Sansar डेली करंट अफेयर्स, 14 August 2019

Sansar LochanSansar DCALeave a Comment

Sansar Daily Current Affairs, 14 August 2019


GS Paper 2 Source: PIB

pib_logo

UPSC Syllabus : Issues relating to development and management of Social Sector/Services relating to Health, Education, Human Resources.

Topic : National Youth Awards

संदर्भ

विकास और समाजसेवा के विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य एवं योगदान के लिए पिछले दिनों राष्ट्रीय युवा पुरस्कार वितरित किये गये.

राष्ट्रीय युवा पुरस्कार क्या हैं?

  • विकास और समाज सेवा जैसे स्वास्थ्य, मानवाधिकार, सक्रिय नागरिकता, सामुदायिक सेवा इत्यादि क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य और योगदान के लिए राष्ट्रीय युवा पुरस्कार 15 से 29 वर्ष के युवाओं के साथ-साथ संगठनों को दिए जाते हैं.
  • ये पुरस्कार युवा कार्य एवं खेलकूद मंत्रालय के अधीनस्थ युवा कार्य विभाग की ओर से दिए जाते हैं.
  • उद्देश्य : इन पुरस्कारों का उद्देश्य है – युवाओं को राष्ट्रीय विकास एवं समाज सेवा के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान के लिए प्रेरित करना, युवाओं में भले नागरिक के रूप में समुदाय के प्रति उत्तरदायित्व की भावना विकसित करते हुए उनमें अपनी निजी सम्भावनाओं में सुधार लाने के लिए प्रोत्साहित करना.
  • राष्ट्रीय विकास और समाज सेवा का काम करने वाले युवाओं के लिए आगे आने वाले स्वैच्छिक संगठनों के द्वारा किये गये उत्कृष्ट कार्य को मान्यता देना.
  • प्रत्येक युवा पुरास्कार में एक तमगे और प्रमाणपत्र के अतिरिक्त 50 हजार रुपये की नकद राशि दी जाती है. यदि यह पुरस्कार किसी युवा संगठन को दिया जाता है तो उसमें नकद राशि 2 लाख रु. होती है.

GS Paper 2 Source: PIB

pib_logo

UPSC Syllabus : Statutory, regulatory and various quasi-judicial bodies.

Topic : Khadi and Village Industries Commission (KVIC)

संदर्भ

विश्व जनजाति दिवस के अवसर पर खादी एवं ग्राम उद्योग आयोग (KVIC) की ओर से नीति आयोग द्वारा चुने गये आकांक्षा जिलों में से एक जिले सिरोही (राजस्थान) के जनजातीय प्रधान गाँवों में चमड़े के 50 किट और जीवित मधुमक्खियों के छत्तों के साथ 350 मधुमक्खी मंजूषाएँ बाँटी गईं.

खादी एवं ग्राम उद्योग आयोग (KVIC) क्या है?

  1. खादी एवं ग्राम उद्योग आयोग (KVIC) एक वैधानिक निकाय है जिसकी स्थापना खादी ग्रामोद्योग आयोग 1956 के तहत हुई थी.
  2. 1957 में अखिल भारतीय खाड़ी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड (All India Khadi and Village Industries Board) के सारे कार्य इस आयोग को सौंप दिए गये.
  3. यह सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय के तहत एक शीर्ष संगठन है.
  4. इसका कार्य खादी एवं ग्रामीण उद्योगों की स्थापना एवं विकास को संगठित करना और उनके विकास में सहायता देना है.
  5. आयोग के तीन मुख्य उद्देश्य हैं
  • सामाजिक उद्देश्य – ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार प्रदान करना.
  • आर्थिक उद्देश्य – बिक्री योग्य सामान तैयार करना.
  • व्यापक उद्देश्य – लोगों को आत्मनिर्भर बनाना और उनमें एक मजबूत ग्रामीण सामुदायिक भावना पैदा करना.

विश्व जनजाति दिवस

  1. यह दिवस प्रत्येक वर्ष 9 अगस्त को मनाया जाता है.
  2. इसे अंतर्राष्ट्रीय देशज जन दिवस भी कहा जाता है.
  3. इसका उद्देश्य विश्व के जनजातीय समुदाय के अधिकारों की रक्षा करना है.
  4. इस दिवस के अवसर पर पर्यावरण सुरक्षा जैसी वैश्विक समस्याओं के समाधान की दिशा में देशी लोगों के द्वारा किये गये योगदान को भी मान्यता दी जाती है.
  5. संयुक्त राष्ट्र द्वारा यह दिवस पहली बार दिसम्बर 1994 में घोषित हुआ था. विदित हो कि 1982 में 9 अगस्त को ही संयुक्त राष्ट्र के उस कार्यसमूह की पहली बैठक हुई थी जो देशज समुदायों के मानवाधिकारों से सम्बंधित थी.

GS Paper 2 Source: PIB

pib_logo

UPSC Syllabus : e-governance- applications, models, successes, limitations, and potential; citizens charters, transparency & accountability and institutional and other measures.

Topic : National Conference on e-Governance adopts ‘Shillong Declaration’

संदर्भ

ई-गवर्नेंस से सम्बंधित 22वें राष्ट्रीय सम्मेलन में 10-सूत्री शिलॉंग घोषणा को अंगीकार किया गया. इस घोषणा में ई-गवर्नेंस की दिशा में आगे होने वाले कार्यों की योजना बताई गई है तथा पूर्वोत्तर में सम्पर्कशीलता को सुधारने पर बल दिया गया है.

इस सम्मलेन को मेघालय सरकार के सहयोग से भारत सरकार के कार्मिक विभाग एवं इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना तकनीक मंत्रालय ने आयोजित किया था.

शिलॉंग घोषणा के दस सूत्र क्या हैं?

  1. नागरिकों को बेहतर सरकारी सेवा देने के लिए केंद्र और राज्य सरकारें मिल-जुलकर काम करेंगी.
  2. इंडिया एंटरप्राइज आर्किटेक्चर (IndEA) के समय पर कार्यान्वयन का प्रयास किया जाएगा.
  3. देश-भर में चलाई जा रही ई-गवर्नेंस परियोजनाओं को समेकित किया जाएगा.
  4. राज्य-स्तर की सफल ई-गवर्नेंस परियोजनाओं और डोमेन पर आधारित परियोजनाओं को एक स्थान में लाया जाएगा जिससे उनका सामान्य अनुप्रयोग सॉफ्टवेर के रूप में उपयोग किया जा सके.
  5. सरकार की भूमिका बदलते हुए उसे सेवा प्रदाता की जगह पर सेवा सुलभकर्ता बनाया जाएगा जिससे कि जीवन-यापन की सरलता और व्यवसाय संचालन की सरलता सुनिश्चित की जा सके.
  6. पूर्वोत्तर में सम्पर्कशीलता को आगे बढ़ाने के लिए उपाय किये जाएँगे.
  7. जमीनी-स्तर पर दूरसंचार की सम्पर्कशीलता से सम्बंधित समस्याओं और चुनौतियों का समाधान करना एवं दूरसंचार के व्यापक विकास के लिए आवश्यक योजना का कार्यान्वयन किया जाएगा.
  8. नागरिकों के लाभ के लिए पूर्वोत्तर में ई-सेवाओं की गुणवत्ता में सुधार लाया जाएगा.
  9. भारत को वैश्विक क्लाउड हब बनाया जाएगा और यह व्यवस्था की जायेगी कि सरकारी अनुप्रोयग और डाटाबेस अपने आप क्लाउड में जमा हो जाएँ.
  10. ई-गवर्नेंस और डिजिटल इंडिया परियोजना को बढ़ावा देने के लिए उभरती हुई नई तकनीकों को स्वीकार किया जाएगा और इसके लिए स्मार्ट नगरों एवं स्मार्ट ग्रामों पर ध्यान स्टार्ट-अपों एवं स्मार्ट उद्यमिता के माध्यम से केन्द्रित किया जाएगा.

GS Paper 3 Source: The Hindu

the_hindu_sansar

UPSC Syllabus : Major crops cropping patterns in various parts of the country, different types of irrigation and irrigation systems storage, transport and marketing of agricultural produce and issues and related constraints; e-technology in the aid of farmers.

Topic : Mukhya Mantri Krishi Ashirwad Yojana

संदर्भ

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने पिछले दिनों झारखंड में मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना का अनावरण किया.

मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना क्या है?

  • झारखंड में यह योजना वहाँ के किसानों के कल्याण के लिए और वित्तीय सहायता देने के लिए बनाई गई है.
  • इस योजना के लिए 2019-2020 में आवश्यक बजटीय प्रावधान किये जा चुके हैं.
  • यह राज्य की ऐसी पहली योजना है जिसमें लाभार्थियों को शत प्रतिशत राशि प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण (DBT) के माध्यम से प्राप्त होगी.

योजना के मुख्य तत्त्व

  • मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना के प्रथम चरण में 60 लाख किसानों को प्रति एकड़ 5,000 रु. दिए जाएँगे. अधिकतम देय राशि 25,000 रु. होगी.
  • इस योजना के लिए धनराशि अगस्त 10 को पंजीकृत बैंक खातों में RTGS के माध्यम से पहुँचा दी गई है.
  • अभी 22 लाख किसानों को यह राशि नहीं मिली है. ध्येय है कि इन किसानों को शीघ्र ही पंजीकृत करते हुए उन्हें इस वर्ष अक्टूबर तक राशि हस्तांतरित कर दी जाए.

GS Paper 3 Source: The Hindu

the_hindu_sansar

UPSC Syllabus : e-technology in the aid of farmers.

Topic : Govt. to launch ‘Uber for tractors’ app to aid farmers

संदर्भ

भारत सरकार के कृषि मंत्रालय ने देश के किसानों के लिए भाड़े पर ट्रेक्टर लेने के लिए एक ऐप बनाया है. इस ऐप को “उबर फॉर ट्रैक्टर्स” नाम दिया गया है.

उबर फॉर ट्रैक्टर्स से सम्बंधित कुछ बातें

  • इस ऐप के माध्यम से किसान भाड़े पर न केवल ट्रेक्टर, अपितु रोटावेटर और अन्य किसानी की मशीनें ले सकते हैं.
  • इस ऐप को अपनाकर किसान आधुनिकतम तकनीक का लाभ उठाते हुए घर बैठे ट्रेक्टर आदि की सुविधा ले सकेंगे.
  • जैसे उबर यात्रियों को कैबों से जोड़ देता है, उसी प्रकार यह ऐप किसानों को कस्टम हायरिंग केन्द्रों (CHCs) से जोड़ देगा.
  • इस ऐप में रेटिंग देने की भी प्रणाली है जिसमें CHC और किसान दोनों अपना-अपना फीडबैक दे सकते हैं जिसके आधार पर वे समय पड़ने पर उचित निर्णय ले सकें.
  • इस ऐप के प्रयोग से एक अमूल्य डाटाबेस स्वत: तैयार हो जाएगा जिसके आधार पर नीति-निर्माता कृषि उपकरणों के उपयोग और लागत के विषय में आवश्यक जानकारी प्राप्त कर सकेंगे.

माहात्म्य

देश में किसान नई तकनीक का प्रयोग किस प्रकार कर रहे हैं इससे सम्बंधित जानकारी इस ऐप के माध्यम से सरकार को मिल जायेगी. विदित हो कि कई नई तकनीकों को बढ़ावा देने के लिए सरकार तत्पर रहती है, जैसे – वायु प्रदूषण को जन्म देने वाली पराली जलाने की प्रथा को रोकने के लिए हैप्पी सीडर का प्रयोग अथवा कृषि उत्पाद को प्रसंस्कृत और संरक्षित करने में उपयोगी सौर शोषक (solar dryers) का प्रयोग.


Prelims Vishesh

Boko Haram :

  • पूर्वोत्तर नाइजीरिया में उत्पन्न और पड़ोसी देशों – नाइजर, चाड और कैमरून में फैला हुआ बोको हराम एक हिसंक सुन्नी इस्लामी गुट है जो 2000 के आरम्भ से उन क्षेत्रों में इस्लामी कानून को लागू करने के लिए हिंसक उत्पाद मचाता आया है.
  • इस गुट का औपचारिक नाम Jama’a Ahl as-Sunna Li-da’wa wa-al Jihad है.

States with most dense tree, forest cover :

  • पिछले दिनों पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने संसद में बताया कि देश में कहाँ कितने जंगल हैं.
  • यह सूचना भारतीय वन सर्वेक्षण के द्वारा किये गये एक अध्ययन पर आधारित है जिसका अंतिम प्रकाशन 2017 में भारतीय वन स्थिति प्रतिवेदन (ISFR) में हुआ था.
  • प्रतिवेदन के अनुसार भारत में 49% क्षेत्र में जंगल और पेड़ हैं.
  • सबसे कम जंगल वाला राज्य हरियाणा है जहाँ सम्पूर्ण भूभाग के 79% अंश में ही जंगल रह गये हैं.
  • सबसे अधिक जंगल (97%) लक्षद्वीप में पाए जाते हैं.
  • अधिक जंगल वाले राज्यों में पूर्वोत्तर के राज्य मणिपुर, अरुणाचल प्रदेश, मिजोरम और मेघालय अग्रणी हैं.

Kajin Sara lake :-

पिछले दिनों नेपाल में कजिन सारा नामक एक नई झील का पता चला है जो विश्व की सबसे ऊँची झील सिद्ध होगी.

Palani panchamirtham :-

  • तमिलनाडु के नगर पलानी में स्थित प्रसिद्ध मुर्गन मन्दिर में वितरित होने वाले पलानी पंचामृतम नामक प्रसाद को पिछले दिनों भौगोलिक संकेतक टैग (GI Tag) दिया गया.
  • तमिलनाडु में किसी प्रसाद को मिलने वाला इस प्रकार का यह पहला टैग है.
  • पंचामृत में ये पाँच सामग्रियाँ होती हैं – केला, गुड़, गाय का घी, मधु और छोटी इलायची. स्वाद के लिए इसमें ऊपर से खजूर और डायमंड चीनी के खंड डाले जाते हैं.

Click here to read Sansar Daily Current Affairs – Sansar DCA

July, 2019 Sansar DCA is available Now, Click to Download new_gif_blinking

Books to buy

Leave a Reply

Your email address will not be published.