Sansar डेली करंट अफेयर्स, 04 November 2020

Sansar LochanSansar DCA1 Comment

Sansar Daily Current Affairs, 04 November 2020


GS Paper 2 Source : The Hindu

the_hindu_sansar

UPSC Syllabus : India and its neighbourhood- relations.

Topic : Sichuan-Tibet Railway project

संदर्भ

हाल ही में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने देश के दक्षिण-पश्चिम सिचुआन प्रांत (South-West Sichuan province) को तिब्बत में लिन्झी (Linzhi) तक जोड़ने वाली 47.8 अरब डॉलर की रेल परियोजना के निर्माण कार्य में तेजी लाने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं. 

मुख्य बिंदु

  1. चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने अधिकारियों को अरुणाचल प्रदेश के नजदीक तिब्बत में रेल लाइन के निर्माण को आगे बढ़ाने का आदेश देते हुए कहा है कि “यह सीमावर्ती क्षेत्रों में स्थिरता की रक्षा में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा.”
  2. चीनी सरकारी मीडिया के अनुसार सिचुआन-तिब्बत रेलवे परियोजना (Sichuan-Tibet Railway project), छिनघाई- तिब्बत रेल परियोजना (Qinghai-Tibet Railway project) के बाद दूसरी रेलवे लाइन परियोजना है.

सिचुआन-तिब्बत रेलवे परियोजना

  1. सरकारी ‘ग्लोबल टाइम्स’ की रिपोर्ट के मुताबिक, यान-लिन्झी मार्ग 1011 Km लंबा है, जिसमें 26 स्टेशन पड़ते हैं.
  2. इस मार्ग पर 120 से 200 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रेन दौड़ती हैं. पूरे सिचुआन-तिब्बत रेल परियोजना की लागत 47.8 अरब डॉलर है.
  3. सिचुआन-तिब्बत रेलवे परियोजना के द्वारा चेंगदु से ल्हासा के बीच की दूरी 48 घंटे से कम होकर 13 घंटे रह जाती है.
  4. परियोजना के निर्माण से पहले शी ने वीडियो कॉन्फ्रेंस में इसे नये युग में तिब्बत के प्रशासन में कम्युनिस्ट पार्टी की योजना का अहम हिस्सा बताया और राष्ट्रीय एकता की सुरक्षा, जातीय एकजुटता को बढ़ावा देने और सीमावर्ती क्षेत्रों में स्थिरता को मजबूत करने में परियोजना की अहम भूमिका पर जोर दिया.

छिनघाई- तिब्बत रेल परियोजना

  • छिनघाई-तिब्बत रेलमार्ग चीनी जनवादी गणराज्य में एक रेलमार्ग है जो छिनघाई प्रान्त में स्थित शिनिंग को तिब्बत की राजधानी ल्हासा से जोड़ता है.
  • यह रेलमार्ग तिब्बत को शेष चीन से जोड़ने वाला पहला रेलमार्ग है, क्योंकि तिब्बत के बहुत ऊँचाई पर स्थित होने के कारण यहाँ किसी भी रेलमार्ग का निर्माण नहीं हो सका था.बीजिंग, चेंग्दू, चोंग्किंग, शिनिंग, शंघाई और लांझोउ से ल्हासा के लिए रेलगाड़ियों की सेवाएँ उपलब्ध हैं.
  • इस रेलमार्ग की कुल लम्बाई 1,956 किमी है. यह रेलमार्ग तांगुला दर्रे से होकर भी गुजरता है.

GS Paper 3 Source : Down to Earth

down to earth

UPSC Syllabus : Awareness in the fields of IT, Space, Computers, robotics, nano-technology, bio-technology and issues relating to intellectual property rights.

Topic : Fast Radio Burst – FRB

संदर्भ

हाल ही में नेचर(Nature) नमक जर्नल में फास्ट रेडियो बर्स्ट (Fast Radio Burst-FRB) घटना के संदर्भ में कई शोध पत्र प्रकाशित हुए हैं, नासा (NASA) ने अपने एक अध्ययन में बताया है कि मिल्की वे गैलेक्सी (Milky Way galaxy) में उसने हाल ही में एक्स-रे और रेडियो संकेतों (X-ray and radio signals) का मिश्रण देखा है, जो मिल्की वे में पहले कभी नहीं देखा गया था.

फास्ट रेडियो बर्स्ट

  • रेडियोखगोलिकी में तीव्र रेडियो प्रस्फोट (fast radio burst) या ऍफ़॰आर॰बी॰ (FRB) अज्ञात कारणों से उत्पन्न एक बहुत अधिक ऊर्जावान खगोलभौतिक परिघटना होती है जिसमें बहुत-ही संकुचित समय के लिए एक रेडियो संकेत प्रकट होती है.
  • यह औसतन कुछ मिलिसैकण्ड के लिए ही जारी रहते हैं और हमारी गैलेक्सी से बाहर ही उत्पन्न होते हैं. सर्वप्रथम तीव्र रेडियो प्रस्फोट सन् 2007 में डन्कन लोरीमर और डेविड नारकेविक द्वारा पल्सरों से मिलने वाले संकेतों के अध्ययन में पाया गया था, जिस वजह से इसे “लोरीमर प्रस्फोट” (Lorimer Burst) कहा जाता है, उसके बाद से कई तीव्र रेडियो प्रस्फोट मिल चुके हैं, जिनमें से एक स्वयं को दोहराता भी है.
  • फास्ट रेडियो बर्स्ट (FRB) की घटना में एक्स-रे (X-ray) का विस्फोट काफी कम समय के लिए होता है और बहुत तेजी से होता है.. यह विस्फोट बहुत ही चमकीला होता है.
  • अन्तरिक्ष में एक्स-रे (X-ray) खगोलीय पिंडों द्वारा उत्पन्न की जाती हैं. जब खगोलीय पिंड के चुंबकीय क्षेत्र (magnetic field) में परिवर्तन होता है, तो एक्स-रे उत्पन्न होती हैं.

मिल्की वे

  • अंग्रेजी में आकाशगंगा को “मिल्की वे” (Milky Way) बुलाया जाता है, जिसका अर्थ भी “दूध का मार्ग” ही है.
  • यह उस आकाशगंगा (गैलेक्सी) का नाम है, जिसमें हमारा सौर मण्डल स्थित है. आकाशगंगा आकृति में एक सर्पिल (स्पाइरल) गैलेक्सी है, जिसका एक बड़ा केंद्र है और उस से निकलती हुई कई वक्र भुजाएँ.
  • हमारा सौर मण्डल इसकी शिकारी-हन्स भुजा (ओरायन-सिग्नस भुजा) पर स्थित है. क्षीरमार्ग में 100 अरब से 400 अरब के बीच तारे हैं और अनुमान लगाया जाता है कि लगभग 50 अरब ग्रह के होने की संभावना है, जिनमें से 50 करोड़ अपने तारों से ‘जीवन-योग्य तापमान’ की दूरी पर हैं.
  • सन् 2011 में होने वाले एक सर्वेक्षण में यह संभावना पायी गई कि इस अनुमान से अधिक ग्रह हों – इस अध्ययन के अनुसार, क्षीरमार्ग में तारों की संख्या से दुगने ग्रह हो सकते हैं.
  • हमारा सौर मण्डल आकाशगंगा के बाहरी इलाक़े में स्थित है और उसके केंद्र की परिक्रमा कर रहा है. इसे एक पूरी परिक्रमा करने में लगभग 22.5 से 25 करोड़ वर्ष लग जाते हैं.

इस टॉपिक से UPSC में बिना सिर-पैर के टॉपिक क्या निकल सकते हैं?

हाल ही में खगोलविदों ने बताया कि हमारी आकाशगंगा की तरह दिखने वाली 12 बिलियन प्रकाश वर्ष दूर एक अन्य सुनहरे प्रभामंडल वाली आकाशगंगा है। जिसे उन्होंने ‘SPT0418-47’ नाम दिया है.


GS Paper 3 Source : The Hindu

the_hindu_sansar

UPSC Syllabus : Economy and issues relating to planning, mobilization, of resources, growth, development and employment.

Topic : Indonesia in recession for first time in 22 years

संदर्भ

कोरोना वायरस महामारी के चलते इंडोनेशिया पिछले 22 वर्षो में पहली बार मंदी की चपेट में आया है.

पृष्ठभूमि

दक्षिण पूर्व एशिया की इस सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था में 2019 की इसी अवधि की तुलना में इस वर्ष की तीसरी तिमाही में 3.49% गिरावट देखी गई है.इससे पहले वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही में 5.32% की गिरावट देखी गयी थी.लगातार दो तिमाहियों में गिरावट के चलते अब इंडोनेशिया को भी अन्य बड़ी अर्थव्यवस्थाओं के साथ मंदी का सामना करना पड़ रहा है.इससे पहले 1998 के एशियाई वित्तीय संकट के दौरान इंडोनेशिया को मंदी से गुजरना पड़ा था.

ज्ञातव्य है कि दक्षिण पूर्व एशिया के देशों में इंडोनेशिया में कोरोनावाइरस का संक्रमण सबसे ज्यादा है, जिससे कारण इंडोनेशिया के पर्यटन व्यवसाय को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है.यद्यपि कृषि इंडोनेशिया की अर्थव्यवस्था का प्रमुख घटक है, लेकिन इसकी अर्थव्यवस्था पर्यटन से अर्जित विदेशी मुद्रा पर अत्यधिक निर्भर है.ऐसा माना जा रहा है इंडोनेशिया में इस मंदी के कारण 3.5 मिलियन लोगों को अपने रोजगार से वंचित होना पड़ सकता है.

आर्थिक मंदी क्या है?

जब किसी देश की अर्थव्यवस्था में वृद्धि के बजाय कमी या नकारात्मक वृद्धि होने लगती है तो इसे ही आर्थिक मंदी या इकोनामिक रिसेशन कहते हैं. दूसरे शब्दों में, जब किसी देश की जीडीपी में लगातार 6 महीने यानी दो तिमाही तक कमी होती है तो इसे ही आर्थिक मंदी कहते हैं.

आर्थिक मंदी को कैसे मापा जाता है?

आर्थिक मंदी को मापने के दौरान आमतौर पर 5 कारक निम्नवत् हैं –

(i) वास्तविक जीडीपी,

(ii) आय,

(iii) रोज़गार,

(iv) विनिर्माण और

(v) खुदरा बिक्री को शामिल किया जाता है.

आर्थिक मंदी के प्रमुख लक्षण क्या हैं?

आर्थिक मंदी के प्रमुख लक्षणों में शामिल हैं –

* आर्थिक गतिविधियों के कमजोर होने के चलते मांग में सामान्य कमी

* मुद्रास्फीति का कम रहना और आने वाले समय में और नीचे जाने का संकेत

* रोजगार की दर का घटना और बेरोजगारी दर का बढ़ना

* कारोबार जारी रखने के लिए उत्पादकों द्वारा कामगारों की छटनी

आर्थिक  मंदी से कैसे निकला जा सकता है?

  • प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष करों में कटौती करना, ताकि उपभोगताओं के पास खर्च करने के लिए अधिक धन हो.
  • ब्याज दरों में कटौती किया जा सकता है जिससे लोगो को सस्ते लोन/ऋण उपलब्ध होंगें और वे अधिक निवेश करेंगे.
  • उत्पादन के क्षेत्र में छूट/प्रोत्साहन से भी अधिक निवेश को प्रोत्साहित किया जा सकता है.
  • उपभोक्ताओं के उपभोग खर्च को बढ़ाने के लिए सरकार वेतन में संशोधन का सहारा भी ले सकती है.

GS Paper 3 Source : The Hindu

the_hindu_sansar

UPSC Syllabus : Conservation, environmental pollution and degradation, environmental impact assessment Disaster and disaster management.

Topic : Wildlife Board clears plan for vulture conservation

संदर्भ

हाल ही में राष्ट्रीय वन्यजीव बोर्ड (NBWL) ने गिद्धों के संरक्षण के लिए गिद्ध संरक्षण कार्य योजना 2020-2025 को स्वीकृति दे दी है.

गिद्ध संरक्षण कार्य योजना 2020-2025 के बारे में

  • राष्ट्रीय वन्य जीव बोर्ड (NBWL) ने गिद्धों के संरक्षण की योजना को मंजूरी दे दी है, जिसके तहत गिद्धों के लिए जहर बन रही मवेशियों के इलाज में प्रयोग की जाने वाली दवाओं को भारत के ड्रग कंट्रोलर जनरल द्वारा प्रतिबंधित किया जाएगा.
  • इस कार्य योजना में उत्तर प्रदेश, त्रिपुरा, महाराष्ट्र, कर्नाटक और तमिलनाडू में गिद्ध संरक्षण और प्रजनन केन्द्रों की स्थापना का भी प्रावधान किया गया है.
  • इसमें लाल सिर वाले गिद्धों (Red Headed vulture ) और मिश्र के गिद्धों (Egyptian vulture) के संरक्षण और प्रजनन का भी प्रावधान है.
  • गिद्धों की मौजूदा आबादी के संरक्षण के लिए प्रत्येक राज्य में कम-से-कम एक “सुरक्षित गिद्ध क्षेत्र (Vulture Safe Zone)” बनाने की भी योजना है.
  • गिद्ध संरक्षण कार्य योजना 2020-2025 के अनुसार विभिन्न भौगोलिक क्षेत्रों में चार बचाव केंद्र (Rescue Centers) स्थापित किए जाएंगे: i) उत्तर भारत में पिंजौर, ii) मध्य भारत में भोपाल, iii) पूर्वोत्तर भारत में गुवाहाटी iv) दक्षिण भारत में हैदराबाद
  • इसके अतिरिक्त इस कार्य योजना में गिद्धों की जनसंख्या संख्या को ट्रैक करने के लिए नियमित सर्वेक्षण की भी परिकल्पना की गयी है.

राष्ट्रीय वन्यजीव बोर्ड (National Board for Wildlife-NBWL)

  • वन्य जीवन (संरक्षण) अधिनियम, 1972 के तहत वर्ष 2003 में राष्ट्रीय वन्यजीव बोर्ड का गठन किया गया था.
  • राष्ट्रीय वन्यजीव बोर्ड वन्य पारस्थितिकी से संबंधित मामलों में सर्वोच्च निकाय के रूप में कार्य करता है.
  • यह निकाय वन्य जीवन से जुड़े मामलों तथा राष्ट्रीय उद्यानों और अभयारण्यों के आस-पास निर्माण या अन्य परियोजनाओं की समीक्षा करता है.
  • राष्ट्रीय वन्यजीव बोर्ड की अध्यक्षता प्रधानमंत्री द्वारा की जाती है.

Prelims Vishesh

Ezhuthachan Puraskaram :-

  • प्रसिद्ध मलयाली लेखक पॉल याचरिया (Paul Zacharia) को 28वें एज्हुथाचन पुरस्कार के लिए चुना गया है.
  • वर्ष 1993 में स्थापित, यह केरल सरकार का सर्वोच्च साहित्यिक सम्मान है.
  • यह पुरूस्कार केरल साहित्य अकादमी द्वारा प्रदान किया जाता है.
  • यह पुरस्कार प्रति वर्ष मलयालम साहित्य के जनक ‘थुन्चाथथू एज्हुथाचन’ (Thunchaththu Ezhuthachan) के नाम पर दिया जाता है. इसके तहत 5,00,000 का नकद पुरस्कार और एक प्रशस्ति पत्र प्रदान किये जाते है.

Kaziranga National Park and Tiger Reserve :-

  • यह असम में स्थित एक राष्ट्रीय उद्यान (National Park) है.
  • मैरी कर्जन (Mary Curzon) की सिफारिश पर वर्ष 1908 में गठित, यह पार्क पूर्वी हिमालयी जैव विविधता के आकर्षण केंद्र – गोलाघाट और नौगांव जिले में स्थित है.
  • इस पार्क में प्रसिद्ध एक सींग वाले गैंडों की विश्व की दो-तिहाई आबादी पायी जाती है.
  • यह एक विश्व धरोहर स्थल है.

Click here to read Sansar Daily Current Affairs – Sansar DCA

October, 2020 Sansar DCA is available Now, Click to Download

 

 

Books to buy

One Comment on “Sansar डेली करंट अफेयर्स, 04 November 2020”

Leave a Reply

Your email address will not be published.