Sansar डेली करंट अफेयर्स, 25 May 2021

Sansar LochanSansar DCALeave a Comment

Sansar Daily Current Affairs, 25 May 2021


GS Paper 1 Source : The Hindu

the_hindu_sansar

UPSC Syllabus : Important Geophysical phenomena such as earthquakes, Tsunami, Volcanic activity, cyclone etc.

Topic : What is Sun’s halo?

संदर्भ

हाल ही में, बेंगलुरु में एक मंत्रमुग्ध कर देने वाली घटना – सूर्य के चारों ओर इंद्रधनुष के समान रचना का निर्माण- देखी गई. सूर्य के चारों ओर इस वृत्ताकार इंद्रधनुष को ‘सूर्य प्रभामंडल’ (Sun halo) के रूप में जाना जाता है.

Sun halo

सूर्य प्रभामंडल’ क्या होता है और यह कैसे निर्मित होता है?

  1. सूर्य के चारों ओर दिखाई देने वाला प्रभामंडल एक 22डिग्री का वलय है, जो कि श्वेत प्रकाश किरणों के ऊपरी स्तर के पक्षाभ मेघों (Cirrus Clouds) में उपस्थित बर्फ के क्रिस्टलों से होकर गुजरने पर प्रकाश का प्रकीर्णन होने के कारण दिखाई देता है, और इसी के चलते प्रभामंडल में इन्द्रधनुषी रंग दिखाई देते हैं.
  2. बादलों में लाखों छोटे बर्फ के क्रिस्टल विद्यमान होते हैं, जिनसे होकर गुजरने पर प्रकाश का अपवर्तन, प्रकीर्णन तथा परावर्तन होता ही, और एक गोलाकार इंद्रधनुष वलय का आभास होता है.
  3. प्रभामंडल दिखाई देने के लिए, ये क्रिस्टल दृष्टि के अनुरूप, उन्मुख और अवस्थित होने चाहिए.

चंद्र प्रभामंडल (Lunar Halos) क्या होता है?

चंद्रमा के चारों ओर देखे जाने वाले ‘चंद्र प्रभामंडल’ अधिकांशतः रंगहीन होते हैं क्योंकि चंद्रमा का प्रकाश अर्थात चांदनी बहुत चमकदार नहीं होती है.


GS Paper 2 Source : The Hindu

the_hindu_sansar

UPSC Syllabus : Issues relating to development and management of Social Sector/Services relating to Health, 

Topic : The covid-19 boost to health insurance

संदर्भ

कोविड-19 महामारी ने भारतीय बीमा क्षेत्र को प्रोत्साहन प्रदान किया है. हाल ही की एक रिपोर्ट से पता चला है कि भारत में जीवन और गैर-जीवन बीमा (जैसे स्वास्थ्य, ऑटोमोबाइल या साइबर बीमा) बाजार में आगामी पांच वर्षों में लगभग 7% की चक्रवृद्धि वार्षिक वृद्धि दर दर्ज करने का अनुमान है.

कोविड-19 के कारण बढ़ती जागरूकता और सुरक्षा की अंग के कारण जीवन एवं स्वास्थ्य बीमा की मांग में अच्छी-खासी वृद्धि परिलक्षित हुई है.

बीमा क्या है?

  • बीमा को एक अनुबंध के रूप में परिभाषित किया गया है.
  • यह अनुबंध एक पॉलिसी द्वारा प्रस्तुत किया जाता है, जिसमें एक व्यक्ति या संस्था को बीमा कंपनी से अनुबंधित क्षति के विरुद्ध वित्तीय सुरक्षा या प्रतिपूर्ति प्राप्त होती है.
  • परंपरागत रूप से, भारत में बीमा को एक आकर्षक उत्पाद की बजाये निवेश या प्रेरक उत्पाद (push product) के रूप में संदर्भित किया जाता है.

मुख्य बिंदु

  • आर्थिक सर्वेक्षण 2020-21 में वर्णित किया गया है कि भारत की बीमा पैठ, जो वर्ष 2001 में 2.71% थी, वर्ष 2019 में लगातार बढ़कर 3.76% हो गई, परंतु वैश्विक औसत 7.23% से बहुत नीचे रहा.
  • इसी प्रकार, वर्ष 2019 में बीमा घनत्व लगभग 78 डॉलर (जीवन खंड में 58 डॉलर और गैर-जीवन खंड में 19 डॉलर) था, जो कि वैश्विक बीमा घनत्व से बहुत कम था.

सरकार द्वारा उठाये गये कदम

  • केंद्रीय बजट 2021 में बीमा में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI) की सीमा 49% से बढ़ाकर 74% की गई है.
  • प्रधान मंत्री सुरक्षा बीमा योजना और प्रधान मंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना का शुभारंभ किया गया है. फसल बीमा योजना के लिए आवंटन में वृद्धि की गई है.

GS Paper 2 Source : The Hindu

the_hindu_sansar

UPSC Syllabus : Related to health.

Topic : Zoonotic Diseases

संदर्भ

हाल ही में, विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने H5N1, एवियन इन्फ्लूएंजा, मिडल ईस्ट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम (MERS), इबोला, जीका (Zika) और संभवत: नोवेल कोरोनावायरस रोग (COVID-19) जैसे पशुजन्य-रोगों अर्थात जूनोटिक रोगों (Zoonotic Diseases) के उद्भव और प्रसार का अध्ययन करने हेतु एक उच्च स्तरीय विशेषज्ञ समिति ‘वन हेल्थ’ (One Health) का गठन किया गया है.

संदर्भ शर्तें

  1. यह समिति भविष्य में, विशेषकर पशुजन्य (जूनोटिक) रोगों के कारण फैलने वाले प्रकोपों से बचने संबंधी उपायों के बारे में वैश्विक एजेंसियों को सलाह प्रदान करेगी.
  2. विशेषज्ञ समिति, इसके लिए एक निगरानी तंत्र तथा वैश्विक कार्य योजना भी विकसित करेगी.

पृष्ठभूमि

जूनोटिक रोगों – जानवरों से मनुष्यों में संचारित होने वाला रोगजनक संक्रमण- के कारण अतीत में भी महामारी फ़ैल चुकी हैं. प्रत्येक चार संक्रामक रोगों में से तीन रोग ‘जूनोसिस’ अर्थात पशुजनित-बीमारियों के कारण होते हैं. विश्व के अधिकाँश वैज्ञानिकों द्वारा कोविड-19 महामारी को भी एक जूनोसिस (zoonosis) होने का संदेह व्यक्त किया गया है.

ज़ूनोसिस/ज़ूनोटिक रोग

  • ऐसे रोग जो पशुओं के माध्यम से मनुष्यों में फैलते है उन्हें ज़ूनोसिस या ज़ूनोटिक रोग कहा जाता है.
  • ज़ूनोटिक संक्रमण प्रकृति या मनुष्यों में जानवरों के अलावा बैक्टीरिया,वायरस  या परजीवी के माध्यम से फैलता है.
  • एचआईवी-एड्स, इबोला, मलेरिया, रेबीज़ तथा वर्तमान कोरोनावायरस रोग (COVID-19) ज़ूनोटिक संक्रमण के कारण फैलने वाले रोग हैं.

वन हेल्थ’ अवधारणा क्या है?

  • वन हेल्थ का सिद्धांत संयुक्त राष्ट्र के खाद्य एवं कृषि संगठन (Food and Agriculture Organization-FAO) विश्व पशु स्वास्थ्य संगठन (World Organization for Animal Health- OIE) की पहल है.
  • इसका उद्देश्य मानव स्वास्थ्य, पशु स्वास्थ्य, मिट्टी, पर्यावरण एवं पारिस्थितिकी तंत्र जैसे विभिन्न विषयों के ज्ञान को कई स्तरों पर साझा करने के लिये प्रोत्साहित करना है, जो सभी प्रजातियों के स्वास्थ्य में सुधार, रक्षा और बचाव के लिये आवश्यक है.
  • वर्ष 2007 में वन्यजीव संरक्षण सोसायटी (Wildlife Conservation Society- WCS) ने मैनहट्टन सिद्धांतों की 12 संस्तुतियों को ध्यान में रखते हुए ‘एक विश्व-एक स्वास्थ्य’ (One World-One Health) के सिद्धांत का प्रतिपादन किया. यह महामारियों को रोकने एवं पारिस्थितिकी तंत्र की अक्षुण्णता को बनाए रखने के आदर्श दृष्टिकोण पर आधारित है.

GS Paper 3 Source : Down to Earth

down to earth

UPSC Syllabus : Conservation related issues.

Topic : Banni grasslands

संदर्भ

राष्ट्रीय हरित अधिकरण (National Green Tribunal – NGT) द्वारा छह महीने के भीतर गुजरात के बन्नी घास-मैदानों (Banni grasslands) से सभी प्रकार का अतिक्रमण हटाने का आदेश दिया दिया गया है.

  1. इसके साथ ही अधिकरण ने एक संयुक्त समिति को एक महीने में ‘कार्य-योजना’ तैयार करने का निर्देश दिया है.
  2. न्यायालय ने यह भी कहा है, कि वन अधिकार अधिनियम, 2006 की धारा 3 के प्रावधानों के अनुसार, मालधारी समुदाय के लिए प्राप्त, सामुदायिक वनों के संरक्षण का अधिकार, यथावत रहेगा.

संबंधित प्रकरण

मई, 2018 में, मालधारी समुदाय द्वारा पारिस्थितिक रूप से संवेदनशील घास के मैदानों में व्यापक स्तर पर किए जा रहे अतिक्रमण के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया था.

मालधारी समुदाय

  • मालधारी बन्नी में रहने वाला एक आदिवासी चरवाहा समुदाय है.
  • मूल रूप से इस खानाबदोश जनजाति को जूनागढ़ (मुख्य रूप से गिर वन) में बसने के बाद से मालधारी के रूप में जाना जाने लगा.
  • मालधारी का शाब्दिक अर्थ पशु भंडार (माल) का रखवाला (धारी) होता है.
  • इनके पालतू पशुओं में भेड़, बकरी, गाय, भैंस और ऊँट शामिल हैं.
  • गिर वन राष्ट्रीय उद्यान (Gir Forest National Park) लगभग 8,400 मालधारियों का घर है.

बन्नी घास के मैदान

  • यह मैदान गुजरात में कच्छ के रण के पास स्थित एशिया का सबसे बड़ा घास का मैदान है.
  • यह 2,618 किलोमीटर में फैला हुआ है, जिसके अंतर्गत गुजरात का लगभग 45% चरागाह क्षेत्र आता है.
  • बन्नी में दो पारिस्थितिकी तंत्र (आर्द्रभूमि और घास के मैदान) एक साथ पाए जाते हैं.
  • बन्नी में वनस्पति कम सघन रूप में मिलती है और यह वर्षा पर अत्यधिक निर्भर होती है.
  • बन्नी घास के मैदान परंपरागत रूप से चक्रीय चराई (Rotational Grazing) की एक प्रणाली के बाद प्रबंधित किये गए थे.
  • बन्नी में कम उगने वाले पौधों (फोर्ब्स और ग्रामीनोइड्स) का प्रभुत्व है, जिनमें से कई हेलो फाइल (नमक सहिष्णु) हैं, साथ ही यहाँ पेड़ों और झाड़ियों का आवरण भी है.
  • यह क्षेत्र वनस्पतियों और जीवों से समृद्ध है, जिसमें पौधों की 192 प्रजातियाँ, पक्षियों की 262 प्रजातियाँ और स्तनधारियों, सरीसृप तथा उभयचरों की कई प्रजातियाँ रहती हैं.

Prelims Vishesh

Cabinet approves Opening of a new Consulate General of India in Addu City, Maldives :-

  • हाल ही में भारत सरकार के केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने मालदीव के अड्डू शहर में भारत के एक नए वाणिज्य दूतावास को खोलने की स्वीकृति दी है.
  • प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में वर्ष 2021 में मालदीव के अड्डू शहर में भारत के एक नए वाणिज्य दूतावास को खोलने की स्वीकृति दी गई है.
  • भारत और मालदीव के बीच प्राचीन काल से ही जातीय, भाषाई, सांस्कृतिक, धार्मिक और व्यापारिक संबंध रहे हैं.

Click here to read Sansar Daily Current Affairs – Current Affairs Hindi

February, 2020 Sansar DCA is available Now, Click to Download

Read them too :
[related_posts_by_tax]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.