छात्रों के अनुरोध पर पुनः लाया गया PDF फीचर

Sansar LochanMan Ki Baat23 Comments

Print Friendly, PDF & Email

कुछ दिनों से मैंने प्रत्येक आर्टिकल पर दिए जाने वाले PDF download केऑप्शन को हटा दिया था. छात्रों के हजारों ईमेल मिले कि इस सुविधा को पुनर्जीवित किया जाए, उन्हें असुविधा हो रही है. दरअसल कई दिनों से कुछ शैक्षणिक संस्थान (नाम लेना उचित नहीं समझता, आप  गूगल में खुद पता लगा सकते हैं), जो दिल्ली मुखर्जी नगर में फल-फूल रहे हैं, वे हमारे Sansar DCA वाले कंटेंट को आँख-मूँद कर कॉपी-पेस्ट किये जा रहे थे जिन्हें हमने लीगल नोटिस भी भेजने का निर्णय लिया है.

वे इस सुविधा का गलत फायदा उठा रहे थे. कुछ छात्र भी हमारे कंटेंट को फेसबुक ग्रुप आदि में बिना स्रोत बताये और लोगो मिटाकर अपना कंटेंट बताते हुए इधर-उधर शेयर करने में लगे हैं.

इससे हमारी वेबसाइट के स्वास्थ्य पर हानि पहुँचती है. इसलिए आप लोगों से आग्रह है कि जो ऐसा कुकृत्य कर रहे हैं, कृपया इसे बंद करें क्योंकि हमारे वेबसाइट के हर कंटेंट को कॉपीराइट प्राप्त है. यदि हम चाहें तो इन अधर्मियों के विरुद्ध कदम भी उठा सकते हैं. इसलिए कम-से-कम छात्रों  (जो कोई संस्थान नहीं है, एक आम नागरिक हैं) से अनुरोध है कि जब भी आप हमारा कंटेंट शेयर करें तो उसमें सौजन्य से : sansarlochan.in या हमारा लिंक जरुर दें.

कुछ लोगों के कुकृत्य के चलते हमारे प्रिय छात्रों को असुविधा भुगतनी पड़ती है जो मेरे लिए असहनीय है. इसलिए हमने डाउनलोड पीडीऍफ़ केऑप्शन को फिर से जीवित कर दिया है.

प्रधान संपादक

sansar_lochan_signature

संसार लोचन

Books to buy

23 Comments on “छात्रों के अनुरोध पर पुनः लाया गया PDF फीचर”

  1. Thanks sir for taking this regard
    Please provide some material for jpsc exam
    I am from Jharkhand (jhumritelaiya)

  2. बहुत बहुत शुक्रिया आप सभी संसार लोचन ग्रुप को , हमारे लिए इस सुविधा को पुनः लाने के लिए 🙏🙏🙏

  3. KKUPSC telegram pe hum yhi cheej dekhe h the hindu ka zerox lakin yha jo raat my aata h wha 1 din baad morning my
    sir pdf provide krne leye very thanks bhut problem ho gaya tha

  4. आपकी वेबसाइट मेरे मित्र मंडली में काफी पसंद की जाती है।
    आपसे आशा है कि आप इसे बंद नही करेंगे और साथ ही The Hindu समेत अन्य महत्वपूर्ण स्रोतों से भी CONTENT उपलब्ध कराएंगे।
    धन्यवाद।

  5. बहुत धन्यवाद आपका
    ऐसा करने वालों को शर्म आनी चाहिए

  6. बहुत बहुत शुक्रिया आप सभी संसार लोचन ग्रुप को , हमारे लिए इस सुविधा को पुनः लाने के लिए 🙏🙏🙏

  7. Sir mujhe shuru me laga ki aap chahte ho ki Dca log pay kar ke khareede islie aapne ye option band kar diya. Par mai galat tha. M sorry

    Mai apka DCA humesha kharidta hu just for contribution and mujhe apne is nek kaam se khud me khushi milti hai

  8. Sir yadi mere paas debit card ki suwidha hoti to mai apke monthly magazine jarur kharidati. par mujhe debit card ke lie apne papa se maanga padta hai jo mujhe sirf exam form bharne ke lie dete hain.

    Apko dil se thanks , thank u so so soo much

    1. hi rubina…. sorry to disturb u… but i have to do that….. ye option kaha pe aara h.. can u plz tell me…

  9. Thanks a lot sir. A very big thank you. content ke background me es webside ka naam add koya ja skta h sir….

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.