैसे आप इतने प्रतिष्ठित परीक्षा को दे रहे हैं तो आपको थोड़ी बहुत इंग्लिश भी जाननी चाहिए और The Hindu, TOI के एडिटोरियल आपको समझ में आनी चाहिए. NCERT books भी हिंदी में सरल भाषा में उपलब्ध हैं. आप हिंदी माध्यम के छात्र हैं तो इसका रोना मत रोएँ….कोशिश करें कि आपकी इंग्लिश भी अच्छी हो जाए और आप इंग्लिश पढ़, सुन कर समझ सकें. ऐसा करने पर आपके पास इंग्लिश किताबों को पढ़ने का भी विकल्प होगा.

Books to buy

136 Comments on “IAS की परीक्षा हिंदी माध्यम से दूँ या इंग्लिश माध्यम से?”

  1. Sir m yeh puchna chati hu k m commerce k students hu b.com (h) sy graduation k h KY mujh business subject sy IAS kr skti hu plZ mujh btaiye sir m subject chose m bhut confused hu

    1. sir me gujart se hu gujrati medium me study krti hu to upsc exam muje gujrati lauguage me sab paper milege ki muje koi dusari lauguage me paper dena hoga pls reply…

      1. पेपर तो सिर्फ इंग्लिश और हिंदी में छपा होता है. प्रारम्भिक परीक्षा (prelims) में आपको हिंदी या इंग्लिश प्रश्नों को पढ़कर OMR sheet में ABCD में सही उत्तर का चयन करना होगा. रही बात मुख्य परीक्षा (mains) की तो आप चाहे तो गुजराती भाषा का चयन कर सकते हो. आपको गुजराती में उत्तर लिखना होगा. यहाँ भी प्रश्न पत्र हिंदी या अंग्रेजी में ही छपा होगा. यदि आप भले गुजराती साहित्य विषय का वैकल्पिक विषय के रूप में चयन करते हो तो आपको प्रश्न पत्र में गुजराती भाषा के प्रश्न दिखेंगे. पर आपको बाकी विषयों (GS PAPERS) के प्रश्न पत्र हिंदी या अंग्रेजी में ही पूछे जाएँगे जिसका आप जवाब गुजराती में दे सकते हो.

        एक और बात. मुख्य परीक्षा में अनिवार्य 2 पेपर होते हैं – एक भाषा का पेपर और एक इंग्लिश का. भाषा वाले पेपर में भी आप गुजराती ले सकते हो, जिसमें प्रश्न पत्र भी गुजराती में छपा होगा और उत्तर भी आप गुजराती में दे सकोगे.

  2. sir please help me i am confused i am hindi medium student i am want to giving exam upsc
    but i have one problem i want to you asked one queation
    which one i am choise hindi and english

  3. Hello sir mera Naam najrul he Mai bahut confused me hun ki Mai English language se exam dun ya fir hi hi Hindi language se Maine Hindi medium se inter pass kye h lekin graduation English krne ja rha hun mera kmjori ye h ki Mai English to smjh leta hun pr likh nhi pata hun Kya mujhe English se UPSC CSE ki tyyari Krna shi rhenge sir

    1. आप यदि इंग्लिश समझ जाते हैं, इंग्लिश मैगज़ीन, अखबार पढ़ लेते हैं तो लिखने की कोशिश भी करें. याद रहे आपको सिर्फ लिखना नहीं, अच्छा भी लिखना है. आप प्रैक्टिस कर के अपनी लेखन शक्ति किसी भी भाषा में इम्प्रूव कर सकते हैं.

    1. Yes mcq ke swaal ek hi hote hain jismen apko answer booklet me ABCD me jawaab dena hota hai. chaahe aap english padh kar do ya Hindi, ye to aap par hai. Hindi medium wale ko bhi ABCD me hi jawaab dena hai aur English waalo ko bhi.

      Rahi baat Descriptive yani main exam ki, usme aap usi language me exam doge jisko aapne UPSC ka form bharte samay select kiya hai. Jaise aapne UPSC ke form me Hindi select kiya hai to apko Mains Hindi me likhna hoga (you cannot change it later)

      Interview me bhi aap Hindi ya English opt kar skte ho. (pehle aisi suwidha nahi thi, magar ab ho gayi hai)

  4. Sir mane 12th tak Hindi medium mai padha hai or aub DU sai English medium mai Bsc ker rahi hu upse mara bahut bada dream hai but mai confuse hu Hindi medium mai ya English medium Mai exam k liya prepare karu yeah mara first year h mai thoda abhi start Karna cahati hu kya karu? Please reply

    1. ये आप के ऊपर है की ,वासे आप की जिस भाषा में पकड़ सही है आप उस भाषा का चयन UPSC के लिए करे सकती हो वेसे भाषा से इस एग्जाम में कोई फरक नहीं पड़ता है आप को सिर्फ अपनने उत्तर को सही से लिखना है ,फिर वो इंग्लिश में लिखो या हिंदी में तो कोई संका मन me na rakhe और UPSC की Preparation करना start करे दे बस.

    1. Yes you can write Mains exam in Oriya but Prelims exams will be conducted in only two languages i.e. Eng and Hin. It comes under eighth schedule.

      1) Assamese, (2) Bengali, (3) Gujarati, (4) Hindi, (5) Kannada, (6) Kashmiri, (7) Konkani, (8) Malayalam, (9) Manipuri, (10) Marathi, (11) Nepali, (12) Oriya, (13) Punjabi, (14) Sanskrit, (15) Sindhi, (16) Tamil, (17) Telugu, (18) Urdu (19) Bodo, (20) Santhali, (21) Maithili and (22) Dogri.

  5. Sir kya jo ias me essay likha jata hai wo english me hi likhna padta hai ya ham hindi me use likh sakte hai

    1. जिस माध्यम से भी आप मुख्य परीक्षा दोगे उसी माध्यम से निबंध का पेपर भी लिखना होगा.

  6. Sir mein.kheri se hu mera name balgovind hai.mein ba final ka student.hu mein upsc ki tayari kr Rha hu
    PR ek problem h mein English language mein bhut week hu kya kare sir kya Hindi.mein upsc ka.exam de skte hai

  7. Sir Mai starting se Hindi medium se hi padhai ki hu to Mai upsc ka exam hindi Mai aur interview bhi hindi mai de skti hu kya tell me

  8. Sir i m sandeep yadav up board se hun sir ias ke exam me 10th me kitane prasentege hona jaruri hain pz help me sir

  9. हेलो सर मैं 12वीं क्लास में पढ़ता हूं आगे मैं UPSC की तैयारी करना चाहता हूं तो मैं क्या करूं प्लीज सर बताइए

    1. उसी भाषा में जिस भाषा में आपने मेंस परीक्षा देने का निर्णय लिया है. निबंध समेत वैकल्पिक विषय और सामान्य अध्ययन पेपर एक ही भाषा में देने होंगे.

  10. Sir mai …av history paper se graduation kr rha hu …or mai upsc ka prepration krna chhah rha hu ..to kisi se suggestions leta hu to o sb bolte hai ki ..pehle koi general job le kr kro …tb smjh mai nhi aata kaise kru …sir plzzz kuch jarur btaye …plzzz

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.