Sansar डेली करंट अफेयर्स, 23 November 2018

Sansar LochanSansar DCA6 Comments

Print Friendly, PDF & Email


Sansar Daily Current Affairs, 23 November 2018


GS Paper 1 Source: PIB

pib_logo

Topic : Sangai tourism festival

sangai fest

संदर्भ

मणिपुर राज्य प्रत्येक वर्ष 21 से 30 नवम्बर के बीच मणिपुर संगाई उत्सव मनाता है.

संगाई उत्सव क्या है?

संगाई उत्सव मणिपुर में मनाया जाने वाला एक वार्षिक सांस्कृतिक समारोह है. इसे राज्य का सबसे भव्य समारोह माना जाता है जो मणिपुर को विश्व श्रेणी का पर्यटन गन्तव्य बनाने में सहायता करता है. इस अवसर पर राज्य की पर्यटन संभावनाओं को प्रदर्शित करने के लिए राज्य की जिन वस्तुओं का मेला लगता है, वे हैं – हस्तशिल्प, हथकरघा, देशी खेलकूद, मणिपुरी खान-पान, संगीत, साहसिक खेलकूद आदि.

भूमिका

संगाई उत्सव का नाम मणिपुर राज्य के राज्य पशु संगाई पर पड़ा है. संगाई एक हिरन का नाम है जो केवल मणिपुर में पाया जाता है. यह उत्सव 2010 से चल रहा है और धीरे-धीरे यहाँ संसार भर से लोग मणिपुर की समृद्ध परम्पराओं और संस्कृति को देखने आने लगे हैं.

इस समारोह के मुख्य आकर्षणों में एक रास लीला है जो भारत के किसी भी नृत्य शैली से अलग है. इसके अतिरिक्त यहाँ का कबुई नागा नृत्य, बाँस नृत्य, मैबी नृत्य, लाइ हराओबा नृत्य और खम्बा थोईबी नृत्य प्रसिद्ध हैं. जहाँ तक खेलकूद की बात है, यहाँ की युद्ध कला थांग ता सुप्रसिद्ध है जिसमें भाला और तलवार दोनों चलाये जाते हैं. एक और प्रसिद्ध खेल जो नारियल से रग्बी की भाँति खेला जाता है, उसे यूबी-लाक्पी कहते हैं. मुक्ना कांगजई खेल हॉकी और कुश्ती का मिश्रण होता है. एक और खेल जो मणिपुर में ही पनपा है, वह है मॉडर्न पोलो.

संगाई हिरन

संगाई हिरन केवल मणिपुर में पाया जाता है, वह भी यहाँ के केयबुल लामजाओ राष्ट्रीय उद्यान में. IUCN के अनुसार यह एक “संकटग्रस्त प्रजाति” है.


GS Paper 1 Source: PIB

pib_logo

Topic : Kartarpur Sahib pilgrim corridor

संदर्भ

भारत सरकार ने पंजाब के गुरदासपुर जिले के डेराबाबा नानक से लेकर अंतर्राष्ट्रीय सीमा तक करतारपुर गलियारे के निर्माण एवं विकास का निर्णय लिया है जिससे भारत के तीर्थयात्री रावी नदी के तट पर पाकिस्तान के करतारपुर में स्थित गुरुद्वारा दरबार साहिब तक सुविधापूर्वक जा सके. ज्ञातव्य है कि करतारपुर में गुरुनानक ने 18 वर्ष बिताये थे.

करतारपुर गुरुद्वारा

करतारपुर का गुरुद्वारा रावी नदी के तट पर लाहौर से 120 किमी. उत्तर-पूर्व में स्थित है. यह वह स्थान है जहाँ गुरु नानक ने सिख समुदाय को जमा किया था और 1539 में अपनी मृत्यु तक 18 वर्ष तक रहे थे. यह गुरुद्वारा भारतीय भूभाग से दिखाई पड़ता है.

पाकिस्तान के प्रसिद्ध गुरूद्वारे

पाकिस्तान में करतारपुर गुरुद्वारे के अतिरिक्त, डेरा बाबा नानक गुरुद्वारा भी एक प्रसिद्ध गुरुद्वारा है. भारत के सिख हर वर्ष चार बार जत्था बनाकर इन गुरुद्वारों का तीर्थाटन करते हैं. जिन अवसरों पर ऐसे जत्थे पाकिस्तान जाते हैं, वे हैं – वैशाखी, गुरु अर्जन देव शहीदी दिवस, महराजा रंजित सिंह की पुण्यतिथि तथा गुरु नानक देव की जयंती.

गलियारा निर्माण से सम्बंधित समस्याएँ

कुछ दिनों से पाकिस्तान में खलिस्तान समर्थक लोग गुरुद्वारों का प्रयोग कर रहे हैं. हाल ही में, एक गुरुद्वारे में “सिख जनमत संग्रह 2020” के लिए पोस्टर लगाये गये थे और पैम्फलेट बाँटे गये थे. जब भारत के राजदूत और राजनयिक वहाँ जा रहे थे तो पाकिस्तान ने उन्हें रोक दिया था. इस प्रकार इस बात की प्रबल सम्भावना है कि यदि करतारपुर साहिब गलियारा बनता है तो पाकिस्तान उसका दुरूपयोग भारत के विरुद्ध करेगा.


GS Paper 1 Source: PIB

pib_logo

Topic : SHe-Box

कार्यस्थल में यौन-उत्पीड़न की शिकायत को प्रतिवेदित करने के लिए बने ऑनलाइन पोर्टल शी-बॉक्स को भारत सरकार महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने सभी केन्द्रीय मंत्रालयों, विभागों एवं 33 राज्यों/केंद्र शासित क्षेत्रों के 653 जिलों से जोड़ दिया है. अब हर मामला सीधे सम्बन्धित सक्षम अधिकारी – केन्द्रीय/राज्य के – पास पहुँच जाएगा और इस प्रकार शिकायतों का त्वरित निपटारा हो सकेगा.

SHe-Box में प्रतिवेदित मामलों पर शिकायतकर्ता स्वयं और महिला एवं बाल विकास मंत्रालय भी नजर रख सकेंगे जिससे वाद के निष्पादन में लगने वाला समय घट जायेगा.

SHe-Box क्या है?

SHe-Box एक ऑनलाइन शिकायत निवारण प्रणाली है जिसमें कार्यस्थल पर होने वाले यौन-उत्पीड़न की शिकायतें अंकित की जाती हैं. इसका अनावरण महिला एवं बाल विकास मंत्रालय द्वारा किया गया है. इस पोर्टल का उद्देश्य महिलाओं का कार्यस्थल पर यौन-उत्पीड़न (रोकथाम प्रतिबन्ध एवं समाधान) अधिनियम, 2013 के प्रावधानों को लागू करना है.

जैसे ही कोई शिकायत इस पोर्टल पर आयेगी उसे सीधे उस मंत्रालय/विभाग/लोक उपक्रम/स्वायत्त निकाय आदि की आंतरिक शिकायत समिति को भेज दिया जाएगा जिससे वह शिकायत सम्बन्धित है. जब तक शिकायत का निपटारा नहीं होता है तब तक उसकी प्रगति को शिकायतकर्ता पोर्टल पर देख सकता है. विभाग भी इस पर नजर रखता है.

महत्ता

SHE-Box का निर्माण इसलिए किया गया है कि कार्यस्थल पर होने यौन-उत्पीड़न के बारे में महिलाएँ शिकायत कर सकें. कार्यस्थल की परिभाषा में केन्द्रीय मंत्रालय, विभाग, लोक उपक्रम, स्वायत्त निकाय, संस्थान आदि सभी कार्यालय आते हैं.


GS Paper 2 Source: PIB

pib_logo

Topic : Sub-categorization of Other Backward Classes

संदर्भ

केन्द्रीय मंत्रीमंडल ने इस बात की मंजूरी दी है कि अन्य पिछड़ा वर्ग आयोग (OBC Comission) केन्द्रीय सूची के अंतर्गत वर्णित OBC के भीतर नई श्रेणी (category) के प्रश्न पर विचार कर 31 मई, 2019 तक अपने सुझाव प्रस्तुत कर सकता है.

आयोग को सौंपे गये कार्य

  • यह पता लगाना कि केन्द्रीय सूची के OBC श्रेणी के अंदर आने वाली जातियों में आरक्षण का लाभ समान रूप से मिल रहा है अथवा नहीं. यदि असमानता है तो कितनी?
  • OBC के अंदर नई श्रेणी बनाने के लिए आवश्यक प्रणाली, मापदंड आदि वैज्ञानिक ढंग से तैयार करना.
  • OBC वर्ग के विभाजन के पश्चात् विभिन्न श्रेणियों में कौन-कौन जातियाँ/उपजातियाँ/समुदाय आयेंगे, इसका पता लगाना.

क्या जाति-श्रेणी का विभाजन वैध होगा?

इंदिरा साहिनी एवं अन्य बनाम भारतीय संघ वाद में सर्वोच्च न्यायालय ने यह टिपण्णी की थी कि पिछड़ा वर्ग के अंदर नई श्रेणी बनाने में कोई संवैधानिक अथवा कानूनी अड़चन नहीं है.

श्रेणी-विभाजन की आवश्यकता क्यों?

केन्द्रीय नौकरियों और शिक्षा संस्थानों में OBC की श्रेणी में 27% का आरक्षण है. परन्तु ऐसा देखा जाता है कि इस आरक्षण का अधिकांश लाभ कुछ ही ऐसी जातियाँ उठा ले जाती हैं जो अपेक्षाकृत अधिक उन्नत हैं. इस असमानता को देखते हुए यह आवश्यक प्रतीत होता है कि OBC के अन्दर जो अधिक पिछड़ी जातियाँ हैं, उनके लिए अलग से OBC के अन्दर ही आरक्षण का प्रतिशत निर्धारित कर दिया जाए. इस प्रकार का विभाजन पहले से कई राज्य कर चुके हैं परन्तु केंद्र सरकार में OBC का एक ही वर्ग है.


GS Paper 3 Source: PIB

pib_logo

Topic : World Fisheries Day

संदर्भ

प्रत्येक वर्ष 21 नवम्बर को विश्व मत्स्य पालन दिवस मनाया जाता है जिससे स्वस्थ सामुद्रिक वातावरण के महत्त्व की ओर सब का ध्यान खींचा जा सके और विश्व में मछलियों की सतत आपूर्ति को सुनिश्चित किया जा सके.

भारत में मत्स्य पालन

  • मत्स्य पालन भारत का एक महत्त्वपूर्ण आर्थिक क्षेत्र है जो लाखों लोगों को न केवल रोजगार देता है अपितु देश की खाद सुरक्षा में योगदान भी करता है.
  • भारत में 8,000 km. लम्बी सामुद्रिक तटरेखा है और यहाँ 20 लाख वर्ग किलोमीटर से अधिक का एक विशेष आर्थिक जोन (Exclusive Economic Zone – EEZ) भी है. इनके अतिरिक्त इस देश में मीठे जल के कई संसाधन भी हैं. इस प्रकार भारत की अर्थव्यवस्था में मत्स्य पालन की एक बहुत बड़ी भूमिका है. मत्स्य पालन से देश का 1.07% GDP आता है.

स्थलीय मत्स्य पालन

स्थलीय मत्स्य पालन भारत के मत्स्य पालन क्षेत्र का एक महत्त्वपूर्ण भाग है. 1950 में इन स्थलीय जलस्रोतों से 192 हजार टन मछलियाँ मारी गई थीं जबकि 2007 में 781,846 टन मछलियों का शिकार हुआ था. मीठे जल के जिन संसाधनों से भारत में मछलियाँ मारी जाती हैं, वे हैं –

  • नदियाँ एवं नहरें (197,024 km).
  • जलाशय (3.15 million hectares).
  • तालाब और पोखरें (235 million hectares).
  • ऑक्सबो झीलों एवं अवरुद्ध जल (1.3 million hectares).
  • हल्के खारे जलाशय (1.24 million hectares)
  • नदी के मुहाने (0.29 million hectares).

GS Paper 3 Source: PIB

pib_logo

Topic : Atal Innovation Mission

संदर्भ

अटल नवाचार मिशन, भारत और प्रतिभा एवं सफलता कोष, रूस के बीच एक समझौता हुआ है जिसमें विज्ञान एवं तकनीक को बढ़ावा देने के लिए दोनों देशों के बीच छात्रों, शिक्षकों एवं वैज्ञानिकों का आदान-प्रदान होगा.

समझौते का महत्त्व

इस समझौते से यह बड़ा लाभ होगा कि दोनों देशों के विद्यालयों, विश्वविद्यालयों, सांस्कृतिक संस्थानों, विज्ञान एवं तकनीक से सम्बन्धित संस्थानों, विशेषज्ञ शैक्षणिक संस्थानों, उच्च तकनीक वाले कंपनियों, स्टार्ट-अपों एवं नवाचार केन्द्रों के बीच प्रगाढ़ सम्बन्ध स्थापित होंगे. इससे न केवल नई-नई वैज्ञानिक जानकारियों के सृजन को बढ़ावा मिलेगा अपितु दोनों देशों में बौद्धिक सम्पदा, नए-नए आविष्कार और नए-नए उत्पादों का विकास भी होगा.

अटल नवाचार मिशन क्या है?

  • यह मिशन भारत सरकार की प्रमुख पहल है जिसका प्रयोजन देश में नवाचार एवं उद्यमिता की संस्कृति को बढ़ावा देना है.
  • इस मिशन का कार्य देश के अन्दर नवाचार के वातावरण पर दृष्टि रखने के लिए एक बहु-आयामी अवसरंचना का निर्माण करना है जिससे विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से नवाचार पारिस्थितिकी तन्त्र में क्रान्ति लाई जा सके.

अटल नवाचार मिशन के दो प्रमुख कार्य

स्वरोजगार और प्रतिभा के उपयोग के द्वारा उद्यमिता को बढ़ावा देना. इसके लिए नवाचार करने वाले को सफल उद्यमी बनाने के निमित्त सहायता और मन्त्रणा दोनों दी जायेगी.


Prelims Vishesh

Mahatma Gandhi statue unveiled in Sydney :-

  • राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ऑस्ट्रेलिया के नगर पर्रामट्टा में स्थित जुबली पार्क में महात्मा गाँधी की एक प्रतिमा का हाल में अनावरण किया.
  • यह अनावरण महात्मा गाँधी की 150वीं जयंती के अवसर पर विश्व में होने वाले कार्यक्रमों के तहत किया गया.

Women Empowerment Resolution Campaign : –

  • उत्तर प्रदेश सरकार ने हाल ही में महिला सशक्तिकरण संकल्प अभियान का अनावरण किया जिसका उद्देश्य महिलाओं में नेतृत्व क्षमता का विकास करना और उन्हें अपने अधिकारों के लिए मुखर बनाना है.
  • इसका एक उद्देश्य कई कार्यक्रमों के माध्यम से महिलाओं को सशक्त बनाना भी है.

India gets UN Environment award :-

  • “संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण” ने भारत सरकार के वन्यजीवन अपराध नियंत्रण ब्यूरो को एशिया पर्यावरण प्रवर्तन पुरस्कार, 2018 प्रदान किया है.
  • यह पुरस्कार ब्यूरो द्वारा सीमा-पार के पर्यावरण विषयक अपराधों के विरुद्ध इसके संघर्ष के लिए दिया गया है.
  • यह पुरस्कार नवाचार श्रेणी (innovation strategy) के अंतर्गत प्रदान किया गया है.

Click here to read Sansar Daily Current Affairs – Sansar DCA

Books to buy

6 Comments on “Sansar डेली करंट अफेयर्स, 23 November 2018”

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.