Sansar डेली करंट अफेयर्स, 29 June 2021

Sansar LochanSansar DCA1 Comment

Sansar Daily Current Affairs, 29 June 2021


GS Paper 2 Source : The Hindu

the_hindu_sansar

UPSC Syllabus : Appointment to various Constitutional posts, powers, functions and responsibilities of various Constitutional Bodies.

Topic : Attorney General of India

संदर्भ

केंद्र सरकार द्वारा ‘भारत के महान्यायवादी’ (अटॉर्नी-जनरल) के.के. वेणुगोपाल का कार्यकाल एक वर्ष के लिए बढ़ा दिया गया है. अब वह 30 जून, 2022 तक सरकार के शीर्ष कानून अधिकारी के रूप में कार्यरत  रहेंगे.

अटॉर्नी जनरल संवैधानिक प्रावधान

  • भारतीय संविधान के अनुच्छेद 76 के अनुसार, भारत का अटॉर्नी जनरल (AG) भारत का सबसे बड़ा कानून अधिकारी होता है.
  • भारत सरकार के मुख्य कानून सलाहकार होने के नाते अटॉर्नी जनरल सभी कानूनी मामलों पर केंद्र सरकार को सलाह देने का कार्य करता है.
  • इसके अतिरिक्त भारत का अटॉर्नी जनरल सर्वोच्च न्यायालय में केंद्र सरकार का प्रतिनिधित्त्व भी करता है.

अटॉर्नी जनरल की नियुक्ति

  • भारतीय संविधान के अनुच्छेद 76 के अनुसार, अटॉर्नी जनरल (AG) की नियुक्ति भारत के राष्ट्रपति द्वारा की जाती है.
  • अटॉर्नी जनरल के रूप में नियुक्त होने के लिये उन योग्यताओं का होना अनिवार्य है, जो सर्वोच्च न्यायालय के किसी न्यायाधीश की नियुक्ति के लिये आवश्यक है.
  • सरल शब्दों में कहा जाए तो अटॉर्नी जनरल के रूप में नियुक्त होने के लिये आवश्यक है कि वह व्यक्ति भारत का नागरिक हो, उसे उच्च न्यायालय के न्यायाधीश के रूप में कार्य करने का पाँच वर्षों का अनुभव हो या किसी उच्च न्यायालय में वकालत का 10 वर्षों का अनुभव हो अथवा राष्ट्रपति के मतानुसार वह न्यायिक मामलों का योग्य व्यक्ति हो.
  • विदित हो कि संविधान में अटॉर्नी जनरल के कार्यकाल के संबंध में कोई निश्चित व्याख्या नहीं दी गई है, हालाँकि राष्ट्रपति द्वारा कभी भी उन्हें इस पद से हटाया जा सकता है. इसके अलावा अटॉर्नी जनरल किसी भी समय राष्ट्रपति को अपना इस्तीफा सौंप कर पदमुक्त हो सकता है.
  • संविधान निर्माण की बहस के दौरान एक सदस्य द्वारा इस ओर ध्यान इंगित किया गया था कि प्रधानमंत्री के इस्तीफे के साथ उनके अटॉर्नी जनरल का कार्यकाल भी समाप्त हो जाना चाहिये, क्योंकि उसकी नियुक्ति सरकार की सिफारिशों के आधार पर की जाती है, हालाँकि इस संशोधन प्रस्ताव को मूल संविधान में शामिल नहीं किया गया था.
  • संविधान में अटॉर्नी जनरल का पारिश्रमिक निर्धारित नहीं किया गया है, संविधान के अनुच्छेद 76 के अनुसार, अटॉर्नी जनरल के पारिश्रमिक का निर्धारण राष्ट्रपति द्वारा किया जाता है.

अटॉर्नी जनरल- कार्य और शक्तियाँ

  • भारत सरकार को विधि संबंधी ऐसे विषयों पर सलाह देना, जो राष्ट्रपति द्वारा सौंपे गए हों.
  • विधिक स्वरूप वाले ऐसे अन्य कर्त्तव्यों का पालन करना, जो राष्ट्रपति द्वारा सौंपे गए हों.
  • सर्वोच्च न्यायालय में भारत सरकार से संबंधित मामलों में सरकार का प्रतिनिधित्व करना.
  • भारत सरकार से संबंधित किसी मामले में उच्च न्यायालय में सुनवाई का अधिकार.
  • संविधान अथवा किसी अन्य विधि द्वारा प्रदान किये गए कृत्यों का निर्वहन करना.

GS Paper 2 Source : PIB

pib_logo

UPSC Syllabus : Issues related to health.

Topic : International Day against Drug Abuse and Illicit Trafficking

संदर्भ

7 दिसंबर 1987 को ‘संयुक्त राष्ट्र महासभा’ द्वारा ‘26 जून’ के लिए ‘नशीली दवाओं के दुरुपयोग और अवैध तस्करी के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय दिवस’ (International Day against Drug Abuse and Illicit Trafficking) के रूप में चुना गया था.

उद्देश्य: नशीली दवाओं से संबंधित मुद्दों के बारे में जागरूकता पैदा करना तथा स्वास्थ्य, समाज और प्रशासन पर पड़ने वाले इसके प्रभावों का मुकाबला करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय सहयोग प्राप्त करना.

विषय और उसका महत्त्व

इस वर्ष की थीम: ‘शेयर फैक्ट्स ऑन ड्रग्स, सेव लाइव्स’ (Share Facts On Drugs, Save Lives) है.

‘संयुक्त राष्ट्र मादक पदार्थ और अपराध कार्यलय’ (United Nations Office on Drugs and Crime – UNODC) के अनुसार, इस थीम का उद्देश्य, स्वास्थ्य जोखिम और विश्व ड्रग्स समस्या के समाधान से लेकर साक्ष्य-आधारित रोकथाम, उपचार और देखभाल तक, नशीली दवाओं से सम्बंधित वास्तविक तथ्यों को साझा करके गलत सूचना को रोकना है.

वर्ल्ड ड्रग रिपोर्ट’ 2021 (World Drug Report)

  • वर्ष 2010-2019 के बीच वैश्विक जनसंख्या में वृद्धि के कारण नशीली दवाओं का उपयोग करने वाले लोगों की संख्या में 22 प्रतिशत की वृद्धि हुई.
  • पिछले वर्ष दुनिया भर में लगभग 275 मिलियन लोगों ने नशीली दवाओं का इस्तेमाल किया, जबकि 36 मिलियन से अधिक लोग नशीली दवाओं के उपयोग संबंधी विकारों से पीड़ित थे.
  • नशीली दवाओं के उपयोग के कारण होने वाली बिमारियों के लिये ‘ओपिओइड’ सबसे ज्यादा उत्तरदायी है.
  • कोरोना वायरस महामारी के दौरान फार्मास्युटिकल दवाओं के गैर-चिकित्सा उपयोग में भी वृद्धि देखी गई.
  • पिछले 24 वर्षों में विश्व के कुछ भागों में भांग की क्षमता चार गुना तक बढ़ गई है, यहाँ तक ​​कि भांग को हानिकारक मानने वाले किशोरों की संख्या में भी 40 प्रतिशत की गिरावट आई है.
  • भांग में प्रमुख मनो-सक्रिय घटक Δ9-THC लंबे समय से मानसिक स्वास्थ्य विकारों के विकास के लिये उत्तरदायी है.

मादक पदार्थों की तस्करी की समस्या से निपटने हेतु भारत सरकार की नीतियाँ और पहलें

  1. विभिन्न स्रोतों से उपलब्ध आंकड़ों के आधार पर, देश के 272 जिलों में नशा मुक्त भारत अभियान या ड्रग्स-मुक्त भारत अभियान को 15 अगस्त 2020 को हरी झंडी दिखाई गई.
  2. सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय द्वारा वर्ष 2018-2025 की अवधि के लिए ‘नशीली दवाओं की मांग में कमी लाने हेतु राष्ट्रीय कार्ययोजना’ (National Action Plan for Drug Demand Reduction- NAPDDR) का कार्यान्वयन शुरू किया गया है.
  3. सरकार द्वारा नवंबर, 2016 में नार्को-समन्वय केंद्र (NCORD) का गठन किया गया है.
  4. सरकार द्वारा नारकोटिक ड्रग्स संबंधी अवैध व्यापार, व्यसनी / नशेड़ियों के पुनर्वास, और नशीली दवाओं के दुरुपयोग के खिलाफ जनता को शिक्षित करने आदि में होने वाले व्यय को पूरा करने हेतु “नशीली दवाओं के दुरुपयोग नियंत्रण हेतु राष्ट्रीय कोष” (National Fund for Control of Drug Abuse) नामक एक कोष का गठन किया गया है .

GS Paper 3 Source : PIB

pib_logo

UPSC Syllabus : Achievements of Indians in science & technology; indigenization of technology and developing new technology.

Topic : National Statistics Day

संदर्भ 

सामाजिक-आर्थिक नियोजन और नीति तैयार करने में सांख्यिकी के महत्त्व के विषय में जन जागरुकता पैदा करने के उद्देश्य से देश में प्रत्येक वर्ष 29 जून को राष्ट्रीय सांख्यिकी दिवस के रूप में मनाया जाता है.

राष्ट्रीय सांख्यिकी दिवस क्या है?

  • यह दिन भारत के प्रख्यात सांख्यिकीविद दिवंगत प्रशांत चंद्र महालनोबिस की जन्मतिथि के अवसर पर मनाया जाता है. विदित हो कि द्वितीय पंचवर्षीय योजना इन्हीं के द्वारा तैयार की गयी थी.
  • सांख्यिकी में इनके महत्त्वपूर्ण योगदान को ध्यान में रखते हुए 2007 में उनकी जन्मतिथि के अवसर पर हर साल 29 जून का दिन राष्ट्रीय सांख्यिकी दिवस के रूप में मनाने का निर्णय किया गया था.
  • प्रत्येक वर्ष सांख्यिकी दिवस सामयिक राष्ट्रीय महत्व की विषय वस्तु के साथ मनाया जाता है जो चयनित क्षेत्रों में सुधार लाने के उद्देश्य से कई कार्यशालाओं एवं संगोष्ठियों के द्वारा वर्ष भर चलता है.
  • सांख्यिकी दिवस, 2020 की विषय वस्तु एसडीजी-3 ( स्वस्थ जीवन सुनिश्चित करें एवं सभी उम्रों के लिए कल्याण को बढ़ावा दें) तथा एसडीजी-5 (लैंगिक समानता हासिल करें और सभी महिलाओं तथा लड़कियों को अधिकारसंपन्न बनायें) चयनित की गई है.
  • इस अवसर पर प्रो. पी सी महालानोबिस राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता को सम्मानित किया जाएगा. इस राष्ट्रीय पुरस्कार का गठन 2019 में किया गया था.
  • ध्यातव्य है कि विश्व सांख्यिकी दिवस 20 अक्टूबर को मनाया जाता है.

इस टॉपिक से UPSC में बिना सिर-पैर के टॉपिक क्या निकल सकते हैं?

देश दुनिया के इतिहास में 29 जून की तारीख पर दर्ज कुछ अन्य महत्वपूर्ण घटनाओं का सिलसिलेवार ब्यौरा इस प्रकार है:-  1613 : शेक्सिपयर का लंदन स्थित ग्लोब थियेटर आग लगने से क्षतिग्रस्त. 1757 : मीर जाफर ने बंगाल, बिहार और ओडिशा के नवाब की गद्दी संभाली. 1888 : शास्त्रीय संगीत की पहली (ज्ञात) रिकॉर्डिंग की गई. 1913 : यूनान सर्बिया मोंटे नेग्रो, रोमानिया और उस्मानी शासन के साथ बुल्गाारिया का युद्ध शुरू हुआ, जो दूसरे बाल्कन युद्ध के नाम से जाना जाता है. 1932 : सोवियत संघ और चीन ने अनाक्रमण संधि पर हस्ताक्षर किए. 1974 : सशेल्स द्वीपसमूह को स्वतंत्रता मिली. 


GS Paper 2 Source : The Hindu

the_hindu_sansar

UPSC Syllabus : Effect of policies and politics of developed and developing countries on India’s interests, Indian diaspora.

Topic : Russo-British dispute over the Black Sea region

संदर्भ

हाल ही में रूस ने ब्रिटिश राजदूत को बुलाकर ब्रिटिश नौसेना द्वारा रूस की समुद्री सीमा में प्रवेश करने के सम्बन्ध में आधिकारिक तौर पर फटकार लगाई है.

विवाद की जड़

ब्रिटिश नौसेना के HMS डिफेंडर की काला सागर क्षेत्र में गतिविधियों को लेकर रूस ने चेतावनी जारी की है. रूस के अनुसार क्रीमिया रूस का भाग है तथा इसके तट से लगता हुआ काला सागर का क्षेत्र रूसी समुद्री सीमा में आता है, जबकि ब्रिटेन एवं विश्व के अधिकांश देश वर्ष 2014 में रूस द्वारा क्रीमिया पर किये गये कब्जे को अवैध मानते हैं तथा क्रीमिया को यूक्रेन का ही हिस्सा मानते हैं. इस प्रकार ब्रिटिश सरकार के अनुसार ब्रिटेन का युद्धपोत अंतर्राष्ट्रीय जलक्षेत्र में था न कि रुसी क्षेत्र में.

काला सागर

  • काला सागर एक महाद्वीपीय समुद्र है जो दक्षिण-पूर्वी यूरोप, कॉकेशस और अनातोलिया के प्रायद्वीप (तुर्की) से घिरा है. अटलांटिक महासागर में यह भूमध्य और एजियन सागरों और विभिन्न जलडमरूमध्यों के माध्यम से जुड़ा हुआ है. इसमें बोस्पोरस की जलसंयोगी मारमरा सागर का नाम उल्लेखनीय है.
  • काला सागर का क्षेत्रफल 436,400 वर्ग किलोमीटर है, तथा अधिकतम गहराई 2,212 मीटर है.
  • इसमें प्रमुखत: डेन्यूब, नीपेर तथा डॉन नदियों का जल आकर गिरता है.
  • हाल ही में तुर्की के राष्ट्रपति ने काला सागर क्षेत्र में अब तक के सबसे प्राकृतिक बड़े गैस भंडार (320 अरब क्यूबिक मीटर) की खोज की घोषणा की है.
  • बोस्फोरस जलसंधि इसे मारमरा सागर से जोड़ती है तथा केर्च जलसंधि इसे एजोव सागर से जोड़ती है.

black sea

कर्च जलडमरूमध्य की महत्ता

कर्च जलडमरूमध्य कृष्ण सागर (Black Sea) और अजोव सागर के बीच एकमात्र सम्पर्कसूत्र है. मात्र इसी से होकर यूक्रेन के दो बड़े बंदरगाहों – Mariupol और Berdiansk – तक पहुँचा जा सका है. 2014 में रूस ने क्रीमिया पर कब्ज़ा कर लिया था और तब से वह कर्च जलडमरूमध्य पर नियंत्रण रखे हुए है जिसके कारण यूक्रेन के जहाजों को भयंकर परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है.

अजोव सागर की महत्ता

यह सागर पूर्वी यूरोप में स्थित है. यह इसके दक्षिण में स्थित लगभग 4 किलोमीटर संकरे कर्च जलडमरूमध्य से कृष्ण सागर से जुड़ा हुआ है. इसीलिए इसे कभी-कभी कृष्ण सागर का उत्तरमुखी विस्तार भी कहा जाता है.

  • अजोव सागर के उत्तर और पश्चिम में यूक्रेन है और पूर्व में रूस.
  • दोन (Don) और कूबन (Kuban) वे दो बड़ी नदियाँ हैं जो इसमें आकर गिरती हैं.
  • अजोव सागर की गहराई 0.9 और 14 मीटर के बीच है. अतः यह विश्व का सबसे छिछला सागर (shallowest sea) है.

Prelims Vishesh

China to send first crew to Space Station :-

  • चीन, तियांगोंग अंतरिक्ष स्टेशन के लिए 3 अंतरिक्ष यात्रियों के साथ शेनझोउ-12 अंतरिक्ष यान का प्रक्षेपण करेगा.
  • वर्ष 2003 में अपनी क्षमता के बल पर अंतरिक्ष यात्री भेजने वाला तीसरा देश बनने के बाद से चीन पहले ही 11 अंतरिक्ष यात्रियों को अंतरिक्ष में भेज चुका है.
  • अमेरिकी कानून द्वारा चीनी अंतरिक्ष यात्रियों को अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन पर प्रतिबंधित किया गया है.
  • अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन अमेरिका, रूस, कनाडा, यूरोप और जापान के मध्य सहयोगी परियोजना है.

Indo-German Science and Technology Centre: IGSTC :-

  • हाल ही में IGSTC औद्योगिक अध्येतावृत्ति कार्यक्रम आरम्भ किया गया है.
  • इसका उद्देश्य जर्मन उद्योगों और औद्योगिक अनुसंधान व विकास संस्थानों में औद्योगिक प्रदर्शन के लिए विज्ञान एवं इंजीनियरिंग में युवा भारतीय पीएचडी छात्रों व पोस्ट-डॉक्टरेट शोधकर्ताओं की सहायता करेगी.
  • इंडो-जर्मन साइंस एंड टेक्नोलॉजी सेंटर (IGSTC) की स्थापना भारत सरकार के विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (DST) और जर्मन सरकार द्वारा की गई थी.
  • इसका उद्देश्य भारत-जर्मन की अनुसंधान और प्रौद्योगिकी नेटवर्किंग का उपयोग करते हुए अनुप्रयुक्त अनुसंधान और प्रौद्योगिकी विकास एवं उद्योग में भागीदारी की सुविधा प्रदान करने पर जोर देना है.
  • IGSTC अपने प्रमुख कार्यक्रम ‘2+2 परियोजनाओं’ के जरिये भारत और जर्मनी से अनुसंधान और अकादमिक संस्थानों एवं सार्वजनिक/निजी उद्योगों की क्षमता को समन्वित करके नवाचार केंद्रित अनुसंधान और विकास परियोजनाओं को उत्प्रेरित करता है.

Click here to read Sansar Daily Current Affairs – Current Affairs Hindi

May,2021 Sansar DCA is available Now, Click to Downloadnew_gif_blinking

Print Friendly, PDF & Email

One Comment on “Sansar डेली करंट अफेयर्स, 29 June 2021”

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.