डॉ. अम्बेडकर की जीवनी, विचार और रचनाएँ

Dr. SajivaBiography, Modern HistoryLeave a Comment

आज हम डॉ. भीमराव अम्बेडकर की जीवनी, विचार और रचनाओं के बारे में जानेंगे. चलिए पढ़ते हैं – Ambedkar Biography को हिंदी में. आप चाहें तो इसका PDF भी डाउनलोड कर सकते हैं. Biography of B.R. Ambedkar दलितों के मसीहा, सामाजिक समानता के लिए संघर्षशील, समाज सुधारक एवं भारतीय संविधान के प्रमुख निर्माता डॉ. अम्बेडकर का जन्म 14 अप्रैल, 1891 … Read More

रॉबर्ट क्लाइव का शासनकाल, उपलब्धि, चरित्र और मृत्यु

Dr. Sajiva#AdhunikIndia, Biography1 Comment

#AdhunikIndia की पिछली सीरीज में हमने पढ़ा कि डूप्ले के जाने के बाद अंग्रेजों ने कैसे अपना पैर भारत में पसारा.  हम लोगों ने निर्णायक युद्ध प्लासी और बक्सर के बारे में भी चर्चा की. जैसा मैंने पिछले पोस्ट में कहा था कि अगले पोस्ट में हम लोग पढेंगे – “रॉबर्ट क्लाइव ने अपनी दूसरी बार के शासन (1765-67) में … Read More

शेरशाह का प्रारम्भिक जीवन – Early life of Shershah

Dr. SajivaBiography, History, Medieval History1 Comment

पानीपत और घाघरा की लड़ाई में विजय प्राप्तकर बाबर ने न केवल एक नए राजवंश की स्थापना की बल्कि अफगान शक्ति किक रीढ़ तोड़ डाली थी. दो बार की पराजय के फलस्वरूप अफगान शक्ति की रीढ़ तोड़ डाली थी. दो बार की पराजय के फलस्वरूप अफगान शक्ति बिखर चुकी थी. अफगान जातिगत स्वभाव के कारण क्रूर था. बचे-खुचे अफगान हताश … Read More

शिवाजी की जीवनी – Biography of Shivaji Maharaj

Dr. SajivaBiography, History, Medieval HistoryLeave a Comment

shivaji_biography

शिवाजी का जन्म शाहजी भोंसले की प्रथम पत्नी जीजाबाई की कोख से 10 अप्रैल, 1627 ई. को शिवनेर के दुर्ग में हुआ था. शिवनेर का दुर्ग पूना से उत्तर जुन्नार नगर के पास था. उनकी जन्म-तिथि के सम्बन्ध में इतिहासकारों के बीच मतभेद है. कई जन्म-तिथियों का उल्लेख किया गया है जिनमें 20 अप्रैल, 1627, 19 फरवरी 1630 और 9 … Read More

मदन मोहन मालवीय (1861-1946 ई.) – Biography in Hindi

Dr. SajivaBiography, History, Modern HistoryLeave a Comment

madan_mohan_malviya

मदन मोहन मालवीय Biography पंडित मदन मोहन मालवीय जा जन्म एक ब्राह्मण परिवार में 1861 ई. में प्रयाग (इलाहाबाद) में हुआ था. उनके सात भाई-बहन थे. 1884 ई. में स्नातक की परीक्षा पास करने के बाद पंडित मदन मोहन मालवीय कानून के छात्र बने और 1886 ई. में कानून की परीक्षा पास करने के बाद कांग्रेस के संपर्क में आये. उन्हें महामना की उपाधि दी … Read More