पंचायती राज – ग्राम पंचायत, पंचायत समिति और जिला परिषद्

RuchiraIndian Constitution, Polity Notes55 Comments

panchayat-raj-3-tier

भारतीय संविधान में शासन चलाने से सम्बन्धित कुछ निर्देशक सिद्धांतों का भी उल्लेख है. इन्हें Directive Principles of State Policy कहते हैं. इन सिद्धांतों में से एक सिद्धांत यह है कि भारत की सरकार देश में ग्राम स्वशासन के दिशा में कार्रवाई करे. इस निर्देश के अनुपालन के लिए 1992 में संविधान में 73वाँ संशोधन किया गया. भारत में 24 … Read More

[Quiz] Niti Nirdeshak Tatva se Sambandhit Sawal Jawab

RuchiraUncategorized2 Comments

टॉपिक: Niti Nirdeshak Tatva se Sambandhit Sawal Jawab कुल सवाल: 10 पास मार्क्स: 50% [alert-success]नोट: Niti Nirdeshak Tatva se Sambandhit Sawal Jawab के इस MCQ को सोल्व करने से पहले यह पोस्ट जरुर पढ़ लें:> राज्य के नीति-निर्देशक तत्त्व (Directive Principles) के विषय में जानें. तब जाकर आप इन प्रश्नों का सही-सही हल कर सकेंगे.[/alert-success]

राज्य के नीति-निर्देशक तत्त्व (Directive Principles) के विषय में जानें

RuchiraIndian Constitution, Polity Notes5 Comments

indian_farmer_village

संविधान के चतुर्थ अध्याय में राज्यों के लिए कुछ निर्देशक तत्त्वों (directive principles) का वर्णन है. ये तत्त्व आयरलैंड के संविधान से लिए गए हैं. ये ऐसे उपबंध हैं, जिन्हें न्यायालय का संरक्षण प्राप्त नहीं है. अर्थात्, इन्हें न्यायालय के द्वारा बाध्यता नहीं दी जा सकती. तब प्रश्न यह उठता है कि जब इन्हें न्यायालय का संरक्षण प्राप्त नहीं है, … Read More

Rowlatt Act (1919) क्या है? जानिए in Hindi

Dr. SajivaHistory, Modern History23 Comments

rowlatt-act

1918 के नवम्बर मास में यूरोप का पहला महायुद्ध समाप्त हो चुका था. जर्मनी और उसके साथियों को पूरी तरह परास्त करके वह पक्ष जीत गया था , जिसका सबसे बड़ा भागीदार ब्रिटेन था. इस जीत ने भारत के वातावरण को बिल्कुल बदल दिया था. युद्ध के दिनों अँगरेज़ शासकों में जो थोड़ा-बहुत भी विनय का भाव दिखता था, विजय … Read More

प्रथम विश्वयुद्ध – First World War [1914-18]

Dr. SajivaHistory, World History22 Comments

world_war

प्रथम विश्वयुद्ध की भूमिका (Background of First World War) 1914-18 ई. का प्रथम विश्वयुद्ध (First World War) साम्राज्यवादी राष्ट्रों की पारस्परिक प्रतिस्पर्द्धा का परिणाम था. प्रथम विश्वयुद्ध का सबसे महत्त्वपूर्ण कारण गुप्त संधि प्रणाली थी. यूरोप में गुप्त संधि की प्रथा जर्मन चांसलर बिस्मार्क ने शुरू की थी. इसने यूरोप  को दो विरोधी गुटों में विभाजित कर दिया. दो गुटों … Read More

[Quiz] उच्चतम न्यायालय: MCQ on Supreme Court

Sansar LochanQuiz18 Comments

टॉपिक: उच्चतम न्यायालय (Supreme Court of India) कुल सवाल: 12 पास मार्क्स: 50% [alert-announce]नोट: उच्चतम नयायालय के इस MCQ को सोल्व करने से पहले यह पोस्ट जरुर पढ़ लें:> सर्वोच्च न्यायालय के विषय में जानकारियाँ. तब जाकर आप इन प्रश्नों का सही-सही हल कर सकेंगे.[/alert-announce] अपना मार्क्स कमेंट में जरुर शेयर करें. अन्य Quiz/MCQ के लिए क्लिक करें:>>> GK Quiz: सामान्य ज्ञान क्विज

सर्वोच्च न्यायालय के विषय में जानकारियाँ

RuchiraIndian Constitution, Polity Notes26 Comments

उच्चतम न्यायालय
संघात्मक शासन के अंतर्गत सर्वोच्च, स्वतंत्र और निष्पक्ष न्यायालय का होना आवश्यक बताया जाता है. भारत भी एक संघीय राज्य है और इसलिए यहाँ भी एक संघीय न्यायालय का प्रावधान है, जिसे सर्वोच्च न्यायालय कहते हैं. सर्वोच्च न्यायालय संविधान का व्याख्याता, अपील का अंतिम न्यायालय, नागरिकों के मूल अधिकारों का रक्षक, राष्ट्रपति का परामर्शदाता और संविधान का संरक्षक है. भारतीय न्यायव्यवस्था के शीर्ष ... Read More

जून 2016 Schemes in Hindi- भारत सरकार

RuchiraGovt. Schemes (Hindi)5 Comments

sarkari_yojna

इस पोस्ट में मैं जून महीने (June) में केंद्र सरकार (Central Government) और कुछ राज्य सरकारों (State Governments) द्वारा लांच की गई योजनाओं के बारे में बताने जा रही हूँ जिनके विषय में UPSC और PCS परीक्षा में प्रश्न पूछे जा सकते हैं. 1. स्मार्ट विलेज कार्यक्रम (Smart Village Program) यह योजना गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल द्वारा लांच की गयी. इस योजना … Read More

राष्ट्रपति का निर्वाचन, शक्ति, कार्यकाल और विशेषाधिकार

RuchiraIndian Constitution, Polity Notes24 Comments

indian_presidents

भारत के संविधान में औपचारिक रूप से संघ की कार्यपालिका की शक्तियाँ राष्ट्रपति को दी गयी है. पर वास्तव में प्रधानमंत्री के नेतृत्व में बनी मंत्रिपरिषद् के माध्यम से राष्ट्रपति इन शक्तियों का प्रयोग करता है. वह पाँच वर्ष के लिए चुना जाता है. राष्ट्रपति पद के लिए सीधा जनता के द्वारा निवार्चन नहीं होता. उसका निर्वाचन अप्रत्यक्ष तरीके से होता … Read More