Sansar डेली करंट अफेयर्स, 28 August 2019

Sansar LochanSansar DCA2 Comments

Sansar Daily Current Affairs, 28 August 2019


GS Paper 1 Source: The Hindu

the_hindu_sansar

UPSC Syllabus : Important Geophysical phenomena such as earthquakes, Tsunami, Volcanic activity, cyclone etc., geographical features and their location- changes in critical geographical features (including water-bodies and ice-caps) and in flora and fauna and the effects of such changes.

Topic : Why a crater on the moon is named ‘Mitra’?

संदर्भ

23 अगस्त, 2019 को चन्द्रयान 2 ने चंद्रमा के उत्तरी ध्रुव के समीप से गुजरते हुए कई क्रेटरों के चित्र लिए जिनमें से एक का नाम “मित्र” है.

विदित हो कि यह नाम भारत के प्रतिष्ठित भौतकशास्त्री शिशिर कुमार मित्र पर रखा गया है.

चंद्रमा के क्रेटरों का नाम किस प्रकार दिया जाता है?

  • अंतर्राष्ट्रीय खगोलविद् संघ (International Astronomical Union – IAU) चंद्रमा के क्रेटरों का नाम रखने के लिए अधिकृत होता है.
  • इसके द्वारा सुझाए गये नामों पर एक कार्यसमूह विचार करता है और अंतिम निर्णय लेता है.

शिशिर कुमार मित्र कौन थे?

  • शिशिर कुमार मित्र आयन मंडल और रेडियो भौतिकी में अनुसंधान के लिए जाने जाते हैं.
  • भारत में रेडियो संचार की पढ़ाई लाने वाले वह पहले व्यक्ति थे.
  • 1947 में प्रकाशित उनकी पुस्तक “अपर एटमोस्फियर” आज भी आयन मंडल पर शोध करने वालों के लिए बाइबिल मानी जाती है.
  • 1950 के दशक में उन्होंने अन्तरिक्ष अनुसंधान और अत्यंत ऊँचाई वाले राकेट अनुसंधान कार्यक्रमों की वकालत की थी जिसने अमेरिका और सोवियत संघ को इस क्षेत्र में काम करने की प्रेरणा दी.
  • मित्र 1963 में दिवंगत हो गये. इसके तत्काल पश्चात् भारत ने भूचुम्बकीय भूमध्यरेखा (geomagnetic equatorial line) के निकट राकेट प्रक्षेपण केंद्र स्थापित किये और वहाँ से राकेट और उपग्रह प्रक्षेपित होने लगे जिनसे बाह्य वायुमंडल और उसके आगे के क्षेत्र पर बहुमूल्य जानकारियाँ मिलीं.

चंद्रमा पर क्रेटर कैसे बने?

  • चंद्रमा पर ज्वालामुखी विस्फोट और उससे उत्पन्न लावा पर्वत के मुख पर बने गर्त से क्रेटर बनते हैं.
  • इस प्रक्रिया के कारण वहाँ लाखों क्रेटर बन चुके हैं जिनमें से कुछ एक मील से भी कम व्यास के हैं तो दूसरी ओर कोई-कोई इतने बड़े हैं कि पहले समझा जाता था कि ये क्रेटर नहीं अपितु समुद्र हैं.
  • चाँद पर सबसे बड़ा क्रेटर दक्षिण ध्रुव-ऐटकिन बेसिन (South Pole-Aitkin Basin) है. यह 2,500 किलोमीटर परिधि का है.
  • बताया जाता है कि यह क्रेटर यहाँ का सबसे पुराना क्रेटर है जो उस समय बना था जब चंद्रमा के उत्पन्न हुए कुछ ही करोड़ वर्ष हुए थे.
  • चाँद पर पानी, वायुमंडल और टेक्टोनिक प्लेट नहीं रहने के कारण वहाँ के क्रेटर करोड़ वर्ष से क्षरण-रहित और जस के तस बने हुए हैं.

GS Paper 2 Source: The Hindu

the_hindu_sansar

UPSC Syllabus : Statutory, regulatory and various quasi-judicial bodies.

Topic : Advisory Board for Banking Frauds (ABBF)

संदर्भ

केन्द्रीय सतर्कता आयोग (Central Vigilance Commission – CVC) ने पिछले दिनों बैंक घोटालों के लिए परामर्शी बोर्ड (Advisory Board for Banking Frauds – ABBF) का गठन किया है जो 50 करोड़ रु. से ऊपर बैंक घोटालों की जाँच करेगा और कार्रवाइयों का सुझाव देगा. इस बोर्ड का मुख्यालय दिल्ली में होगा और इसे भारतीय रिज़र्व बैंक कार्मिक बल समेत अन्य सभी आवश्यक सुविधाएँ प्रदान करेगा.

संरचना

  • इसमें एक अध्यक्ष और तीन सदस्य होंगे.
  • इन सभी व्यक्तियों का कार्यकाल 21 अगस्त, 2019 से अगले 2 वर्ष तक का होगा.

कार्यकलाप

  • यह बोर्ड बैंक उधारी से सम्बंधित उन्हीं घोटालों की जाँच करेगा जिनमें सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के जनरल मेनेजर और उससे ऊपर के अधिकारी संलिप्त दिखेंगे.
  • सम्बंधित सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक द्वारा मामले को अन्वेषण एजेंसियों को सौंपे जाने के पहले ही यह बोर्ड सभी बड़े घोटालों का प्रारम्भिक परीक्षण करेगा.
  • 50 करोड़ रु. से ऊपर के घोटालों के विषय में ऋणदाता बोर्ड को अवगत करायेंगे तथा बोर्ड से सुझाव अथवा परामर्श पाने के उपरान्त आवश्यक कार्रवाई करेंगे.
  • यदि अन्वेषण के क्रम में केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (CBI) किसी तकनीकी प्रश्न पर सम्भ्रम की स्थिति में हो तो वह इस बोर्ड से आवश्यक परामर्श ले सकता है.
  • ABBF का यह कर्तव्य होगा कि वह समय-समय पर घोटालों का विश्लेषण करे और भारतीय रिज़र्व बैंक को ऐसी जानकारियाँ उपलब्ध कराए जिनके आधार पर घोटालों से निपटने के लिए समुचित नीति बनाई जा सके.

GS Paper 2 Source: PIB

pib_logo

UPSC Syllabus : Government policies and interventions for development in various sectors and issues arising out of their design and implementation.

Topic : Open Acreage Licensing Policy

संदर्भ

पिछले दिनों भारत सरकार ने ओपन एकरेज लाइसेंसिंग पॉलिसी (OALP) – IV के अंतर्गत खनिज तेल और प्राकृतिक गैस के सात ब्लॉक नीलामी पर रख दिए हैं.

OALP

  • OALP भारत सरकार की हाइड्रोकार्बन अन्वेषण एवं लाइसेंस नीति (Hyrdrocarbon Exploration and Licensing Policy- HELP) का एक हिस्सा है.
  • यह नीति भारत में तेल/प्राकृतिक गैस के नए भंडार खोजने और उसके दोहन से सम्बंधित है.
  • तेल खोजने वाली कम्पनी इस योजना के अंतर्गत राष्ट्रीय डाटा संग्रह (National Data Repository – NDR) में उपलब्ध डाटा के आधार पर नीलामी के पहले ही अपने मन का ब्लॉक चुन सकती है.
  • उसके पश्चात् कम्पनी सरकार को अपना आवेदन देगी जिसमें उस ब्लॉक पर बोली लगाई जायेगी.
  • जो कम्पनी किसी ब्लॉक के लिए सरकार को सबसे अधिक अंश देने के लिए प्रस्ताव करेगी, उसी को यह ब्लॉक दिया जाएगा.
  • इस नई नीति से भारत की अवसादी घाटियों (sedimentary basins) के लगभग 8 मिलियन वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में तेल के अन्वेषण तथा अंततोगत्वा उत्पादन का मार्ग प्रशस्त हो जायेगा.

NDR क्या है?

  • राष्ट्रीय डाटा संग्रह वह निकाय है जिसका सृजन सरकार ने ईंधन अन्वेषकों को देश-भर के भंडारों के विषय में डाटा देने के लिए किया है. इस डाटा का विश्लेषण करके कोई भी कम्पनी अपनी क्षमता के अनुसार ब्लॉक चुन सकती है.
  • इस राष्ट्रीय डाटा संग्रह में नित्य नए डाटा समाविष्ट होते रहते हैं. राष्ट्रीय भूकम्प कार्यक्रम (National Seismic Programme) देश के 26 अवसादी घाटियों का गहराई से अध्ययन करता रहता है और इस विषय में NDR को डाटा देता रहता है. इन जानकारियों को लगातार NDR के संग्रह में जोड़ लिया जाता है.

GS Paper 2 Source: The Hindu

the_hindu_sansar

UPSC Syllabus : Important International institutions, agencies and fora, their structure, mandate.

Topic : G7 bloc

संदर्भ

पिछले दिनों फ्रांस के नगर Biarritz में G7 का 45वाँ वार्षिक शिखर सम्मेलन सम्पन्न हुआ. इस शिखर सम्मलेन की अध्यक्षता फ़्रांस ने की. फ्रांस ने इस बैठक के लिए पाँच उद्देश्यों का निर्धारण किया जो निम्न प्रकार के हैं –

  1. अवसरों में असमानता दूर करना, लैंगिक समानता को बढ़ावा देना, शिक्षा और उच्चकोटि की स्वास्थ्य सेवा की उपलब्धता प्रदान करना.
  2. पर्यवारणगत असमानता घटाना.
  3. वैश्वीकरण के सामाजिक आयाम को सुदृढ़ करना.
  4. सुरक्षागत खतरों और आतंकवाद के विरुद्ध कार्रवाई करना.
  5. डिजिटल तकनीक और कृत्रिम बुद्धि से उत्पन्न अवसरों का पता लगाना.

G_20 2019 highlights

G7 का इस साल का एजेंडा क्या रहा?

  1. अमेरिका और चीन के बीच चल रहा व्यापार युद्ध.
  2. यूरोपीय संघ के द्वारा समर्थित ईरान के साथ आणविक समझौते का प्रस्ताव जिसका अमेरिका विरोध कर रहा है.
  3. हौंग-कौंग में चीन के विरुद्ध चल रहा आन्दोलन.

G7 शिखर सम्मेलन क्या है?

  1. यह 7 प्रमुख राष्ट्रों के प्रमुखों की बैठक है. पहले इसमें 8 देश थे. इसकी स्थापना 1975 में हुई थी.
  2. इसमें विश्व के 7 प्रमुख सशक्त देश शामिल होते हैं – अमेरिका, कनाडा, UK, फ़्रांस, जर्मनी, जापान और इटली. इसके अतिरिक्त यूरोपीय संघ के नेतागण भी इस बैठक में बुलाये जाते हैं. वे आपसी सहमति से नीतियाँ बनाते हैं और फिर सम्बंधित मुद्दों का समाधान ढूँढते हैं.
  3. इस सम्मलेन में विश्व भर के ज्वलंत मुद्दों पर चर्चा होती है. जहाँ यह सम्मलेन होता है उसी देश का राष्ट्र प्रमुख बैठक की अध्यक्षता करता है और उसे यह अधिकार होता है कि वह अपनी इच्छा से किसी एक और देश को बैठक में आमंत्रित करे.

G7 का माहात्म्य

G7 में विश्व की बड़ी-बड़ी आर्थिक शक्तियाँ सम्मिलित होती हैं. अतः G7 जो भी निर्णय लेता है उसका पूरे विश्व पर व्यापक प्रभाव पड़ता है. यद्यपि G7 के निर्णय कानूनी रूप से बाध्यकारी नहीं हैं, परन्तु इनका राजनैतिक प्रभाव अत्यंत प्रबल होता है.


Prelims Vishesh

Krishna temple in Bahrain :-

पिछले दिनों अपनी बहरैन यात्रा के क्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घोषणा की कि बहरैन में 1817 में ठठई भाटिया हिन्दू समुदाय (Thathai Bhatia Hindu community) के द्वारा निर्मित और संचालित श्रीकृष्ण मन्दिर के पुनरोद्धार के लिए 4.2 मिलियन डॉलर व्यय किये जाएँगे.

UAEs Highest Civilian Award ‘Order of Zayed’:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संयुक्त अरब अमीरात के संस्थापक शेख जायद बिन सुलतान अल नहयान के नाम से उस देश द्वारा दिए जाने वाले सबसे बड़े और प्रतिष्ठित नागरिक पुरस्कार “आर्डर ऑफ़ जायद” से सम्मानित किया गया.

Project SURE :

  • SURE परियोजना का पूरा नाम Sustainable Resolution है.
  • यह योजना कपड़ा उद्योग से सम्बंधित है. इसके अंतर्गत सभी कपड़ा निर्माताओं को कार्बन उत्सर्जन घटाने, संसाधन की कार्यक्षमता बढ़ाने, कचरा निष्पादन करने, जल प्रबन्धन करने और सकारात्मक सामाजिक प्रभाव सृजित करने के लिए निर्देश दिया जाता है जिससे कि सतत लक्ष्यों को प्राप्त करना सुगम हो सके.

Women’s Equality Day :-

अमेरिका में महिलाओं के समान अधिकार (मताधिकार सहित) सुनिश्चित करने वाले 19वें संशोधन के पारित होने के स्मरण में हर वर्ष की भाँति इस वर्ष भी 26 अगस्त को महिला समानता दिवस मनाया गया.


Click here to read Sansar Daily Current Affairs – Sansar DCA

July, 2019 Sansar DCA is available Now, Click to Download new_gif_blinking

Books to buy

2 Comments on “Sansar डेली करंट अफेयर्स, 28 August 2019”

  1. Respected sir,
    Aapke lekho se current muddo ko samjhne me bahut aashani hoti hai,
    Gaon me Ache teachers ka abhav hota hai, kintu uski kami ab mahsush nahi hoti hai.

    DHANYAVAD

Leave a Reply

Your email address will not be published.