[Sansar Surgery Part 16, 2018] Left Topics of Sansar DCA

Sansar LochanSansar SurgeryLeave a Comment

कई बार ऐसा होता है कि हमारी लाख मेहनत के बावजूद करंट अफेयर्स का कोई न कोई टॉपिक छूट ही जाता है. यह सिर्फ हमारे साथ ही नहीं, बड़ी-बड़ी कोचिंग संस्थाओं के साथ भी होता है. हम तो खैर छोटे लोग हैं और वैसे भी मानव की प्रकृति है कि कुछ भी परफेक्ट नहीं हो सकता.

खैर, जब हमने फिर से The Hindu और अन्य अखबारों पर अपनी पैनी नज़र दौड़ाई तो देखा कि कुछ important current affairs को हमने Sansar DCA में cover नहीं किया है या कभी-कभी हम उन टॉपिक को इसमें उठाते हैं जो Revision के लिए उपयुक्त हैं.

फिर हमने सोचा जो लोग UPSC Prelims 2019 को टारगेट कर रहे हैं और संसार लोचन टीम पर आँख मूँद कर भरोसा कर रहे हैं, हमारी यह भूल उनके लिए नाइंसाफी होगी. इसलिए हमने Sansar DCA से हटकर “Sansar Surgery Series” शुरू की है जिसमें वर्ष 2018 और आगामी वर्ष 2019 के वही टॉपिक शामिल होंगे जो हमारे द्वारा भूल से Sansar DCA में कवर नहीं किये गए हों. यह Sansar Surgery Series का पार्ट 16 है.

Sansar Surgery Part 16, 2018

OPCW (Organisation for the Prohibition of Chemical Weapons)

ओपीसीडब्ल्यू की स्थापना अप्रैल 1997 में हुई थी और इसका मुख्यालय हेग, नीदरलैंड में है. रासायनिक हथियारों के उन्मूलन के लिए किये गए इसके प्रयासों के लिए वर्ष 2013 में, इसे नोबेल शांति पुरस्कार से सम्मानित किया गया था. भारत सीडब्ल्यूसी के उन प्रारंभिक हस्ताक्षरकर्ताओं में से एक है जिनका प्रयास विश्व को रासायनिक हथियारों से मुक्त कराना है और ओपीसीडब्ल्यू इसकी कार्यान्वयन एजेंसी है. हाल ही में, सीरिया संकट और सीरिया में रासायनिक हथियारों के उपयोग के कारण, ओपीसीडब्ल्यू ने हमले के लिए ज़िम्मेदार देश / संगठन को इंगित करने की जिम्मेदारी स्वयं ली है. इससे पहले इसका कार्य यह पता लगाना था कि रासायनिक हथियारों का इस्तेमाल किया गया है या नहीं.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह टॉपिक इतना महत्त्वपूर्ण क्यों है?

इस टॉपिक को पूछने का उद्देश्य ओपीसीडब्ल्यू की रासायनिक हथियारों के साथ युद्ध में शामिल संगठन या देश को इंगित करने की शक्तियों से छात्रों को विस्तृत रूप में अवगत कराना है.

लोकपाल योजना

हाल ही में, आरबीआई ने लोकपाल योजना को कड़ा कर दिया है. आरबीआई ने 10 या उससे अधिक शाखाओं वाले सभी बैंकों को एक ‘स्वतंत्र आंतरिक लोकपाल (आईओ)’ रखने के लिए कहा है, क्योंकि लोगों ने शिकायत की है कि बैंकों द्वारा उनकी शिकायतों का निपटारा नहीं किया जाता है. इसलिए, जिन शिकायतों को आंशिक रूप से या पूरी तरह से खारिज कर दिया जाएगा, उनकी आईओ द्वारा समीक्षा की जाएगी. आईओ को केवल आरबीआई की पूर्व स्वीकृति से हटाया जा सकता है. आरआरबी (क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों) को इस योजना से छूट दी गई है.

अंतर्राष्ट्रीय छात्र आकलन के लिए कार्यक्रम (PISA)

PISA को वर्ष 2000 में ओईसीडी द्वारा विज्ञान और गणित की पढ़ाई के क्षेत्र में दुनिया भर के 15 वर्षों के छात्रों का आकलन करने के लिए पेश किया गया था. अतः कथन 1 गलत है. भारत वर्ष 2009 और 2015 में निराशाजनक प्रदर्शन के कारण PISA से दूर रहा. यह आकलन हर तीन साल में किया जाता है. वर्ष 2009 में, तमिलनाडु और यूपी के स्कूलों का चयन किया गया था, लेकिन सरकार ने मूल्यांकन के लिए चंडीगढ़ के स्कूलों का चयन किया. क्योंकि, चंडीगढ़ एक कॉम्पैक्ट क्षेत्र है और पढ़ने के आकलन में इसका अच्छे प्रदर्शन करने का रिकॉर्ड है. यहां के स्कूलों में, आमतौर पर दो भाषाओं का प्रयोग किया जाता है – हिंदी और अंग्रेजी, अतः परीक्षण का प्रबंधन आसान होगा.

रैपिड ट्राइडेंट

यह एक सैन्य अभ्यास का नाम है. यह वोस्टोक 2018 की प्रतिक्रिया स्वरूप किया गया है, जिसमें रूस, चीन और मंगोलिया शामिल थे. यूक्रेन के साथ एकजुटता दिखाने के लिए यह सैन्य अभ्यास नाटो और यूक्रेन के बीच किया गया है. नाटो, रूस को यह संदेश देना चाहता था कि वे यूक्रेन के साथ खड़े हैं.

चागोस द्वीप

हाल ही में, भारत ने “चागोस द्वीप” पर मॉरीशस के दावे का समर्थन किया है. चागोस द्वीपसमूह मालदीव के 500 किमी दक्षिण में स्थित है. यह ब्रिटेन और मॉरीशस के बीच एक विवादित क्षेत्र है. जहां, संयुक्त राज्य अमेरिका का सैन्य अड्डा डिएगो गार्सिया भी मौजूद है. ग्रेग्रेट चागोस एटोल दुनिया की सबसे बड़ी एटोल संरचना है.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह टॉपिक इतना महत्त्वपूर्ण क्यों है?

इस टॉपिक को चुनने का उद्देश्य मानचित्रों की महत्ता को देखते हुए जोकि, यूपीएससी वर्ष 2018 में बैरेन द्वीप के स्थान के सम्बंध में पूछे गए प्रश्नों से पता चलती है. छात्रों का ध्यान द्वीपों से सम्बंधित मानचित्रों की ओर आकृष्ट करना है.

माइक्रो टॉक्सिन्स

माइकोटॉक्सिन स्वाभाविक रूप से कुछ मोल्ड (कवक) द्वारा उत्पादित विषाक्त पदार्थ होते हैं और भोजन में पाए जा सकते हैं. मोल्ड विभिन्न फसलों और खाद्य पदार्थों जैसे कि अनाज, नट, मसाले, सूखे फल, सेब और कॉफी सेम, अक्सर गर्म और आर्द्र परिस्थितियों में बढ़ते हैं. वे रासायनिक रूप से बहुत स्थिर हैं और इस प्रकार खाद्य प्रसंस्करण में भी जीवित रहते हैं. वे फसल के पहले या बाद में बढ़ सकते हैं. वे कार्सिनोजेनिक हैं और जब हमारी खाद्य श्रृंखला में प्रवेश करते हैं तो कई बीमारियों का कारण बनते हैं.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह टॉपिक इतना महत्त्वपूर्ण क्यों है?

हाल ही में, डब्ल्यूएचओ ने किसानों से प्राप्त खाद्य पदार्थों के उचित संचालन के लिए आवाज उठाई है क्योंकि खाद्य वस्तुओं का खराब भंडारण मोल्ड (कवक) के प्रजनन का कारण होता है.

होप मार्स मिशन

होप मंगल मिशन या अमीरात मंगल मिशन वर्ष 2020 में संयुक्त अरब अमीरात द्वारा लॉन्च किया जाएगा. मंगल ग्रह के लिए, किसी भी अरब देश द्वारा लॉन्च किया जाने वाला यह पहला मिशन होगा. इसका मुख्य उद्देश्य मार्टिन वायुमंडल का अध्ययन करना है. इसमें एक इमेजर, इन्फ्रारेड स्पेक्ट्रोमीटर और अल्ट्रावाइलेट स्पेक्ट्रोमीटर होगा.

रबर उत्पादन

प्राकृतिक रबड़ “हेवी ब्रासिलिनेसिस“(Hevea brasiliensis) से उत्पादित होती है. पौधे से रबड़ लेटेक्स के निष्कर्षण को “टैपिंग” कहा जाता है. रबर के पौधे को नमी की तो आवश्यकता होती है लेकिन ठंडी परिस्थितियों की नहीं. इसलिए, पहाड़ी और तटीय इलाके रबर के बागानों के लिए अनुकूल होते हैं. भारत में रबर के कुल उत्पादन का 90% रबर उत्पादन केरल करता है. रबर को “सल्फर” के साथ 140-180 डिग्री तापमान पर गर्म करने की प्रक्रिया “वल्कनाइज़ेशन“(Vulcanisation) कहलाती है इस प्रक्रिया से इसे क्रॉस-लिंक संरचना मिलती है जो रबर को शक्ति प्रदान करती है.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह टॉपिक इतना महत्त्वपूर्ण क्यों है?

केरल में आई बाढ़ के कारण, रबर के बागान बहुत बुरी तरह प्रभावित हुए हैं, जोकि भारत में रबड़ का सबसे बड़ा उत्पादक है. इसलिए, हम प्रारंभिक परीक्षा को ध्यान में रखते हुए केरल से सम्बंधित सभी मुद्दों पर छात्रों का ध्यान आकृष्ट करने का प्रयास कर रहे हैं.

विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (FPI)

एफपीआई और एफडीआई दोनों बीओपी के तहत पूंजीगत खाते का हिस्सा हैं. हाल ही में, सेबी ने एफपीआई से एनआरआई / ओसीआई को निधि प्रबंधक बनने से प्रतिबंधित करने के लिए कहा है, क्योंकि भारतीय नागरिक भारत में अपने रिश्तेदारों / दोस्तों को अपना पैसा भेजकर भारतीय बाजार में निवेश करके लाभ प्राप्त कर रहे हैं. जोकि पैसे के “राउंड ट्रिपिंग” के अलावा कुछ भी नहीं है.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह टॉपिक इतना महत्त्वपूर्ण क्यों है?

इस टॉपिक को चुनने का उद्देश्य भारतीय अर्थव्यवस्था के संदर्भ में, विस्तृत रूप में “राउंड ट्रिपिंग” शब्द का अर्थ समझाते हुए छात्रों का ध्यान सेबी की ओर आकृष्ट करना है.

इदलिब प्रांत

इदलिब प्रांत, सीरिया के उत्तर-पश्चिमी हिस्से में स्थित है और केवल तुर्की के साथ सीमा साझा करता है क्योंकि, लेबनान सीरिया के दक्षिण में स्थित है. इदलिब प्रांत, आईएसआईएस का अंतिम “गढ़” है.

प्रारंभिक परीक्षा के लिए यह टॉपिक इतना महत्त्वपूर्ण क्यों है?

इदलिब प्रांत बहुत ही रणनीतिक स्थान पर है क्योंकि यह तुर्की के साथ सीमा साझा करता है और तुर्की के शरणार्थियों का इस मार्ग के माध्यम से आवागमन आसानी से हो सकता है. इसलिए, इसकी रणनीतिक महत्ता को देखते हुए हमारा प्रयास लगातार समाचारों में रहने वाले इस क्षेत्र की ओर छात्रों का ध्यान आकृष्ट करना है.

SLINEX

भारत और श्रीलंका के बीच द्विपक्षीय समुद्री अभ्यास की SLINEX श्रृंखला 2005 में शुरू की गई थी और तब से पांच सफल अभ्यास आयोजित किए गए हैं. वर्षों से SLINEX ने संकट के दौरान एक दूसरे के साथ सहयोग करने और एक दूसरे की सर्वोत्तम कलाओं को अपनाने में भारत और श्रीलंका दोनों की नौसेनाओं की मदद की है.

“प्लान बी”(Plan Bee)

हाथियों द्वारा रेल की पटरियाँ पार करते समय होने वाले दुर्घटनाओं की रोकथाम के लिए भारतीय रेलवे द्वारा “प्लान बी”(Plan Bee) का अनावरण किया है. इसके लिए एक सायरन तंत्र तैयार किया गया है जो “मधुमक्खियों” के झुण्ड की भनभनाहट वाली ध्वनि पैदा करता है जिसे हाथी 600 मीटर की दूरी से ही सुन लेते हैं. वस्तुतः हाथियों को मधुमक्खियों की ध्वनि अच्छी नहीं लगती है और वे उनसे दूर भागते हैं. अतः इसके प्रयोग से रेल की पटरियों को पार करते समय होने वाले दुर्घटनाओं से हाथियों को बचाने में सहायता मिलेगी.

क्लिक हियर तो विजिट >> Sansar Surgery

Books to buy

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.