Sansar डेली करंट अफेयर्स, 01 April 2021

Sansar LochanSansar DCALeave a Comment

Sansar Daily Current Affairs, 01 April 2021


GS Paper 2 Source : Indian Express

indian_express

UPSC Syllabus : India and its neighbourhood- relations. Bilateral, regional and global groupings and agreements involving India and/or affecting India’s interests

Topic : Teesta Water-Sharing Pact

संदर्भ

भारत और बांग्लादेश व्यापार के समक्ष व्युत्पन्‍न होने वाली गैर-प्रशुल्क बाधाओं (non-tariff barriers) के निवारण के लिए सहमत हो गये हैं.

पृष्ठभूमि

हाल ही में भारत के प्रधानमंत्री ने बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान की जन्म शताब्दी के अवसर पर बांग्लादेश की यात्रा की और वे वर्ष 1971 के मुक्ति संग्राम की स्वर्ण जयंती के उत्सव में भी सम्मिलित हुए थे.

बांग्लादेश यात्रा के प्रमुख निष्कर्ष

  • दोनों देश द्विपक्षीय व्यापार को बढ़ाने के लिए गैर-प्रशुल्क बाधाओं के निवारण हेतु सहमत हुए हैं.
  • व्यापक आर्थिक भागीदारी समझौते (Comprehensive Economic Partnership Agreement: CEPA) की व्यवहार्यता पर संयुक्त फास्ट-ट्रैक अध्ययन संचालित किया जाएगा.
  • आपदा प्रबंधन, द्विपक्षीय व्यापार समाधान, सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी उपकरण आपूर्ति, खेल परिसरों की स्थापना तथा दोनों देशों के राष्ट्रीय कैडेट कोर (NCC) के मध्य समझौता ज्ञापन सहित कुल 5 समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किए गए.
  • व्यापार नीतियों, विनियमों और प्रक्रियाओं के पूर्वानुमान की आवश्यकता पर बल दिया गया.
  • बांग्लादेश ने बांग्लादेश से जारी उद्भव के प्रमाण-पत्रों के सत्यापन के लिए भारतीय सीमा शुल्क की नई नीति को प्रतिस्थापित करने का अनुरोध किया.
  • भारत और बांग्लादेश दोनों देश छह साझा नदियों अर्थात् मनु, मुहुरी, खोवाई, गुमटी, धारला और दुधकुमार के जल के बँटवारे पर अंतरिम समझौते की रूपरेखा को अंतिम रूप प्रदान करने पर सहमत हुए.

आर्थिक सम्बन्ध

  • बांग्लादेश दक्षिण एशिया में भारत का सबसे बड़ा व्यापार भागीदार देश है. वित्त वर्ष 2018-19 (अप्रैल-मार्च) की अवधि में भारत से बांग्लादेश को  9.21 बिलियन अमेरिकी डॉलर की वस्तुओं का निर्यात किया गया तथा उसी अवधि में बांग्लादेश से भारत को 1.22 बिलियन अमेरिकी डॉलर का आयात किया गया.
  •  वर्ष 2011 के बाद से दक्षिण एशियाई मुक्त व्यापार क्षेत्र (South Asian Free Trade Area- SAFTA) के तहत भारत द्वारा बांग्लादेशी निर्यात को दी गई शुल्क मुक्त पहुंँच की बांग्लादेश द्वारा सराहना की गई है.

बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान कौन हैं?

  • यह बांग्लादेश के संस्थापक नेता, महान अगुआ एवं प्रथम राष्ट्रपति थे.
  • बांग्लादेश के संस्थापक रहमान को “शेख़ मुजीब”बंगबंधु’ या बंगाली राष्ट्रपिता के रूप में भी जाना जाता है.
  • वे अवामी लीग के अध्यक्ष थे. उन्होंने पाकिस्तान के विरुद्ध सशस्त्र संग्राम की अगुवाई करते हुए बांग्लादेश को मुक्ति दिलाई.
  • बांग्लादेश की मुक्ति के 3 वर्ष के अन्दर ही 15 अगस्त 1975 को सैनिक तख़्तापलट के द्वारा उनकी हत्या कर दी गई.
  • उनकी दो बेटियों में एक शेख हसीना तख़्तापलट के पश्चात् जर्मनी से दिल्ली आईं और 1981 तक दिल्ली रही तथा 1981 के पश्चात् बांग्लादेश जाकार पिता की राजनैतिक विरासत को संभाला.
  • 15 अगस्त 1975 की सुबह बांग्लादेश की सेना के कुछ बाग़ी युवा अफ़सरों के हथियारबंद दस्ते ने ढाका स्थित राष्ट्रपति आवास पर पहुँच कर राष्ट्रपति शेख़ मुजीबुर रहमान को मार डाला. हमलावर टैंक लेकर गए थे. पहले उन लोगों ने बंगबंधु मुजीबुर रहमान के बेटे शेख़ कमाल को मारा और उसके बाद मुजीब और उनके अन्य परिजनों को. मुजीब के सभी तीन बेटे और उनकी पत्नी की बारी-बारी से हत्या कर दी गई.
  • हमले में कुल 20 लोग मारे गए थे. मुजीब शासन से बगावती सेना के जवान हमले के समय कई दस्तों में बंटे थे. अप्रत्याशित हमले में मुजीब परिवार का कोई पुरुष सदस्य नहीं बचा. उनकी दो बेटियाँ संयोगवश बच गईं, जो घटना के समय जर्मनी में थीं. उनमें एक शेख हसीना और दूसरी शेख़ रेहाना थीं. शेख़ हसीना वर्तमान में बांग्लादेश की प्रधानमंत्री हैं.
  • अपने पिता की हत्या के बाद शेख़ हसीना हिन्दुस्तान में बस गई थीं. वहीं से उन्होंने बांग्लादेश के नए शासकों के विरुद्ध अभियान चलाया. 1981 में वह बांग्लादेश लौटीं और सर्वसम्मति से अवामी लीग की अध्यक्ष चुन ली गयीं.

GS Paper 3 Source : The Hindu

the_hindu_sansar

UPSC Syllabus : Effects of liberalization on the economy, changes in industrial policy and their effects on industrial growth.

Topic : PLI Scheme to Promote Food Processing

संदर्भ

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में केंद्रीय योजना “खाद्य प्रसंस्करण उद्योग के लिए उत्पादन से जुड़ी प्रोत्साहन योजना को स्वीकृति दी गई.

खाद्य प्रसंस्करण उद्योग के लिए उत्पादन से जुड़ी प्रोत्साहन योजना

  • इस योजना में 10,900 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है और इसका उद्देश्य देश को वैश्विक स्तर पर खाद्य विनिर्माण क्षेत्र में अग्रणी स्थान पर लाना है तथा अंतर्राष्ट्रीय बाजार में भारतीय खाद्य उत्पादों के ब्रांडों को बढ़ावा देना है.
  • पीएलआई योजना चार प्रमुख खाद्य उत्पाद खंडों के विनिर्माण को प्रोत्साहित करेगी – रेडी मेड खाद्य पदार्थ, प्रसंस्कृत फल और सब्जियाँ, समुद्री उत्पाद और मोज़ेरेला चीज़.
  • सरकार ने एक विज्ञप्ति में कहा है कि छोटे और मध्यम उद्यमों (SME) के नवीन और जैविक उत्पाद, जिनमें फ्री रंज-अंडे, पोल्ट्री मीट, अंडा उत्पाद भी शामिल हैं, को भी कवर किया जाएगा.

उत्पादन-लिंक्ड प्रोत्साहन योजना

सरकार द्वारा घरेलू विनिर्माण को बढ़ावा देने के लिये शुरू की गई उत्पादन-लिंक्ड प्रोत्साहन’ (Production-Linked Incentive-PLI) योजना का विस्तार शीघ्र ही आठ और अन्य क्षेत्रों में किया जाएगा. 

मुख्य बिंदु

  • PLI एक आगत उन्मुख (output-oriented) योजना है जिसमें निर्माता/उत्पादक यदि किसी सामान का उत्पादन करता है तो उसे केवल प्रोत्साहन (Incentives) राशि का भुगतान किया जाएगा.
  • इस योजना के अंतर्गत पाँच से सात वर्षों के लिये नकद प्रोत्साहन राशि दी जाएगी जिसमें सभी उभरते हुए (Sunrise) महत्त्वपूर्ण क्षेत्रों को शामिल किया जाना प्रस्तावित है.
  • इन विनिर्माण क्षेत्रों में ऑटोमोबाइल, नेटवर्किंग उत्पाद, खाद्य प्रसंस्करण, उन्नत रसायन विज्ञान और सोलर पॉवर सिस्टम शामिल हो सकते हैं.

GS Paper 3 Source : Indian Express

indian_express

UPSC Syllabus : Indian Economy and issues relating to planning, mobilization of resources, growth, development and employment.

Topic : Foundation year of RBI

संदर्भ

प्रतिवर्ष 1 अप्रैल को भारतीय रिज़र्व बैंक का स्थापना दिवस मनाया जाता है, इसकी स्थापना 1 अप्रैल, 1935 को की गई थी.

भारतीय रिजर्व बैंक के बारे में

  • भारतीय रिज़र्व बैंक अधिनियम, 1934 के प्रावधानों के अनुसार 1 अप्रैल 1935 को भारतीय रिज़र्व बैंक की स्थापना हुई थी.
  • इससे पहले इंपीरियल बैंक ऑफ इंडिया अधिनियम, 1920 के माध्यम से इंपीरियल बैंक ऑफ इंडिया की स्थापना 1921 में हुई थी जिसने तीन प्रेसीडेंसी बैंकों को एक मजबूत बैंक में मिला दिया था. केंद्रीय बैंक के सभी कार्य इंपीरियल बैंक ऑफ इंडिया (Imperial Bank of India) द्वारा किए जा रहे थे.
  • बाद में हिल्टन यंग कमीशन ने सिफारिश की कि केंद्रीय बैंक को अलग से बनाया जाना चाहिए.
  • प्रारंभ में यह निजी स्वमित्व वाला था, स्वतंत्रता पश्चात्‌ भारतीय रिजर्व बैंक का राष्ट्रीयकरण वर्ष 1949 में हुआ और 1 जनवरी, 1949 से आरबीआई ने सरकारी स्वामित्व वाले बैंक के रूप में काम करना शुरू किया.
  • केन्द्रीय कार्यालय: मुंबई

भारतीय रिजर्व बैंक के प्रमुख कार्य

  • मौद्रिक नीति तैयार करना, उसका कार्यान्वयन और निगरानी करना.
  • वित्तीय प्रणाली का विनियमन और पर्यवेक्षण करना.
  • विदेशी मुद्रा का प्रबन्धन करना.
  • मुद्रा जारी करना, उसका विनिमय करना और परिचालन योग्य न रहने पर उन्हें नष्ट करना.
  • सरकार का बैंकर और बैंकों का बैंकर के रूप में काम करना.
  • साख नियन्त्रित करना.

GS Paper 3 Source : Indian Express

indian_express

UPSC Syllabus : Conservation issues.

Topic : African Elephants

संदर्भ

IUCN की लाल सूची के अनुसार अफ्रीकी हाथी की प्रजातियाँ अब एंडेंजर्ड और क्रिटिकली एंडेंजर्ड हैं. सवाना हाथी को अंतर्राष्ट्रीय प्रकृति संरक्षण संघ (IUCN) द्वारा “एंडेंजर्ड” (लुप्तप्राय) के रूप में वर्गीकृत किया गया है और इसकी तुलना में छोटे आकार के अल्प वजनी वन्य हाथी (Forest Elephant) को “क्रिटिकली एंडेंजर्ड” (गंभीर रूप से लुप्तप्राय) के रूप में वर्गीकृत किया गया है.

  • ये दोनों अफ्रीकी हाथियों की उप-प्रजातियाँ हैं.
  • दोनों प्रजातियों को हाथी दांत के लिए अवैध शिकार और पर्यावास के मानवीय अतिक्रमण से खतरा है.

सवाना हाथी और वन्य हाथी के बारे में

वन्य हाथी मध्य अफ्रीका के उष्णकटिबंधीय वनों में और पश्चिम अफ्रीका के पर्यावास स्थलों में पाए जाते हैं. सवाना हाथी उप-सहारा अफ्रीका में घास के मैदानों और मरुस्थलों में विभिन्‍न प्रकार के पर्यावासों में पाए जाते हैं.

एशियाई हाथी

  • यह हाथी भारत, नेपाल, बांग्लादेश, भूटान और म्यांमार में पाया जाता है.
  • IUCN में इसे संकटग्रस्त” (Endangered) की पदवी मिली हुई है.
  • इसके अतिरिक्त यह निम्नलिखित प्रलेखों में भी सूचीबद्ध है – संकटग्रस्त वन्य जीव एवं वनस्पति अंतर्राष्ट्रीय व्यापार संधि (CITES) तथा भारतीय वन्यजीव सुरक्षा अधिनियम, 1972 की अनुसूची

भारतीय हाथी के बारे में

  • हाथियों के झुंड में सबसे वृद्ध मादा सदैव प्रमुख होती है.
  • मादा हाथी 60 से 70 वर्ष तक जीवित रहती है.
  • सभी स्तनघारियों में हाथियों के गर्भधारण की अवधि सबसे लंबी (22 माह) होती है.

Prelims Vishesh

Saraswati Samman :

  • प्रसिद्ध मराठी लेखक डॉ. शरणकुमार लिम्बाले को उनकी पुस्तक “सनातन” के लिए सरस्वती सम्मान 2020 से सम्मानित किया गया है.
  • यह पुरस्कार प्रतिवर्ष के.के. बिरला फाउंडेशन द्वारा साहित्य के लिए दिया जाता है जिसमें एक प्रशस्ति पत्र, एक अभिलेख और 15 लाख रु. मिलते हैं.

Vajra Prahar :-

  • अमेरिका और भारत के स्पेशल फोर्सेज के मध्य हाल ही में हिमाचल प्रदेश के चम्बा जिले के बकलोह में “वज्र प्रहार” अभ्यास के 11वें संस्करण का आयोजन किया गया.
  • इस सैन्य अभ्यास में भारत और अमेरिका के विशेष सैनिक संयुक्त रूप से भाग लेते हैं.
  • ये सैन्य अभ्यास कभी भारत तो कभी अमेरिका में सपन्न होते रहते हैं.

Click here to read Sansar Daily Current Affairs – Current Affairs Hindi

February, 2020 Sansar DCA is available Now, Click to Download

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.