Sansar डेली करंट अफेयर्स, 09 November 2019

Sansar LochanSansar DCALeave a Comment

Sansar Daily Current Affairs, 09 November 2019


Top 100 CA Batch Important Info
करंट अफेयर्स के लिए आयोजित होने वाली टेस्ट सीरीज 15 नवम्बर को आयोजित होने जा रही है. टेस्ट देने की अंतिम तारीख 29 नवम्बर होगी. छात्र 15 नवम्बर से 29 नवम्बर तक किसी भी तिथि में सुविधानुसार परीक्षा दे सकते हैं. स्मरण रहे कि यह परीक्षा मात्र Top 100 छात्रों के चयन करने के उद्देश्य से ली जा रही है. जो छात्र सफल होंगे उनका चयन आगामी आयोजित होने वाली करंट अफेयर्स 12 टेस्ट सीरीज बैच के लिए किया जाएगा. 12 टेस्ट सीरीज की परीक्षा-सारणी वेबसाइट पर 30 नवम्बर को सफल छात्रों के नाम के साथ डाल दी जायेगी.

GS Paper 2 Source: The Hindu

the_hindu_sansar

UPSC Syllabus : Government policies and interventions for development in various sectors and issues arising out of their design and implementation.

Topic : Steel scrap recycling policy

संदर्भ

स्टील उद्योग के लिए अच्छे स्क्रैप की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए सरकार एक स्टील स्क्रैप पुनश्चक्रण नीति ले कर आई है जिसका लक्ष्य स्टील का आयात घटाना, संसाधनों का संरक्षण करना और ऊर्जा को बचाना है.

पुनश्चक्रण से सम्बंधित यह नीति भारत सरकार की राष्ट्रीय स्टील नीति (2017) का एक अंग है जिसमें कहा गया था कि 2030 तक भारत में स्टील उत्पादन की क्षमता बढ़ाकर 300 मिलियन मेट्रिक टन/वर्ष तक पहुँचा दी जायेगी.

पुनश्चक्रण नीति के मुख्य तथ्य

  • इस नीति का उद्देश्य स्टील क्षेत्र में पुनश्चक्रण को बढ़ावा देना और साथ ही स्टील स्क्रैप का वैज्ञानिक ढंग से संग्रहण, विच्छेदन और पुनः उत्पादन को प्रोत्साहन देना है.
  • इस नीति के अनुसार, देश में कई स्टील स्क्रैप केंद्र होंगे जहाँ स्क्रैप का वैज्ञानिक प्रसंस्करण होगा और फिर उसका पुनश्चक्रण किया जाएगा.
  • इस नीति के अनुसार, भारत के शहरों में जमा लोहे के स्क्रैप को हटाकर जगह बचाना तथा स्क्रैप को तोड़ने और उसकी कतरन निकालने का तन्त्र बनाना है.
  • स्क्रैप के उच्छेदन का यह कार्य पर्यावरण एवं वन मंत्रालय के द्वारा निर्गत खतरनाक एवं अन्य कचरे (प्रबंधन एवं सीमा पार लदाई) नियमावली, 2016 के अनुरूप होगा.
  • स्टील पुनश्चक्रण नीति के आधारभूत सिद्धांत 6R हैं अर्थात् – Reduce, Reuse, Recycle, Recover, Redesign और Remanufacture.

पुनश्चक्रण नीति की आवश्यकता क्यों?

देश में 2017-18 में 24,500 करोड़ रु. के स्टील स्क्रैप का आयात हुआ. पुनश्चक्रण नीति यह सुनिश्चित करेगी कि स्टील उत्पादों का प्रसंस्करण एवं पुनश्चक्रण एक संगठित, सुरक्षित तथा पर्यावरण के अनुकूल रीति से हो और साथ ही आयात पर निर्भरता को घटाने के लिए एक ऐसा तंत्र विकसित हो जिसमें अच्छी गुणवत्ता वाले स्टील के उत्पादन के लिए अच्छी गुणवत्ता वाले लौह स्क्रैप का उत्पादन हो सके.

इस प्रकार भविष्य में स्क्रैप की माँग और आपूर्ति का अंतराल कम करते हुए देश को इस विषय में 2030 तक आत्मनिर्भर बनाया जा सकता है. इस नीति के फलस्वरूप देश के स्टील उद्योग को अच्छी गुणवत्ता वाले स्क्रैप उपलब्ध होंगे.


GS Paper 3 Source: The Hindu

the_hindu_sansar

UPSC Syllabus : Awareness in space.

Topic : NASA’s Voyager 2 spacecraft

संदर्भ

सूचना मिली है कि नासा के द्वारा छोड़ा गया NASA’s Voyager 2 यान अब हेलियोसफीयर अर्थात् सूर्य के चारों ओर सौर पवनों के कारण उत्पन्न विशाल बुलबुलों से निकलकर अंतर-तारकीय अन्तरिक्ष (interstellar space) में प्रवेश कर गया है और अभी पृथ्वी से 11 बिलियन मील पर है.

Voyager 2 की उपलब्धियाँ

  • Voyager 2 एकमात्र ऐसा टोही अन्तरिक्षयान है जिसने अरुण एवं वरुण उपग्रहों का अध्ययन किया है.
  • यह सौर मंडल से बाहर निकलने वाली दूसरी मानव-निर्मित वस्तु है.
  • अब तक Voyager 2 ने सौर मंडल के सभी चार गैस के बने विशाल उपग्रहों – वृहस्पति, शनि, अरुण एवं वरुण – की यात्रा कर ली है.
  • इसने कुल मिलकर 16 चन्द्रमाओं का पता लगाया है.
  • Voyager 2 ने वरुण में पाए जाने वाले विचलनशील रहस्मय वृहद् कृष्ण धब्बे को भी ढूँढ़ निकाला है. इसके अतिरिक्त इसने यूरोपा के हिम-शेल में पड़ी दरार और प्रत्येक ग्रह के रिंगों का भी पता लगाया है.

अंतर-तारकीय अन्तरिक्ष क्या है?

अंतर-तारकीय अन्तरिक्ष का वह हिस्सा है जो तारों के बीच स्थित है. अंतर-तारकीय अन्तरिक्ष कहाँ से शुरू होता है इसके लिए वैज्ञानिक हेलिओपॉज का सहारा लेते हैं. परन्तु सौर मंडल की परिभाषा भिन्न-भिन्न होती है अतः यह हेलिपपॉज Oort Cloud तक फैला हुआ माना जा सकता है. ज्ञातव्य है कि Oort Cloud सूर्य से पृथ्वी की कक्षा की तुलना में 1,000 गुना दूरी पर शुरू होता है.


GS Paper 2 Source: The Hindu

the_hindu_sansar

UPSC Syllabus : Awareness in the fields of IT, Space, Computers, robotics, nano-technology, bio-technology and issues relating to intellectual property rights.

Topic : Kerala Fibre Optic Network Project

संदर्भ

केरल मंत्रिमंडल ने हाल ही में फ़ाइबर ऑप्टिक नेटवर्क (मुफ्त इंटरनेट) परियोजना को मंजूरी दे दी है और दिसंबर 2020 तक पूरा होने का लक्ष्य रखा गया है.

परियोजना के मुख्य तथ्य

  • इस परियोजना से राज्य में गरीबी रेखा से नीचे के लगभग 20 लाख परिवारों को मुफ्त उच्च गति का इंटरनेट कनेक्शन दिया जा सकेगा.
  • इस परियोजना की लागत 1,548 करोड़ रुपये है.
  • यह योजना केरल राज्य विद्युत बोर्ड लिमिटेड और केरल राज्य आईटी इन्फ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड द्वारा स्थापित की जाएगी.
  • परियोजना के लिए वित्तीय सहायता केरल इन्फ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट फंड बोर्ड द्वारा प्रदान की जाएगी.
  • भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड की अगुवाई वाली फर्मों के एक कंसोर्टियम ने परियोजना के लिए निविदा हासिल कर ली है. इंटरनेट सेवा प्रदाता और केबल टेलीविजन ऑपरेटर भी सेवाएं प्राप्त करने के लिए ऑप्टिक फाइबर नेटवर्क से जुड़ सकते हैं.
  • इसमें 30,000 सरकारी कार्यालयों और स्कूलों को हाई-स्पीड नेटवर्क के माध्यम से जोड़ा जाएगा.

माहात्म्य

यह निर्णय केरल के लिए कृत्रिम बुद्धि, ब्लॉकचेन और स्टार्टअप डोमेन में प्रमुख अवसरों के साथ आईटी क्षेत्र में एक बड़ी छलांग लेने की संभावना को खोलेगा. गांवों में, स्थानीय स्व-सहायता समूह ई-कॉमर्स के माध्यम से बिक्री का संचालन करने के लिए नेटवर्क का लाभ उठा सकते हैं. विदित हो कि वर्तमान में, केवल राज्य में लगभग 20% मोबाइल टॉवर ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क के माध्यम से जुड़े हुए हैं. इस परियोजना से राज्य की परिवहन व्यवस्था को सुचारू बनाने में सहायता मिल सकती है.


GS Paper 3 Source: The Hindu

the_hindu_sansar

UPSC Syllabus : Security challenges and their management in border areas; linkages of organized crime with terrorism.

Topic : “No Money for Terror” Conference

संदर्भ

ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न में आयोजित “आतंक के लिए पैसा नहीं” (No Money for Terror) सम्मेलन में घोषणा की गई है कि अगले वर्ष यह सम्मेलन भारत में होगा.

सम्मेलन से सम्बंधित मुख्य तथ्य

  • “आतंक के लिए पैसा नहीं” सम्मलेन 100 देशों वाले The Egmont Group की वित्तीय आसूचना इकाइयों के द्वारा आयोजित होता है.
  • आतंकवादियों के पास पैसा नहीं पहुँचे, इसके लिए अंतर्राष्ट्रीय सहयोग के महत्त्व देखते हुए कुछ वर्ष पहले 100 देशों की वित्तीय आसूचना इकाइयाँ ब्रुसेल्स के एग्मोंट आरेनबर्ग महल में एकत्र हुई थीं जहाँ अंतर्राष्ट्रीय सहयोग को प्रोत्साहित करने के लिए वित्तीय आसूचना इकाइयों के एक अनौपचारिक संजाल की स्थापना का निर्णय लिया गया था. इस संजाल को एग्मोंट ग्रुप का नाम दिया गया.
  • एग्मोंट ग्रुप विश्व को एक ऐसा मंच प्रदान करता है जहाँ प्रतिभागी देश मनी लौन्डरिंग, आतंकवाद के वित्तपोषण और अन्य सम्बद्ध अपराधों से लड़ने के लिए गोपनीय रूप से सूचनाओं का आदान-प्रदान करते हैं.

मनी लौन्डरिंग और आतंकवाद का वित्तपोषण

  • आतंकी और आतंकी संगठन अपने आप को बनाए रखने के लिए पैसा खोजते हैं. उन्हें यह पैसा विभिन्न स्रोतों से मिलता है.
  • पैसा कहाँ से आ रहा है इसे छुपाने में आतंकियों की अधिक रूचि नहीं होती है. वे चाहते हैं कि लोगों को यह पता न चले कि पैसा कहाँ जा रहा है और किसलिए जा रहा है. इसके लिए वे मनी लौन्डरिंग जैसे हथकंडों का प्रयोग करते हैं.
  • यदि मनी लौन्डरिंग का पता चल जाए और उसे रोक दिया जाए तो बहुत सरलता से अपराधियों और आतंकियों का पता चल सकता है और यह भी जाना जा सकता है कि कौन-कौन सी आपराधिक गतिविधियाँ चलाई जा रही हैं. इस प्रकार आतंक से लड़ने में प्रबल सहायता मिल सकती है.

Click here to read Sansar Daily Current Affairs – Sansar DCA

October, 2019 Sansar DCA is available Now, Click to Download

Books to buy

Leave a Reply

Your email address will not be published.