Sansar डेली करंट अफेयर्स, 07 September 2018

Sansar LochanSansar DCA3 Comments

Print Friendly, PDF & Email

Sansar Daily Current Affairs, 07 September 2018


GS Paper 1 Source: PIB

pib_logo

Topic : Battle of Haifa

संदर्भ

उत्तरी इजरायल के तटीय नगर हाइफा (Haifa) ने सितम्बर 6 को प्रथम विश्व युद्ध के दौरान ओटोमन शासन (Ottoman rule) से अपनी मुक्ति की सौंवी वर्षगाँठ मनाई. इस अवसर पर युद्ध में प्राण निछावर करने वाले वीर भारतीय सैनिकों का सम्मान किया गया. विदित हो कि इस दिन 100 वर्ष पहले यहाँ जो युद्ध छिड़ा था उसे इतिहास का ऐसा सबसे अंतिम और बड़ा युद्ध माना जाता है जिसमें घोड़ों का प्रयोग हुआ था.

हाइफा दिवस

भारतीय सेना भी प्रत्येक वर्ष 23 सितम्बर को हाइफा दिवस के रूप में मनाती है और भारत के तीन घुड़सवार रेजिमेंटों – मैसूर, हैदराबाद और जोधपुर लांसर्स – का सम्मान करती है. इन रेजिमेंटों ने 1918 ई. में हाइफा की लड़ाई में ब्रिटिश भारतीय सेना की 15वीं इम्पीरियल सर्विस कैवेलरी ब्रिगेड की ओर से जबरदस्त घुड़सवारी कार्रवाई करते हुए हाइफा को मुक्त कराया था.

हाइफा युद्ध और इसके भारतीय कब्रिस्तान का इतिहास और महत्त्व

  • रेल और बंदरगाह होने के कारण इजरायल का हाइफा नगर रणनीतिक आपूर्ति का अड्डा था.
  • यह उस समय ऑटमन तुर्कों के कब्जे में था.
  • भारतीय घुड़सवार ब्रिगेडों का नेतृत्व ब्रिटिश जनरल Edmund Allenby कर रहे थे.
  • हाइफा की जीत इसलिए विशेष मानी जाती है क्योंकि इसमें लड़ने वाले भारतीय सैनिकों के पास हथियार के रूप में केवल भाले और तलवार ही थे, जबकि दूसरी ओर तुर्कों के पास उन्नत टॉप और मशीनगन थे.

तीन मूर्ति स्मारक

दिल्ली में स्थित तीन मूर्ति स्मारक का निर्माण 1922 ई. में उन भारतीय सैनिकों की स्मृति में किया गया था जिन्होंने प्रथम विश्व युद्ध में ब्रिटिश सेना के तहत वर्तमान के गाजा पट्टी, इजरायल और फिलिस्तीन में लड़ाई की थी. ये सभी सैनिक जोधपुर, हैदराबाद और मैसूर रजवाड़ों के निवासी थे.

GS Paper 1 Source: PIB

pib_logo

Topic : Mobilise Your City (MYC) programme

संदर्भ

भारत और फ़्रांस ने मोबलाइज योर सिटी (MYC) कार्यक्रम के कार्यान्वयन के विषय में एक समझौते पर हस्ताक्षर किये हैं. यूरोपियन संघ ने भारत के MYC (MOBILISE YOUR CITY) कार्यक्रम के लिए 3.5 मिलियन यूरो की आर्थिक सहायता देने की मंजूरी दी है.

MOBILISE YOUR CITY क्या है?

  • MYC (MOBILISE YOUR CITY) वैश्विक जलवायु के लिए की गई एक पहल है जो संयुक्त राष्ट्र वैश्विक जलवायवीय कार्रवाई एजेंडा GCAA (Global Climate Action Agenda) के 15 अंतर्राष्ट्रीय परिवहन विषयक पहलों में से एक है.
  • इस अंतर्राष्ट्रीय पहल को फ़्रांस और जर्मनी की सरकारों का समर्थन प्राप्त है.
  • इसका आरम्भ दिसम्बर 2015 में सम्पन्न 21वें बहुपक्षीय सम्मेलन ( Conference of Parties – COP21) में किया गया था.
  • MYC में नगरों में परिवहन को जलवायुवीय दृष्टिकोण से देखा जाता है. इसके अंतर्गत किसी नगर में यातायात के विभिन्न साधनों का विश्लेषण करते हुए यह प्रयास किया जाता है कि वहाँ लोगों को यातायात के ऐसे अवसर मिलें जो दीर्घकालिक, सतत. पर्याप्त, विश्वसनीय और उचित लागत वाले हों.
  • इस परियोजना में तीन वर्षों में पूरे विश्व के 100 नगरों की परिवहन सेवाओं को पर्यावरण अनुकूल बनाने का प्रस्ताव है जिससे ग्रीनहाउस गैसों का उत्सर्जन घटाया जा सके.
  • जहाँ तक भारत की बात है, MYC के अंतर्गत जो तीन नगर प्रायोगिक रूप में चुने गये हैं, वे हैं – नागपुर, कोच्चि और अहमदाबाद.

MYC के अंतर्गत प्रस्तावित सहायताएँ

MYC कार्यक्रम के अंतर्गत निम्नलिखित सहायता दी जायेगी –

  • सतत नागरिक परिवहन परियोजनाओं के नियोजन तथा कार्यान्वयन को सहायता प्रदान करना.
  • नागरिक यातायात को नियंत्रित, संचालित एवं नियोजित करने के लिए आवश्यक संस्थानों को सुदृढ़ करना.
  • भारत के दूसरे नगरों में अपनाई गई उत्तम प्रथाओं को सीखना.

GS Paper 2 Source: The Hindu

the_hindu_sansar

Topic : Section 377

संदर्भ

सर्वोच्च न्यायालय में कई ऐसी याचिकाओं पर विचार चल रहा था जिनमें भारतीय दंड सहिंता के अनुभाग 377, जो समलैंगिक यौनाचार को दंडनीय बताता है, की संवैधानिक वैधता को चुनौती दी गई थी.

हाल ही में सर्वोच्च न्यायालय में इस विषय में अंतिम निर्णय दे दिया है.

निर्णय और उसका महत्त्व

  • न्यायालय ने कहा कि सहमति से वयस्कों द्वारा किया गया समलैंगिक यौनाचार अपराध नहीं है. विदित हो कि 2013 में सर्वोच्च न्यायालय ने इसके उलट पारित किया था.
  • आदेश में यह कहा गया कि पशुओं के साथ किया गया किसी प्रकार का यौनाचार पूर्ववत भारतीय दंड सहित के अनुभाग 377 के अंतर्गत दंडनीय रहेगा.
  • सर्वोच्च न्यायालय का यह निर्णय संविधान के अनुच्छेद 14 (समानता का अधिकार), अनुच्छेद 15 (भेदभाव का प्रतिषेध), अनुच्छेद 19 (अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता) और अनुच्छेद 21 (जीने एवं एकांत का अधिकार) की व्याख्या पर आधारित है.

अनुच्छेद 377 क्या है?

1862 से लागू भारतीय दंड संहिता (Indian Penal Code – IPC) के अनुभाग 377 में अप्राकृतिक अपराधों की परिभाषा दी गई है. इसमें वर्णित है कि जो भी स्वेच्छा से प्रकृति के व्यवस्था के विरुद्ध किसी मनुष्य, स्त्री अथवा पशु के साथ यौनाचार करता है उसे आजीवन कारावास का दंड अथवा 10 वर्षों तक सश्रम अथवा सामान्य कारावास का दंड दिया जा सकता है और जुर्माना भी लगाया जा सकता है.

GS Paper 2 Source: PIB

pib_logo

Topic : Atal Pension Yojana

संदर्भ

केन्द्रीय मंत्रीमंडल ने अगस्त 2018 में समाप्त हो रही अटल पेंशन योजना को अनिश्चित काल के लिए विस्तारित करने का निर्णय लिया है. ऐसा इस योजना में लोगों की भागीदारी को ध्यान में रखते हुए किया गया है.

योजना में नए परिवर्तन

  • इसमें उम्र की सीमा में बदलाव लाया गया है. पहले इसका लाभ 60 वर्ष तक की उम्र का व्यक्ति उठा सकता था पर अब यह आयु सीमा 65 वर्ष कर दी गई है क्योंकि लोगों की औसत आयु में वृद्धि हुई है.
  • पहले यह योजना परिवारों पर केन्द्रित थी पर अब व्यक्तिगत पेंशन भी दिया जा सकेगा.
  • अगस्त 2018 के बाद खोले गये नए खातों के लिए 2 लाख रु. तक की दुर्घटना बीमा दी जायेगी जबकि पहले इसके लिए 1 लाख रु. की ही बीमा थी.
  • इस योजना के लिए ओवरड्राफ्ट सुविधा को 5 हजार रु. से बढ़ाकर 10 हजार रु. कर दी गई है.

अटल पेंशन योजना

  • इस योजना के तहत, एक ग्राहक को 60 वर्ष (अब 65) के हो जाने पर प्रति माह 1000 रुपये से 5000 रुपये की न्यूनतम गारंटी वाली पेंशन प्राप्त होगी. पेंशन की राशि उसके द्वारा दिए गए योगदान की मात्रा पर निर्भर होगी.
  • यदि ग्राहक की मृत्यु हो जाती है तो उसके पत्नी उतनी ही राशि मिला करेगी जो उसके पति को मिला करती थी. यदि दोनों की मृत्यु हो जाती है तो पेंशन एकमुश्त रूप में nominee को दिया जायेगा.

GS Paper 2 Source: The Hindu

the_hindu_sansar

Topic : Programme for International Student Assessment (PISA)

संदर्भ

केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्रालय ने 9 वर्षों के अंतराल के बाद यह निर्णय लिया है कि भारत PISA में भागीदारी करेगा. PISA का full form है – Programme for International Student Assessment अर्थात् अंतर्राष्ट्रीय छात्र मूल्यांकन कार्यक्रम.

इसके लिए भारत पेरिस में अपने अधिकारी भेजेगा जो वहाँ PISA 2021 में भागीदारी के लिए भारत के शर्तों के विषय में बात करेगा.

पृष्ठभूमि

भारत ने PISA 2009 ई. में भाग लिया था परन्तु इसमें भागीदारी करने वाले 74 देशों में इसका स्थान 72वाँ आया था. तत्कालीन भारत सरकार का विचार था कि इसमें संदर्भ से हटकर प्रश्न पूछे गये थे जिसके कारण भारत का प्रदर्शन निराशाजनक रहा. इसलिए सरकार ने PISA का बहिष्कार कर दिया था.

PISA क्या है?

  • PISA छात्रों का एक मूल्यांकन कार्यक्रम है जिसमें 15 वर्ष के बच्चों की पढ़ने, गणित हल करने और विज्ञान की जानकारी परीक्षा हर तीसरे वर्ष ली जाती है.
  • सबसे पहली बार PISA 2000 ई. में आयोजित हुई थी.
  • मूल्यांकन परीक्षा में अलग-अलग चक्रों में कभी पढ़ने की क्षमता, कभी गणित हल करने की क्षमता तो कभी विज्ञान की समझ की क्षमता पर मुख्य बल दिया जाता है.
  • PISA में मिल जुलकर समस्या के हल की क्षमता को भी शामिल किया जाता है.
  • PISA की रूपरेखा ऐसी बनाई गई है कि उन छात्रों की क्षमता की जाँच हो सके जो स्कूल की पढ़ाई लगभग पूरी करने के कगार पर हैं.
  • पीसा का समन्वयन औद्योगिकृत देशों के एक अंतर-सरकारी संगठन – Organization for Economic Cooperation and Development (OECD)द्वारा किया जाता है और इसका संचालन अमेरिका में NCES द्वारा किया जाता है.
  • 2012 के PISA परीक्षा में चीन के शंघाई नगर के स्कूल शीर्ष पर रहे और उसके ठीक पीछे सिंगापुर का स्थान था.
  • 2015 की परीक्षा में शीर्ष पर सिंगापुर, जापान और एस्टोनिया के शहर रहे.

GS Paper 2 Source: The Hindu

the_hindu_sansar

Topic : COMCASA

संदर्भ

हाल ही में भारत और अमेरिका के बीच पहला 2+2 संवाद हुआ. इसमें COMCASA नामक समझौते पर हस्ताक्षर किये गये.

COMCASA क्या है?

  • COMCASA का full form है – Communications Compatibility and Security Agreement अर्थात् संचार अनुरूपता एवं सुरक्षा समझौता.
  • COMCASA उन चार आधारभूत समझौतों में से एक है जिसे अमेरिका अपने मित्र देशों और निकटस्थ सहभागीयों के साथ हस्ताक्षरित करता है जिससे कि उन देशों के सेनाएँ साथ-साथ कार्रवाई करने की स्थिति में आएँ. ऐसे समझौते अति उन्नत तकनीकों की बिक्री के लिए भी होते हैं.
  • कोमकासा भारत के लिए गढ़ा हुआ CISMOA (Communication and Information on Security Memorandum of Agreement) का एक संस्करण है जो तुरंत लागू हो जाता है और दस वर्षों के लिए वैध रहता है.
  • कोमकासा अमेरिका के सैन्य मंचों, जैसे – C-17, C-130 और P-8Is, के लिए संचार व्यवस्था हेतु विशेष उपकरण भारत को मुहैया करने की मंजूरी देता है.

COMCASA के लाभ

  • COMCASA समझौता हो जाने पर अमेरिका को यह कानूनी अधिकार मिल जाता है कि वह अपने संवेदनशील संचार उपकरणों को भारत को स्थानांरित कर सके.
  • इससे भारत को अमेरिकी गुप्त एजेंसियों के विशाल डेटाबेस और तात्क्षणिक इमेजरी तक पहुँचने की सुविधा प्राप्त हो जायेगी.
  • COMCASA का निहितार्थ यह है कि भारत अब चीन और पाकिस्तान की सैन्य तैनातियों के विषय में अमेरिका के पास उपलब्ध तात्क्षणिक सूचनाओं का उपयोग कर सकेगा.
  • COMCASA के माध्यम से भारत अमेरिका के समुद्र रक्षक (Sea Guardian) सशस्त्र ड्रोन प्राप्त कर सकेगा.

Prelims Vishesh

Kendriya Hindi Samiti :-

  • हाल ही में नई दिल्ली में प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय हिंदी समिति की 31वीं बैठक सम्पन्न हुई.
  • ज्ञातव्य है कि केन्द्रीय हिंदी समिति 1967 ई. में गठित हुई थी.
  • हिंदी के भारतीय संघ की राजभाषा के रूप में प्रचार-प्रसार के लिए मार्गनिर्देश देने वाली यह समिति सबसे सर्वोच्च समिति है.

SLINEX-2018 :-

  • हाल ही में श्रीलंका के Trincomalee में SLINEX 2018 नामक नौसैनिक अभ्यास हुआ जिसमें भारत और श्रीलंका के नौसैनिक शामिल थे.
  • SLINEX 2005 में आरम्भ हुआ था.
  • यह पहले दो साल में एक बार और अब हर वर्ष आयोजित होता है.

 

Click here to read Sansar Daily Current Affairs – Sansar DCA

Books to buy

3 Comments on “Sansar डेली करंट अफेयर्स, 07 September 2018”

  1. Sir ji maine june se september tak ke pdf ke liye shulk jama kiya tha lekin abhi tak ushaka pata nahi chala.

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.