Sansar डेली करंट अफेयर्स, 09 September 2019

Sansar LochanSansar DCALeave a Comment

Sansar Daily Current Affairs, 09 September 2019


GS Paper 1 Source: Indian Express

indian_express

UPSC Syllabus : Modern Indian history from about the middle of the eighteenth century until the present- significant events, personalities, issues.

Topic : Asiatic Society of Mumbai

संदर्भ

प्रोफेसर विस्पी बालपोरिया का एशियाटिक सोसाइटी ऑफ़ मुंबई के अध्यक्ष के रूप में चयन हुआ है. इस संस्था का इतिहास 215 वर्ष पुराना है, परन्तु प्रोफेसर बालपोरिया इसकी पहली महिला अध्यक्ष होंगी.  

एशियाटिक सोसाइटी ऑफ़ मुंबई क्या है?

  • यह विद्वानों की एक सोसाइटी है जो ऐतिहासिक अनुसंधान करवाती है और साथ ही इतिहासकारों को पुरस्कृत भी करती है. इसके अतिरिक्त यहाँ स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों का भी संचालन होता है.
  • एशियाटिक सोसाइटी ऑफ़ मुंबई के अन्दर एक लाख से अधिक पुस्तकों का एक पुस्तकालय है जिसमें ईस्ट इंडिया कम्पनी और उदारदाताओं द्वारा दी गयी दुर्लभ पांडुलिपियाँ भी विद्यमान हैं.
  • शोधकार्य के लिए यह सोसाइटी जूनियर छात्रवृत्तियाँ देती है और संस्कृति मंत्रालय की टैगोर राष्ट्रीय छात्रवृत्ति के लिए विद्वानों के नाम भी सुझाती है.
  • महाराष्ट्र का राज्यपाल इस सोसाइटी का पदेन मुख्य संरक्षक होता है.

एशियाटिक सोसाइटी, मुंबई का इतिहास

  • यह सोसाइटी 1804 में लिटरेरी सोसाइटी ऑफ़ बॉम्बे नाम से अस्तित्व में आई.
  • इसकी स्थापना स्कॉटलैंड मूल के उपनिवेश प्रशासक सर जेम्स मैकिंटोश ने की थी, जो पौर्वात्य अध्ययन (oriental studies) में बड़ी रूचि रखते थे.
  • 1826 में इस सोसाइटी को लन्दन में स्थित रॉयल एशियाटिक सोसाइटी ऑफ़ ग्रेट ब्रिटेन एंड आयरलैंड की मुंबई शाखा बना दिया गया और इसे बॉम्बे ब्रांच ऑफ़ द रॉयल एशियाटिक सोसाइटी (BBRAS) कहा जाने लगा.
  • 1954 में BBRAS से इस संस्थान का नाता तोड़ दिया गया और यह तब से एशियाटिक सोसाइटी ऑफ़ बॉम्बे कहा जाने लगा.

GS Paper 1 Source: The Hindu

the_hindu_sansar

UPSC Syllabus : Urbanization, their problems and their remedies.

Topic : Swachh Iconic Places

संदर्भ

जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले की त्रिकूट पहाड़ियों के शिखर पर अवस्थित माता वैष्णो देवी मंदिर को देश का सबसे स्वच्छ आइकोनिक स्थल घोषित किया गया है.

स्वच्छ आइकोनिक स्थल किसे कहते हैं?

स्वच्छ इकोनिक स्थल कार्यक्रम स्वच्छ भारत मिशन के तहत पेयजल एवं स्वच्छता मंत्रालय की एक पहल है. स्वच्छ इकोनिक स्थल कार्यक्रम का उद्देश्य सुप्रसिद्ध स्थलों को अति-स्वच्छ रखना है जिससे कि वहाँ पहुँचने वाले यात्रियों को स्वच्छ वातावरण मिले और ये स्थल स्वच्छता के लिए जाने जाएँ.

इस परियोजना के कार्यान्वयन में पेयजल एवं स्वच्छता मंत्रालय के अतिरिक्त ये तीन और केन्द्रीय मंत्रालय शामिल हैं – शहरी विकास मंत्रालय, संस्कृति मंत्रालय एवं पर्यटन मंत्रालय.

साथ ही इस परियोजना में सम्बंधित राज्यों और सार्वजनिक क्षेत्र एवं निजी क्षेत्र की कम्पनियाँ भी भागीदार होती हैं.

विभिन्न चरणों में चुने गये आइकोनिक स्थल

  1. चरण 1 के आइकोनिक स्थल हैं : अजमेर शरीफ दरगाह, सीएसटी मुंबई, स्वर्ण मंदिर (पंजाब), कामाख्या मंदिर (असम), मणिकर्णिका घाट (उत्तर प्रदेश), मीनाक्षी मंदिर (तमिलनाडु), श्री माता वैष्णो देवी भवन (जम्मू-कश्मीर), श्री जगन्नाथ मंदिर (ओडिशा), ताजमहल (उत्तर प्रदेश) और तिरुपति मंदिर (आंध्र प्रदेश).
  2. चरण 2 के आइकोनिक स्थल हैं : गंगोत्री (उत्तराखंड), यमुनोत्री (उत्तराखंड), महाकालेश्वर मंदिर (मध्यप्रदेश), चारमीनार (तेलंगाना), सेंट फ्रांसिस चर्च, कालडी (केरल), गोमतेश्वर (कर्नाटक), बैद्यनाथ धाम (झारखण्ड), गया तीर्थ (बिहार) और सोमनाथ मंदिर (गुजरात).
  3. चरण 3 के आइकोनिक स्थल हैं : राघवेंद्रस्वामी मंदिर (करनूल, आंध्र प्रदेश); हजारद्वारी पैलेस (मुर्शिदाबाद, पश्चिम बंगाल); ब्रह्म सरोवर मंदिर (कुरुक्षेत्र, हरियाणा); विदुरकुति (बिजनौर, उत्तर प्रदेश); मन गांव (चमोली, उत्तराखंड); पांगोंग झील (लेह-लद्दाख); नागवासुकि मंदिर (इलाहाबाद, उत्तर प्रदेश); इमाकेथल /मार्केट (इम्फाल, मणिपुर); सबरीमाला मंदिर (केरल); और कण्वाश्रम (उत्तराखंड).

GS Paper 2 Source: PIB

pib_logo

UPSC Syllabus : Development processes and the development industry the role of NGOs, SHGs, various groups and associations, donors, charities, institutional and other stakeholders.

Topic : North Eastern Regional Agricultural Marketing Corporation Limited (NERAMAC)

संदर्भ

पिछले दिनों असम के गोवाहटी नगर में नेरामैक (NERAMAC) के एक बाजार संकुल का शिलान्यास हुआ.

नेरामैक (NERAMAC) क्या है?

  • नेरामैक का पूरा नाम है – पूवोत्तर क्षेत्रीय कृषि विपणन निगम लिमिटेड (North Eastern Regional Agricultural Marketing Corporation Limited).
  • यह संगठन कृषि-बागबानी क्षेत्र का एक मूर्धन्य विपणन संगठन है जो किसानों को उनके खेतों से लेकर बाजार तक और यहाँ तक कि ग्राहकों तक FPO/FPCs के माध्यम से अपना सहयोग पंजीकृत करता है.
  • यह निगम 1982 में भारत सरकार के एक उपक्रम के रूप में निगमित हुआ था. इसका पंजीकृत कार्यालय गोवाहाटी में है. इसका प्रशासी नियंत्रण भारत सरकार के पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास मंत्रालय (DoNER) के अधीन होता है.

GS Paper 2 Source: The Hindu

the_hindu_sansar

UPSC Syllabus : Issues relating to development and management of Social Sector/Services relating to Health, Education, Human Resources, issues relating to poverty and hunger /  Bilateral, regional and global groupings and agreements involving India and/or affecting India’s interests.

Topic : The Global Fund to Fight AIDS, Tuberculosis and Malaria

संदर्भ

भारत ने AIDS, यक्ष्मा एवं मलेरिया के लिए बने वैश्विक कोष (GFTAM) में 22 मिलियन अमेरिकी डॉलर का अंशदान किया है. यह अंशदान कोष के छठे परिपूर्ति चक्र के लिए है. दी गई राशि पाँचवे चक्र की तुलना में 10% अधिक है.

The Global Fund to Fight AIDS, Tuberculosis and Malaria

GFTAM क्या है?

  • GFTAM का पूरा नाम है – Global Fund for AIDS, TB and Malaria.
  • यह एक अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय संगठन है.
  • इसकी स्थापना 2002 में हुई थी.
  • इस कोष में सरकारों, स्वयंसेवी संस्थाओं, तकनीकी एजेंसियों, निजी प्रक्षेत्रों तथा HIV/AIDS, यक्ष्मा और मलेरिया से ग्रस्त लोगों की भागीदारी होती है.
  • इस संगठन का सचिवालय स्विट्ज़रलैंड के अन्दर जेनीवा में है.
  • इस संगठन का उद्देश्य है – HIV/AIDS, यक्ष्मा और मलेरिया जैसी महामारियों को समाप्त करने के लिए अतिरिक्त संसाधनों का निवेश करना जिससे कि संयुक्त राष्ट्र द्वारा निर्धारित सतत विकास लक्ष्यों को पूरा करने में सहायता मिल सके.

पृष्ठभूमि

यह वैश्विक कोष जनवरी, 2002 में अपनी स्थापना के समय स्विट्ज़रलैंड के कानून के अनुसार एक स्वतंत्र और अलाभकारी फाउंडेशन के रूप में विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के अधीन गठित हुआ था.

जनवरी, 2009 में यह संगठन प्रशासनिक रूप से एक स्वायत्त संगठन बन गया और विश्व स्वास्थ्य संगठन के साथ प्रशासनिक सेवाओं के लिए हुए समझौते को समाप्त कर दिया गया.


GS Paper 3 Source: The Hindu

the_hindu_sansar

UPSC Syllabus : Public Distribution System objectives, functioning, limitations, revamping; issues of buffer stocks and food security.

Topic : One Nation-One Ration Card scheme

संदर्भ

एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना के अंतर्गत चार और राज्य पिछले दिनों शामिल हो गये. ये राज्य हैं – केरल, कर्नाटक, राजस्थान और हरियाणा.

इसका अभिप्राय यह हुआ कि अब इन राज्यों के राशन कार्डधारी अगले महीने से आस-पड़ोस के राज्यों की राशन दुकानों से भी सब्सिडी वाला खाद्य पदार्थ उठा सकेंगे.

एक राष्ट्र –  एक राशन कार्ड योजना क्या है?

यह एक राष्ट्रीय योजना है जो यह सुनिश्चित करती है कि कि जन-वितरण प्रणाली से लाभ लेने वाले सभी व्यक्ति, विशेषकर एक स्थान से दूसरे स्थान जाने वाले, देश के अन्दर किसी भी अपनी पसंद की PDS दुकान से अनाज आदि प्राप्त कर सकें.

लाभ

इस योजना का लाभ यह होगा कि खाद्य सुरक्षा योजना के अंतर्गत सब्सिडी युक्त अनाज पाने से कोई निर्धन व्यक्ति इसलिए वंचित न हो जाए कि वह एक स्थान से दूसरे स्थान चला गया है. इस योजना से एक अतिरिक्त लाभ यह होगा कि कोई व्यक्ति अलग-अलग राज्यों में जन-वितरण प्रणाली का लाभ लेने के लिए एक से अधिक राशन कार्ड नहीं बनवा पायेगा.

माहात्म्य

इस योजना से के फ़लस्वरूप लाभार्थी किसी एक PDS दुकान से बंधा नहीं रह जाएगा और ऐसी दुकान चलाने वालों पर उसकी निर्भरता घट जायेगी और साथ ही भ्रष्टाचार के मामलों में भी कटौती होगी.

चुनौतियाँ

  • प्रत्येक राज्य के पास जन-वितरण प्रणाली के विषय में अपने नियम होते हैं. यदि एक राष्ट्र – एक राशन कार्ड योजना लागू की गई तो संभावना है कि इससे भ्रष्टाचार को बढ़ावा मिले. वैसे भी सभी जानते हैं कि इस प्रणाली में भ्रष्टाचार होता रहता है.
  • इस योजना से जन-सामान्य का कष्ट बढ़ जाएगा और बिचौलिए तथा भ्रष्ट PDS दुकान के मालिक उसका शोषण करेंगे.
  • इन्हीं कारणों से तमिलनाडु ने इस योजना का विरोध किया है और कहा है कि इसको लागू करने से अवांछित परिणाम होंगे. साथ ही उसका कहना है कि यह योजना संघवाद पर कुठाराघात करती है.

Prelims Vishesh

ASEAN-US Maritime Exercise (AUMX) :-

थाईलैंड के सत्ताहिप नौसैनिक अड्डे (Sattahip Naval Base) अड्डे में पहली बार आसियान और अमेरिका की नौसेनाओं का संयुक्त अभ्यास (AUMX) आयोजित हो रहा है.

Poshan Maah (National Nutrition Month) :-

  • भारत सरकार पोषण अभियान के अंतर्गत सितम्बर महीने को राष्ट्रीय पोषण माह के रूप में मना रही है.
  • इसका उद्देश्य पोषण के सन्देश को जमीनी स्तर तक पहुँचाना है.
  • पोषण अभियान एक ऐसा कार्यक्रम है जिसमें नीति आयोग और महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के अतिरिक्त 18 सम्बन्धित मंत्रालयों/विभागों/सरकारी संगठनों की प्रतिभागिता होती है.

Mt. Kun :-

  • भारतीय सेना ने पिछले दिनों लद्दाख के ज़न्सकार और कारगिल क्षेत्रों के मध्य स्थित दूसरी सबसे ऊँची चोटी कुन पर्वत का पर्वतारोहण किया.
  • विदित हो कि इस पर्वत की ऊँचाई 7,135 मीटर है.

Exercise Yudh Abhyas 2019 :-

अमेरिका और भारत की सेनाओं का एक संयुक्त अभ्यास – युद्ध अभ्यास 2019 – अमेरिका के वाशिंगटन में स्थित लेविस मैक-कॉर्ड संयुक्त अड्डे (JBLM) पर हो रहा है.

Apache attack helicopters :-

  • भारतीय वायुसेना ने आठ AH-64E अपाचे युद्धक हेलिकॉप्टरों को पठानकोट में स्थित वायुसेना केंद्र के बेड़े में शामिल कर लिया है.
  • ये हेलिकॉप्टर Mi-35 बेड़े का स्थान लेंगे.
  • अपनी सेना में अपाचे को शामिल करने वाला भारत विश्व का 16वाँ देश है.
  • ये युद्धक हेलिकॉप्टर विश्व के सबसे उन्नत कोटि के और एक साथ बहुत-से काम करने में सक्षम हैं.

Click here to read Sansar Daily Current Affairs – Sansar DCA

August, 2019 Sansar DCA is available Now, Click to Download

Books to buy

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.