Sansar डेली करंट अफेयर्स, 23 May 2019

Sansar LochanSansar DCA, UncategorizedLeave a Comment

Sansar Daily Current Affairs, 23 May 2019


GS Paper  1 Source: Down to Earth

down to earth

Topic : Anthropocene

संदर्भ

वैज्ञानिकों के एक दल ने मतदान कर के घोषणा की है कि पृथ्वी के भूवैज्ञानिक इतिहास में एन्थ्रोपोसीन/ Anthropocene को एक नए युग के रूप में मान्यता मिले. विदित हो कि 2016 में केप टाउन में सम्पन्न अंतर्राष्ट्रीय भूविज्ञान कांग्रेस में इस विषय में एक अनौपचारिक निर्णय हुआ था.

Anthropocene

एन्थ्रोपोसीन क्या है?

इस शब्द को 2000 ई. में पॉल क्रुजन और यूजीन स्टॉर्मर ने वर्तमान भूवैज्ञानिक अंतराल को बतलाने के लिए गढ़ा था. इसका नाम एन्थ्रोपोसीन इसलिए पड़ा क्योंकि इस युग में पर्यावरण को सबसे ज्यादा प्रभावित करने वाला कारक स्वयं मनुष्य (anthrope) है.

ज्ञातव्य है कि इस युग के तुरंत पहले का कालखंड होलोसीन युग (Holocene epoch) कहलाता है जो आज से लगभग 12,000 वर्ष पहले शुरू हुआ था.

आगे की राह

पृथ्वी ने होलोसीन युग से निकलकर एन्थ्रोपोसीन युग (anthropocene era) में कब प्रवेश किया, यह दिखलाने के लिए तकनीकी रूप से एक भूवैज्ञानिक मार्कर अथवा “गोल्डन स्पाइक” की आवश्यकता होगी. इस मार्कर को ग्लोबल बाउंड्री स्ट्रेटोटाइप सेक्शन एंड पॉइंट (GSSP) कहा जाएगा. इस मार्कर को ढूँढने के लिए पूरे विश्व को छाना जाएगा. वैज्ञानिक इसके लिए जहाँ-जहाँ जाएँगे उनमें शामिल कुछ स्थान हैं – उत्तरी इटली की एक गुफा, वृहत प्रवाल भित्ति और चीन की एक झील.

नए युग को दर्शाने वाले एक परतदार रिकॉर्ड को दिखलाने के लिए यह दल संभवतः उन रेडियोन्यूक्लाइडों (radionuclides) को चुनेगा जो 1945 के अणु बम विस्फोट से लेकर 1963 में सीमित अणु परीक्षण प्रतिबंध संधि के बीच में अस्तित्व में आये थे.

नए युग के नामकरण का प्रस्ताव को तभी मान्यता मिलेगी जब इस पर अंतर्राष्ट्रीय भूवैज्ञानिक संघ अपनी मुहर लगाएगा.


GS Paper  2 Source: Economic Times

sansar_economic_times

Topic : ‘Golden Card’ Permanent Residency Scheme

संदर्भ

संयुक्त अरब अमीरात ने गोल्डन कार्ड नामक स्थायी निवास योजना (Golden Card Permanent Residency Scheme) आरम्भ की है जिसका उद्देश्य पूरे संसार से धनाढ्य और असाधारण प्रतिभा से सम्पन्न लोगों को आकर्षित करना है.

गोल्डन कार्ड किसको दिया जाएगा?

  • सामान्य निवेशक जिनको दस वर्ष के स्थायी निवास का वीजा दिया जाएगा
  • भूमि सम्पदा निवेशक जिनको पाँच वर्ष का वीजा दिया जाएगा.
  • डॉक्टर, शोधकर्ता और आविष्कारक जैसे उद्यमियों एवं प्रतिभावान पेशेवर जिन्हें दस वर्ष का वीजा मिलेगा.
  • “उत्कृष्ट विद्यार्थी” जिनको पाँच वर्ष के स्थायी निवास का वीजा दिया जाएगा.

योजना के मुख्य तत्त्व

पात्रता : यह योजना वैज्ञानिकों, इंजिनियरों, डॉक्टरों, छात्रों और कलाकारों जैसे असाधारण प्रतिभावान् लोगों एवं निवेशकों के लिए खुली है.

माहात्म्य : गोल्डन कार्ड योजना के माध्यम से संयुक्त अरब अमीरात उन लोगों का स्वागत करना चाहता है जो संयुक्त अरब अमीरात की सफलता की कहानी का एक अंश बनना चाहते हैं और इसे अपना दूसरा घर बनाना चाहते हैं.

आवश्यकता : संयुक्त अरब अमीरात में आने वाले विदेशी साधारणतः किसी स्पोंसरशिप के अन्दर आते हैं और इन्हें सीमित अवधि के निवास की अनुमति मिलती है.

लाभ : गोल्डन कार्ड स्थायी निवास मुहैया करता है और इस कार्ड को धारण करने वालों और उनके परिवारजनों को अभूतपूर्व लाभ प्रदान करता है और उनकी वृद्धि और व्यवसाय के लिए आकर्षक परिवेश का सृजन करा है. इसके अंतर्गत पति/पत्नी तथा बच्चों को भी स्थायी निवास का लाभ दिया जाता है.

संभावना : इस नई पहल से विदेशी निवेश बढ़ेगा और इससे स्थानीय अर्थव्यवस्था सुदृढ़ एवं निवेशकों के लिए आकर्षक हो जायेगी. साथ ही इससे वैश्विक स्तर पर संयुक्त अरब अमीरात की प्रतिस्पर्धात्मकता बढ़ेगी.


GS Paper  2 Source: The Hindu

the_hindu_sansar

Topic : U20

संदर्भ

जापान की राजधानी टोक्यो में दूसरा अर्बन 20 (U20) मेयर शिखर सम्मेलन चल रहा है. यह सम्मेलन G20 के ओसका शिखर सम्मेलन के एक महीने पहले सम्पन्न होता है. इसमें आने वाले मेयर विचार विमर्श के पश्चात् एक विज्ञप्ति निकालेंगे जिसे औपचारिकतापूर्वक G20 के सम्मुख प्रस्तुत किया जाएगा.

U20 की थीम

  1. जलवायु के लिए कार्रवाई
  2. चक्रीय अर्थव्यस्था
  3. सामाजिक समावेशिता और एकीकरण
  4. सतत आर्थिक वृद्धि
  5. लैंगिक समानता

सम्मेलन के परिणाम

  • सम्मेलन में आये हुए 30 बड़े नगरों के मेयरों ने वैश्विक नेताओं से आग्रह किया है कि वे जलवायु परिवर्तन, सामाजिक समावेशिता एवं सतत आर्थिक वृद्धि के लिए तेजी से कार्रवाई करें.
  • मेयरों और नगर प्रशासकों के द्वारा उठाये गये विषयों को सतत विकास लक्ष्य (SDG) के लिए शामिल किया जाता है.
  • U20 के प्रतिनिधियों ने G20 के नेताओं से यह सुनिश्चित करने का अनुरोध किया है कि ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन 2030 तक अच्छा-ख़ासा घट जाए और 2050 आते-आते शून्य हो जाए.
  • साथ ही यह भी अनुरोध किया गया कि सभी लोगों को रहने योग्य घर उपलब्ध करा दिए जाएँ.

U20 क्या है?

  • Urban 20 की पहल 2017 में हुई थी. यह पहल ब्यूनस आयर्स और पेरिस के मेयरों के नेतृत्व में आरम्भ की गई थी. इस पहल के संयोजक C40 नगर जलवायु नेतृत्व समूह तथा संयुक्त नगर एवं स्थानीय सरकार (UCLG) थे.
  • इस पहल का अनावरण पेरिस में आयोजित एक ग्रह शिखर सम्मेलन (One Planet Summit) के समय दिसम्बर 12, 2017 को हुआ था.
  • U20 का उद्देश्य वैश्विक चुनौतियों का सामना करते समय नगरों की भूमिका को आगे लाना है.
  • U20 में शामिल 25 विश्व के बड़े-बड़े शहर : बीजिंग, बर्लिन, ब्यूनस आयर्स, शिकागो, डरबन, हैम्बर्ग, जकार्ता, जोहानसबर्ग, लंदन, लॉस एंजिल्स, मैड्रिड, मेलबर्न, मैक्सिको सिटी, मिलान, मॉन्ट्रियल, मॉस्को, न्यूयॉर्क, पेरिस, रियो डी जेनेरो, रोम, साओ पाउलो , सियोल, सिडनी, टोक्यो और स्वाने.

GS Paper  3 Source: Down to Earth

down to earth

Topic : World Health Assembly (WHA)

संदर्भ

पिछले दिनों जेनेवा में सम्पन्न हुए 72वें विश्व स्वास्थ्य सम्मेलन (World Health Assembly) में उन तीन प्रस्तावों पर सहमति बनी थी जिनका उद्देश्य सतत विकास लक्ष्यों (SDGs) के अंतर्गत सार्वभौम स्वास्थ्य सुविधा (universal health coverage) सुनिश्चित करनी है.

इन प्रस्तावों के अन्दर किया जाएगा?

  • अस्ताना घोषणा में यह संकल्प किया गया है कि प्राथमिक स्वास्थ्य सुविधा को सुदृढ़ बनाया जाएगा और 2030 तक सार्वभौम स्वास्थ्य का लक्ष्य प्राप्त किया जाएगा. अंगीकृत प्रस्तावों के अनुसार इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए आवाश्यक कदम उठाये जाएँगे. विदित हो कि अस्ताना घोषणा वैश्विक प्राथमिक स्वास्थ्य सेवा सम्मेलन, 2018 में अल्मा-आटा घोषणा की 40वीं वर्षगाँठ के अवसर पर अंगीकार किया गया था.
  • प्रस्तावों के अनुसार सामुदायिक स्वास्थ्यकर्मी कार्यक्रमों को मजबूती देना है और उसके लिए पर्याप्त संसांधन आबंटित करना है. ये कर्मी सुप्रतिष्ठित होने चाहिएँ और इनका पर्यवेक्षण कुशलतापूर्वक होना चाहिए. साथ ही ये कर्मी अपने काम के लिए सही-सही पहचाने जाने योग्य होने चाहिएँ. वर्तमान में 18 मिलियन स्वास्थ्यकर्मियों की पूरे विश्व में कमी है जिसके चलते सार्वभौम स्वास्थ्य सुविधा पाने के लक्ष्य पर गंभीर खतरा है.
  • प्रस्तावों के अनुसार, सरकारों को इस बात पर ध्यान देना होगा कि सार्वभौम स्वास्थ्य की सुविधा उन लोगों और समूहों को मिले जो निर्धन, संकटप्रवण एवं वंचित हैं.

विश्व स्वास्थ्य सम्मेलन क्या है?

  1. विश्व स्वास्थ्य सम्मेलन (WHA) वह मंच है जिसके माध्यम से विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) अपने 194 सदस्य देशों के साथ विश्व स्वास्थ्य की समस्याओं पर विचार करता है.
  2. WHO का मुख्यालय जेनेवा में है जहाँ हर वर्ष मई महीने में विश्व स्वास्थ सम्मेलन आयोजित होता है.
  3. यह विश्व का ऐसा सर्वोच्च निकाय है जो स्वास्थ्य से सम्बंधित नीति निर्धारित करता है. इसमें सभी सदस्य देशों के स्वास्थ्य मंत्री सदस्य होते हैं.
  4. विश्व स्वास्थ्य सम्मेलन के प्रमुख कार्य हैं –
  • WHO की नीतियों का निर्धारण
  • WHO के निदेशक (director general) की नियुक्ति
  • World Health Org. की वित्तीय नीतियों का पर्यवेक्षण
  • और इसके बजट की मंजूरी

GS Paper  3 Source: Livemint

live_mint_logo

Topic : Regulatory Cadre within RBI

संदर्भ

भारतीय रिज़र्व बैंक ने हाल ही में यह निर्णय लिया है कि वह भारतीय रिज़र्व बैंक के अन्दर ही एक विशेषज्ञ पर्यवेक्षणात्मक एवं नियामक कैडर (specialised supervisory and regulatory cadre) का गठन करेगा जिसका उद्देश्य व्यवसायिक बैंकों, शहरी सहकारी बैंकों एवं गैर-बैंकिंग वित्तीय कम्पनियों से सम्बंधित पर्यवेक्षण और नियमन को सशक्त करना है.

इसकी आवश्यकता क्यों पड़ी?

बैंकों की ऋण व्यवस्था में पाई गई त्रुटियाँ : पिछले दो वर्षों में कई ऐसी घटनाएँ घटीं जिससे सरकार को चिंता होना स्वाभविक है. उदाहरण के लिए IL&FS में ऋण वापस नहीं करने के मामले हुए, साथ ही ICICI बैंक में ऋण को लेकर समस्या हुई. इसके अतिरिक्त पंजाब नेशनल बैंक में भी इस मामले में जालसाजी हुई. जहाँ तक गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों की बात है, इनमें भी तरलता को लेकर समस्या हुई.

जटिलता : भारतीय रिज़र्व बैंक में पर्यवेक्षण से सम्बंधित वर्तमान पद्धति आवश्यकता से अधिक जटिल है. अतः इसका सरलीकरण आवश्यक है.

ढिलाई की शिकायत : शिकायतें आ रहीं थी कि रिज़र्व बैंक पर्यवेक्षण के मामले में ढीला चल रहा है, विशेषकर वह जालसाजी का समय पर पता लगाने में अक्षम रहा है और बैंकिंग प्रक्षेत्र पर उसका प्रशासन कमजोर है.

बढ़ा हुआ बोझ : आज की तिथि में देश में वाणिज्यिक बैंकों की शाखाओं की संख्या 1,16,000 से भी अधिक हो गई है. इसलिए रिज़र्व बैंक की वर्तमान पर्यवेक्षण प्रक्रिया के बल पर इन सभी शाखाओं पर नियंत्रण रखना कठिन हो चला है.

वर्तमान प्रथा

वर्तमान में बैंक अपने पर्यवेक्षण में इस बात पर ध्यान देते हैं कि कौन-कौन से जोखिमों का उन्हें सामना करना पड़ सकता है और इसके लिए कौन-कौन से कदम शीघ्र उठाये जाने चाहिएँ. दूसरी ओर गैर बैंकिंग वित्तीय कम्पनियों और शहरी सहकारी बैंकों में प्रचलित पर्यवेक्षण की प्रणाली इतनी कठोर नहीं है अर्थात् ढीली-ढाली है.


Prelims Vishesh

Malaria-free status :-

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने अल्जीरिया और अर्जेंटीना को मलरिया से मुक्त घोषित कर दिया है क्योंकि वहाँ क्रमशः 2013 और 2010 से मलेरिया का कोई मामला आया नहीं है.

Man Booker International Prize :

  • हाल ही में ओमान की लेखिका जोखा अल्हर्थी को उनके अरबी उपन्यास “Celestial Bodies” के लिए प्रतिष्ठित मैन बुकर अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार दिया गया. अरबी भाषा में पहली बार ऐसा पुरस्कार दिया गया है.
  • उनके साथ ही इंग्लैंड में रहने वाली अनुवादिका मेरिलिन बूथ को भी यह पुरस्कार मिला है.
  • इस पुरस्कार में 64,000 डॉलर नकद दिया जाता है.

Click here to read Sansar Daily Current Affairs – Sansar DCA

April, 2019 Sansar DCA is available Now, Click to Downloadnew_gif_blinking

Books to buy

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.